जब काम करने से नहीं रोक पाई तो भाजपा केजरीवाल पर हमले करवाने लग पड़ी: योगेश्वर शर्मा

file photo of Arvind Kejriwal

दिल्ली पुलिस जानबूझकर केंद्र सरकार के इशारे पर केजरीवाल पर हमले होने दे रही है,क्योंकि भाजपा को अब सिर्फ और सिर्फ अरविंद केजरीवाल से ही डर लगता है और शायद इसी लिए वह केजरीवाल को जानबूझकर मरवाने का षडयंत्र कर रही है।

पंचकूला,10 फरवरी।  आम आदमी पार्टी का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी आप कन्वीनर एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरङ्क्षवद केजरीवाल की बढ़ती लोकप्रियता से इतनी परेशान है कि वह अपने लोगों से उन पर जानबूझकर हमले करवाती है। पार्टी का कहना है कि यह एक मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर किये जाने वाले प्रबंधों पर भी प्रश्र चिन्ह लगाता है  कि एक मुख्यमंत्री के   कार्यक्रम में भाजपा के लोग डंडे लेकर पहुंच जाते हैं। ऐसा पहली बार नहीं बल्कि पांचवी बार हुआ है कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सेंधमारी कर किसी ने उन पर हमला किया हो। पार्टी का कहना है कि दिल्ली पुलिस जानबूझकर केंद्र सरकार के इशारे पर केजरीवाल पर हमले होने दे रही है,क्योंकि भाजपा को अब सिर्फ और सिर्फ अरविंद केजरीवाल से ही डर लगता है और शायद इसी लिए वह केजरीवाल को जानबूझकर मरवाने का षडयंत्र कर रही है। मगर आप इसके कतई बर्दाश्त नहीं करेगी और गृहमंत्रालय से इसका जबाब मांगेगी।

 आज यहां जारी एक ब्यान में आप के लोकसभा अंबाला एवं जिला पंचकूला के प्रधान योगेश्वर शर्मा ने कहा कि शुक्रवार को दिल्ली के नरेला में भाजपा के लोगों ने भीड़ की शक्ल में हमला करने का प्रयास किया, यह एक सोची समझी साजिश के तहत हुआ है। क्योंकि मुख्यमंत्री के काफिले के रुट की क्लीयरेंस होने के बावजूद अगर भीड़ उन पर हमला करने पहुंच गई तो यह बात साफ है कि उन्हें जानबूझकर जाने दिया गया। उन्होंने कहा कि वह अपनी पार्टी आलाकमान से बात कर इस बारे में गृहमंत्रालय को पत्र लिखकर इसका जबाब मंगवायेंगे। उन्होंने कहा कि पहले भी भाजपा के एक कार्याकर्ता द्वारा केजरीवाल पर मिर्ची पाउडर से सचिववालय में हमला करवाया गया था। उन्होंने कहा कि अब तक तो भाजपा अरविंद केजरीवाल को सिर्फ काम करने से ही रोकती आई है, मगर जब उसे इसमें भी सफलता नहीं मिली और लोगों के बीच उनकी लोकप्रियता बढऩे लगी तो भाजपा इस तरह के ओछे हथकं डे अपनाने पर उतर गई है। उन्होंने कहा कि भाजपा को इसका परिणाम आने वाले चुनावों में भुगतना ही पड़ेगा, दिल्ली की जनता उन्हें वोट की चोट से जबाब देगी।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *