राशिफल, 05 अक्तूबर 2022

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार किसी भी व्यक्ति के बारे में जानने के लिए उसकी राशि ही काफी होती है। राशि से उस या अमूक व्यक्ति के स्वभाव और भविष्य के बारे में जानना आसान हो जाता है। इतना ही नहीं, ग्रह दशा कोअपने विचारों को सकारात्मक रखें, क्योंकि आपको ‘डर’ नाम के दानव का सामना करना पड़ सकता है। नहीं तो आप निष्क्रिय होकर इसका शिकार हो सकते हैं। आपका कोई पुराना मित्र आज कारोबार में मुनाफा कमाने के लिए आपको सलाह दे सकता है, अगर इस सलाह पर आप अमल करते हैं तो आपको धन लाभ जरुर होगा। घरेलू मामलों पर तुरंत ध्यान देने की ज़रूरत है। आपकी ओर से की गयी लापरावाही महंगी साबित हो सकती है। आपके प्रिय/जीवनसाथी का फ़ोन आपका दिन बना देगा।

डेमोक्रेटिक फ्रंट, आध्यात्मिक डेस्क – 05 अक्तूबर 22 :

aries
मेष/aries

05 अक्तूबर 2022 :

दोस्त या सहकर्मी का स्वार्थी बर्ताव आपका मानसिक सुकून ख़त्म कर सकता है। तंग आर्थिक हालात के चलते कोई अहम काम बीच में अटक सकता है। आपको अपनी भावनाओं को नियन्त्रित करने में कठिनाई होगी, लेकिन आस-पास के लोगों से झगड़ा न करें नहीं तो आप अकेले रह जाएंगे। आपका प्रिय आज कुछ खीझा हुआ महसूस कर सकता है, जो आपके दिमाग़ पर दबाव और बढ़ा देगा। आज ऑफिस में आपको अच्छे परिणाम नहीं मिलेंगे। आपका कोई खास ही आज आपके साथ विश्वासघात कर सकता है। जिसकी वजह से आप दिनभर परेशान रह सकते हैं। आप अपनी छुपी ख़ासियत का इस्तेमाल कर दिन को बेहतरीन बनाएंगे। अपने जीवनसाथी के साथ प्यार-मुहब्बत के लिए काफ़ी वक़्त मिलेगा, लेकिन सेहत गड़बड़ हो सकती है।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

वृष/Taurus

05 अक्तूबर 2022 :

भाग्य पर निर्भर न रहें और अपनी सेहत को सुधारने की कोशिश करें, क्योंकि क़िस्मत ख़ुद बहुत आलसी होती है। आज के दिन घर के किसी इलेक्ट्रोनिक सामान के खराब हो जाने की वजह से आपका धन खर्च हो सकता है। आपका लापरवाह रवैया आपके माता-पिता को दुःखी कर सकता है। कोई भी नयी परियोजना शुरू करने से पहले उनकी राय भी जान लें। आपका साहस आपको प्यार दिलाने में सफल रहेगा। कार्यक्षेत्र में दिल लगाने से बचें नहीं तो आपकी बदनामी हो सकती है। यदि आप किसी से जुड़ना भी चाहते हैं तो ऑफिस से दूरी बनाकर ही उनसे बात करें। सेमिनार और प्रदर्शनी आदि आपको नई जानकारियाँ और तथ्य मुहैया कराएंगे। कहते हैं कि स्त्रियाँ शुक्र और परुष मंगल ग्रह के रहने वाले हैं, लेकिन आज के दिन विवाहित शुक्र और मंगल एक-दूसरे में घुल जाएंगे।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

मिथुन/Gemini

05 अक्तूबर 2022 :

आज का दिन मौज-मस्ती और आनन्द से भरा रहेगा- क्योंकि आप ज़िन्दगी को पूरी तरह जिएंगे। आर्थिक जीवन की स्थिति आज अच्छी नहीं कही जा सकती आज आपको आपको बचत करने में मुूश्किलें आ सकती हैं। अगर आप पार्टी करने की सोच रहे हैं, तो अपने अपने अच्छे दोस्तों को बुलाएँ। ऐसे कई लोग होंगे, जो आपका उत्साह बढाएंगे। प्रेम जीवन की डोर को मजबूत बनाए रखना चाहते हैं तो किसी तीसरे की बातों को सुनकर अपने प्रेमी के बारे में कोई भी राय न बनाएं। तनख़्वाह में बढ़ोतरी आपको उत्साह से भर सकती है। यह वक़्त अपनी सभी निराशाओं और परेशानियों को मिटाने का है। आज आप सब कामों को छोड़कर उन कामों को करना पसंद करेंगे जिन्हें आप बचपन के दिनों में करना पसंद करते थे। जीवनसाथी के किसी अचानक काम की वजह से आपकी योजनाएँ बिगड़ सकती हैं। लेकिन फिर आपको महसूस होगा कि जो होता है अच्छे के लिए ही होता है।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

कर्क/Cancer

05 अक्तूबर 2022 :

बहुत-कुछ आपके कंधों पर टिका हुआ है और फ़ैसले लेने के लिए स्पष्ट सोच ज़रूरी है। आज कोई लेनदार आपके दरवाजे पर आ सकता है और आपसे पैसे उधार मांग सकता है। उन्हें पैसे लौटाकर आप आर्थिक तंगी में आ सकते हैं। आपको सलाह दी जाती है कि उधार लेने से बचें। प्रभावशाली और महत्वपूर्ण लोगों से परिचय बढ़ाने के लिए सामाजिक गतिविधियाँ अच्छा मौक़ा साबित होंगी। जो लोग अब तक सिंगल हैं उनकी मुलाकात आज किसी खास से होने की संभावना है लेकिन बात को आगे बढ़ाने से पहले यह जरुर जान लें कि कहीं वो शख्स किसी के साथ रिश्ते में न हो। आपको पता लग सकता है कि आपके बॉस आपसे इतने रूखेपन से क्यों बात करते हैं। वजह जानकर आपको वाक़ई तसल्ली होगी। आज घर में अधिकतर समय आप सो कर गुजार सकते हैं। शाम के वक्त आपको महसूस होगा कि आपने अपना कितना कीमती समय बर्बाद कर दिया। काफ़ी वक़्त बाद आप और आपका जीवनसाथी एक शान्त दिन साथ बिता सकते हैं, जब कोई लड़ाई-झगड़ा न हो – सिर्फ़ प्यार हो।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Leo
सिंह/Leo

05 अक्तूबर 2022 :

अपनी शारीरिक सेहत सुधारने के लिए संतुलित आहर लें दिन के दूसरे हिस्से में आर्थिक तौर पर फ़ायदा होगा। शाम के समय सामाजिक गतिविधियाँ उससे कई बेहतर रहेंगी, जितनी आपने उम्मीद की थी। सिर्फ़ स्पष्ट समझ के माध्यम से आप अपनी पत्नी/पति को भावनात्मक सहारा दे सकते हैं। भले ही छोटी-मोटी बाधाओं का सामना करना पड़े, लेकिन कुल मिलाकर यह दिन कई उपलब्धियाँ दे सकता है। उन सहकर्मियों का ख़ास ध्यान रखें, जो उम्मीद के मुताबिक़ चीज़ न मिलने पर जल्दी ही बुरा मान जाते हैं। उन लोगों से मेलजोल बढ़ाने से बचें जिनके साथ आपका वक्त खराब होता है। आप महसूस करेंगे कि शादीशुदा ज़िन्दगी आपके लिए वाक़ई ख़ुशनसीबी लेकर आई है।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

कन्या/Virgo

05 अक्तूबर 2022 :

अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखें। ख़ास तौर पर माइग्रेन के मरीज़ों को समय पर खाना नहीं छोड़ना चाहिए, नहीं तो उन्हें व्यर्थ में भावनात्मक तनाव से गुज़रना पड़ सकता है। इस राशि के कुछ लोगों को आज जमीन से जुड़े किसी मुद्दे को लेकर धन खर्च करना पड़ सकता है। दूसरों को प्रभावित करने की आपकी क्षमता आपको कई सकारात्मक चीज़ें दिलाएगी। सैर-सपाटे पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है, जो आपकी ऊर्जा और उत्साह को तरोताज़ा कर देगा। इस राशि के कारोबारी आज किसी करीबी की गलत सलाह के कारण परेशानी में आ सकते हैं। जॉब करने वाले जातकों को आज कार्यक्षेत्र में सोच-समझकर चलने की जरुरत है। जो लोग बीते कुछ दिनों से काफी व्यस्त थे उन्हें आज अपने लिए फुर्सत के पल मिल सकते हैं। आपका जीवनसाथी आज आपके लिए कुछ बहुत ख़ास करने वाला है।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Libra
तुला/Libra

05 अक्तूबर 2022 :

अनचाहे ख़यालों को दिमाग़ पर कब्ज़ा न करने दें। शांत और तनाव-रहित रहने की कोशिश करें, इससे आपकी मानसिक दृढ़ता बढ़ेगी। सट्टेबाज़ी से फ़ायदा हो सकता है। आपका मज़ाकिया स्वभाव सामाजिक मेल-जोल की जगहों पर आपकी लोकप्रियता में इज़ाफ़ा करेगा। आज के दिन प्यार की कली चटककर फूल बन सकती है। कामकाज के मोर्चे पर आज का दिन काफ़ी अच्छा रहने वाला है। तनाव से भरा दिन, जब नज़दीकी लोगों से कई मतभेद उभर सकते हैं। वैवाहिक जीवन के कई फ़ायदे भी होते हैं और आप उन्हें आज हासिल कर सकते हैं।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

वृश्चिक/Scorpio

05 अक्तूबर 2022

अपने दफ़्तर से जल्दी निकलने की कोशिश करें और वे काम करें जिन्हें आप वाक़ई पसंद करते हैं। जो लोग लघु उद्योग करते हैं उन्हें आज के दिन अपने किसी करीबी की कोई सलाह मिल सकती है जिससे उन्हें आर्थिक लाभ होने की संभावना है। परिवार में आप एक संधि कराने वाले दूत का दायित्व निभाएंगे। सबकी परेशानियों पर ग़ौर करें, जिससे समस्याओं पर समय रहते क़ाबू पाया जा सके। कोई अच्छी ख़बर या जीवनसाथी/प्रिय से मिला कोई संदेश आपके उत्साह को दोगुना कर देगा। आने वाले समय में दफ़्तर में आपका आज का काम कई तरीक़े से असर दिखाएगा। अपने व्यक्तित्व और रंग-रूप को बेहतर बनाने का कोशिश संतोषजनक साबित होगी। वैवाहिक जीवन के लिए विशेष दिन है। अपने जीवनसाथी को बताएँ कि आप उनसे कितना प्यार करते हैं।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

धनु/Sagittarius

05 अक्तूबर 2022

आपका बच्चों जैसा भोला स्वभाव फिर सतह पर आ जाएगा और आप शरारती मनोदशा में होंगे। ऐसा लगता है आप जानते हैं कि लोग आपसे क्या चाहते हैं- लेकिन आज अपने ख़र्चों को बहुत ज़्यादा बढ़ाने से बचें। कोई ऐसा रिश्तेदार जो बहुत दूर रहता है, आज आपसे संपर्क कर सकता है। सैर-सपाटे पर जाने का कार्यक्रम बन सकता है, जो आपकी ऊर्जा और उत्साह को तरोताज़ा कर देगा। आपको महसूस होगा कि आपके परिवार का सहयोग ही कार्यक्षेत्र में आपके अच्छे प्रदर्शन के लिए ज़िम्मेदार है। जरुरी कामों को समय न देना और फिजूल के कामों पर वक्त जाया करना आज आपके लिए घातक सिद्ध हो सकता है। क्या आपको पता है कि आपका जीवनसाथी वाक़ई आपके लिए फ़रिश्ता है। उनपर ग़ौर करें, यह बात आपको ख़ुद-ब-ख़ुद दिख जाएगी।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

मकर/Capricorn

05 अक्तूबर 2022:

अपने दफ़्तर से जल्दी निकलने की कोशिश करें और वे काम करें जिन्हें आप वाक़ई पसंद करते हैं। आज यदि आप अपने दोस्तों के साथ कहीं घूमने जा रहे हैं तो पैसा सोच समझकर खर्च करें। धन हानि हो सकती है। जब आप अकेलापन महसूस करें तो अपने परिवार की मदद लीजिए। यह आपको अवसाद से बचाएगा। साथ ही यह समझदारी भरा फ़ैसला लेने में आपकी मदद करेगा। आपको अपनी ओर से सबसे अच्छा बर्ताव करने की ज़रूरत है, क्योंकि आपके प्रिय का मूड बहुत अनिश्चित होगा। व्यावसायिक मीटिंग के दौरान भावुक और बड़बोले न हों- अगर आप अपनी ज़बान पर क़ाबू नहीं रखेंगे तो आप आसानी से अपनी प्रतिष्ठा धूमिल कर सकते हैं। जिंदगी में चल रही आपाधापी के बीच आज आपको अपने लिए पर्याप्त समय मिलेगा और और आप अपने पसंदीदा कामों को कर पाने में कामयाब हो पाएंगे। अपने जीवनसाथी के किसी काम की वजह से आप कुछ शर्मिन्दगी महसूस कर सकते हैं। लेकिन बाद में आपको महसूस होगा कि जो हुआ, अच्छे के लिए ही हुआ।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

कुम्भ/Aquarius

05 अक्तूबर 2022

अध्यात्म की सहायता लेने का सही समय है, क्योंकि मानसिक तनाव को मार भगाने के लिए यह सबसे बेहतरीन विकल्प है। ध्यान और योग आपकी मानसिक मज़बूती को बढ़ाने में कारगर रहेंगे। आपकी मनोकामनाएं दुआओं के ज़रिए पूरी होंगी और सौभाग्य आपकी तरफ़ आएगा- और साथ ही पिछले दिन की मेहनत भी रंग लाएगी। बच्चे आपको अपनी उपलब्धियों से गर्व का अनुभव कराएंगे। कोई पौधा लगाएँ। आज के दिन आपका कठिन परिश्रम फलदायी सिद्ध होगा। आप जिस प्रतियोगिता में भी क़दम रखेंगे, आपका प्रतिस्पर्धी स्वभाव आपको जीत दिलाने में सहयोग देगा। आपका जीवनसाथी अपने दोस्तों में कुछ ज़्यादा व्यस्त हो सकता है, जिसके चलते आपके उदास होने की संभावना है।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

मीन/Pisces

05 अक्तूबर 2022

जल्दी ही बीमारी से उबरने की संभावना है। रियल एस्टेट और वित्तीय लेन-देन के लिए अच्छा दिन है। अचानक मिली कोई अच्छी ख़बर आपका उत्साह बढ़ा देगी। परिवार के लोगों के साथ इसे बांटना आपको उल्लास से भर देगा। आज आप कोई दिल टूटने से बचा सकते हैं। अपनी नौकरी से चिपके रहिए और दूसरों से उम्मीद मत कीजिए कि वे आकर आपकी मदद करेंगे। चंंद्रमा की स्थिति को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि आज आपके पास काफी खाली वक्त होगा लेकिन बावजूद इसके भी आप वो काम नहीं कर पाएंगे जो आपको करना था। ऐसा लगता है कि आज आप अपने जीवनसाथी के साथ बहुत ख़र्चा कर सकते हैं। बावजूस इसके, आप इस वक़्त का पूरा लुत्फ़ उठा पाएंगे।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 819495932

श्री बद्री केदार रामलीला कमेटी की पहल कदमी : शहर के युवाओं को कला के क्षेत्र में दे रही बेहतरीन मंच

  • इस बार स्कूल व कॉलेज के विद्यार्थियों को भी अपनी प्रतिभा निभाने का सुअवसर दिया जा रहा है जिससे उनके भविष्य के लिए नेतृत्व का एक बेहतरीन मंच प्रदान हो सके : कमेटी के सभापति  भूपेन्द्र  शर्मा


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ : 

              पिछले 18 वर्षो से सेक्टर 45-46 की श्री बद्री केदार रामलीला कमेटी युवाओं खासकर स्कूल व कॉलेजों में पढ़ रहे विद्यार्थियों में नेतृत्व के गुणों के विकास के साथ साथ उनमें धर्म, प्रथाओं, रीति रिवाजों व संस्कृति का विकास कर रही है। यही कारण है कि इस बार भी रामलीला में युवा बढ़ चढ़ कर भाग ले रहे हैं। जो कि उनको  भविष्य में बेहतरीन मंच प्रदान करेगी। यह बात एक पत्रकार वार्ता के दौरान कमेटी के सभापति  भूपेन्द्र शर्मा ने कही।

              सेक्टर 45-46 की श्री बद्री केदार रामलीला कमेटी द्वारा शहर में 26 सितम्बर से सेक्टर 46 स्थित श्री सनातन धर्म मंदिर के पास ग्राउंड में आगाज कर रही है, जो कि 5 अक्टूबर तक आयोजित की जायेगी। उन्होंने बताया कि अनादिकाल से ही धर्म परायण भारतवर्ष में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र जी के लौकिक चरित्र को नवरात्रों के शुभ अवसर पर प्रति वर्ष रामलीला के रूप में बड़े हर्षोल्लास से मनाया जाता है। उनका जीवन चरित्र- चित्रण, दुराचार पर सदाचार, पाप पर पुण्य, दुख पर सुख, अज्ञान पर ज्ञान तथा द्वेष पर प्रेम की विजय का प्रतीक है।

              भूपेन्द्र शर्मा ने बताया कि रामलीला एक ऐसा मंचन है जिसमें कलाकार रामायण के विभिन्न पात्रों को सुन व समझकर उसमें खोकर दर्शकों के समक्ष अपनी कला का प्रदर्शन करते है और दर्शकों को भाव विभोर कर देते हैं। दर्शकों को रामायण से बहुत कुछ सीखने को मिलता है उन्हें हमारी संस्कृति व धर्म, रीति रिवाज के बारे में जानकारी प्राप्त होती है और वे अपने सामाजिक दायित्व के बारे में जागरूक होते हैं। उन्होंने बताया कि रामलीला के स्टेज पर बच्चे व युवा रामलीला के विभिन्न पात्रों को बखूबी निभा रहे हैं और दर्शकों से खूब प्रशंसा बटौर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह प्रत्येक अभिभावक का प्रथम कर्तव्य है कि वे बच्चों को रामलीला दिखाने लेकर आएं ताकि उनमें संस्कारिक गुणों का विकास हो और वे आध्यात्म की ओर भी अग्रसर हो सके। इससे उनके बच्चे बुरे कामों से भी सदैव अपने आप को बचा कर रखेंगे और सन्मार्ग की ओर बढेंगे।

              रामलीला के कार्यक्रम की जानकारी देते हुए भूपिंदर शर्मा ने बताया कि 2 अक्टूबर को रामलीला में नाटकीय तौर पर धनुष खण्ड, सीता स्वयंवर,परशुराम-लक्ष्मण संवाद का दृश्य, 3 अक्टूबर को लक्ष्मण शक्ति का दृश्य, 4 अक्टूबर का कुंभकरण, मेघनाथ, रावण वध का दृश्य तथा 5 अक्टूबर का नंदीग्राम में राम-भरत मिलाप एवं राजतिलक का दृश्य दिखाया जायेगा। रामलीला में विभिन्न चरित्रों को स्कूल व कॉलेज में पढ़ने वाले ज्यादातर विद्यार्थी भूमिका निभायेंगे।

              शर्मा ने बताया कि रामलीला का पंडाल  दर्शको की संख्या को देखकर लगाया जायेगा। यहां पर श्रद्धालुओं को पीने का पानी भी समय समय पर दर्शकों को वितरित किया जाता है। उन्होंने बताया कि डेकोरेशन लाइट्स की सहायता से रामलीला का स्टेज को सजाया गया है।

              इस पत्रकार वार्ता में कमेटी के सभापति भूपिंदर शर्मा के साथ कमेटी के प्रधान आनंद प्रकाश शर्मा, दलीप सिंह पंवार, ब्रिज मोहन, प्रेम सिंह नेगी, कमल सिंह बागड़ी, महेश ध्यानी, पूनम कोठारी, वीना, हर्ष पाल पोखरियाल उपस्थित थे।

रामलीला में यह युवा कलाकार निभा रहे रामायण के पात्रों की भूमिका:

राम की भूमिका में हर्ष पाल सिंह, लक्ष्मण की भूमिका में प्रांजल, सीता पार्वती की भूमिका में गुंजन मेहता, हनुमान दशरथ की भूमिका में विनोद कुकरेती, रावण की भूमिका में वरुण भल्ला, भरत सुग्रीव की भूमिका में शिवम, मेघनाथ सुबाहु की भूमिका में धीरज, कैकई ज्ञानवती अहिल्या सुनैना की भूमिका में पूनम, जनक विभीषण की भूमिका में हिमांशु, शत्रुघ्न रावण सेना में शुभम, ताडका मंधार भाट जटायु शांतनु की भूमिका में बृजमोहन, नारद बाणासुर बोंदी केवट में थपलियाल सुमंत केवट सेना में पुनीत, कौशल्या की भूमिका मृदु खर मारीच जोगी रावण की भूमिका में लक्ष्मण, सुमित्रा तारा सीता सखी की भूमिका में दीपाली, बाली परशुराम अंगद की भूमिका में सूरज,  कुंभकरण छवि राजा केवट राज की भूमिका में हर्ष मणि,  भृगु ऋषि व पुजारी की भूमिका में लाखी राम, विशिष्ट मंदोदरी की भूमिका में पुष्कर, सीता सखी की भूमिका में नीतू, खुशी, शिवानी, परी, वानर सेना व राक्षस सेना में आर्यन आरव, धैर्य, सूरज संयम और मोहित अर्णव, साहिल, गोलू, सूरज, बासु, सुशील, राघव

सुग्रीव और बाली के दृश्य को देख रोमांचित हुए, श्रद्धालु, जय श्री राम के लगाए जयघोष

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ : 

              मौली कॉम्प्लेक्स में आयोजित उत्तराखंड रामलीला कमेटी द्वारा आयोजित रामलीला में कलाकारों ने सुग्रीव और बाली के दृश्य को मंचित किया। जिसे देख पंडाल में उपस्थित श्रद्धालु रोमांचित हो उठे। इतना ही नही श्रद्धालुओं ने जय श्री राम के जयघोष भी लगाए जिससे रामलीला का पंडाल गुंजमयी हो उठा। 

              दृश्य से पूर्व भगवान श्री राम की भव्य आरती की गई जिसके उपरांत रामलीला का कलाकारों ने बखूबी मंचन किया। सुग्रीव और बाली की भूमिका में कलाकारों ने  अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देते हुए जबरदस्त अभिनय किया जिसका श्रद्धालुओं ने खूब प्रशंसा की। इस दृश्य में बाली सुग्रीव वार्तालाप व युद्ध दिखाया गया। बाली की भूमिका अनुराग पंवार और सुग्रीव का भूमिका अंकुश भंडारी ने बखूबी निभाई। रामलीला में  भगवान श्री राम चंद्र जी की भूमिका नितेश धौलाखण्डी , लक्ष्मणकी भूमिका  ऋषि धौलाखण्डी तथा हनुमान जी का पात्र में राहुल बिष्ट निभा रहे हैं।

जब श्री राम ने हनुमान को माता सीता की निशानी मुद्रिका देकर लंका रवाना किया

रघुनंदन पराशर, डेमोक्रेटिक फ्रंट,  जैतो  –  3 अक्तूबर  :

            श्री रामा कृष्णा ड्रामाटिक क्लब रजि इकाई जैतो द्वारा रामलीला मैदान चल रही रामलीला के मुख्य अतिथि व समाज सेवी ज्योति बांसल मीठू बैटरी हाऊस वाले थे। मुख्य अतिथि ने सबसे पहले अपने परिवार के साथ सर्व पूजनीय गणपति बप्पा मोरया श्री गणेश जी महाराज व माता सरस्वती की पूजा अर्चना कर आरती की। इस उपरांत रामलीला मंचन की शुरुआत हुई। 

            कल रात राम लीला श्री रामजी की सेना ने लंका का जायजा लेने के लिए एक दूत बाली पुत्र अंगद को जिम्मेदारी देकर भेजा गया। अंगद ने आकर लंका के सारे रहस्य भगवान राम को दे दिए। इसके बाद भगवान राम ने अपने सबसे लाड़ले शिष्य हनुमान जी को लंका भेज दिया।  हनुमान के पास जाते समय, भगवान राम चंद्रजी ने माता सीता के संकेत के रूप में एक अंगूठी भी दी, ताकि माता सीता इस अंगूठी के संकेत को देखकर पहचान लें कि हनुमान को भगवान राम ने उनके पास भेजा था। लंका के चारों ओर सख्त पहरा होने के बावजूद, राम भगत हनुमान जी लंका पहुंचे। सबसे पहले उन्होंने माता सीता से मुलाकात की और कहा कि उन्हें भगवान राम ने भेजा है, लेकिन माता सीता ने विश्वास नहीं किया। स्थिति बताने के बाद, माता सीता को पूरा विश्वास हो गया कि उन्हें भगवान रामजी ने भेजा है। माता सीता ने हनुमान को बताया कि कैसे रावण ने अपनी होशियारी से उन्हें हरण  किया और ले गए। 

             माता सीता को हनुमान जी ने दिलासा दिया कि भगवान राम जल्द ही लंका पर चढ़ेंगे और उन्हें अपने साथ यहां से मुक्त कराएंगे। हनुमान जी ने लंका के सभी फलों के पेड़ों को काटने, रावण की पूरी सेना को हराने और लंका के सभी सोने में आग लगाने के दृश्य लंका से लौटते समय आदि दृश्य बहुत ही खूबसूरत से पेश किए गए जिन्हें देखकर मंत्रमुग्ध हो उठे।

            कल रात रामलीला के मुख्य अतिथि प्रख्यात समाजसेवी एवं युवा उद्यमी ज्योति बांसल को  क्लब के चेयरमैन सतीश कुमार भीरी, निदेशक सुरिंदर पाल लूंबा, संगीत निर्देशक सोनू वर्मा, संदीप पाटिल टोनी, टोनी डोड, अनिल मित्तल, ईश्वर जिंदल, वेद प्रकाश सदावर्तिया, डगर कांत शर्मा, दर्शन चौधरी, नवल जैन, राम अवतार वर्मा, सुरिंदर गोयल भूची और क्लब के प्रेस सचिव और प्रख्यात सामाजिक कार्यकर्ता संदीप लूंबा आदि ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। राम लीला देखने और राम लीला का आनंद लेने के लिए भारी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं।

कालावाली की धार्मिक राजनीतिक सामाजिक संस्थाओं ने किया दादूवाल को सम्मानित

डिम्पल अरोड़ा, डेमोक्रेटिक फ्रंट, कालांवाली :

            मार्केट कमेटी के वाइस चेयरमैन समाजसेवी सुरेश कुमार नरेश कुमार सिंगला में  अनाज मंडी में  दुकान 134 पर हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष जत्थेदार बलजीत सिंह दादूवाल को हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी को मान्यता दी जाने की खुशी पर कालावाली की धार्मिक राजनीतिक व सामाजिक संस्थाओं ने लड्डू बांटकर खुशी मनाई सुरेश सिंगला की दुकान पर पहुंचे जत्थेदार दादूवाल का कालावाली पहुंचने पर फूल मालाएं पहनाकर पूरी गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

             जथेदार द्वारा भारी गिनती में पहुंचे सभी धर्मों के प्रमुख लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा 2014 में गुरुद्वारा अधिनियम 2014 के साथ हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की स्थापना की गई थी लेकिन शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने इस अधिनियम को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी 8 साल की लंबी लड़ाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने 20 सितंबर को शिरोमणि कमेटी की रिट को खारिज करते हुए हरियाणा कमेटी को कानूनी मान्यता दी गई है इसलिए 20 सितंबर से जत्थेदार दादूवाल जी और उनके साथी सदस्यों को सिख संगतों द्वारा लगातार अलग-अलग गुरुद्वारों में आमंत्रित कर सम्मानित किया जा रहा है।  

              दादूवाल ने कहा के कोई भी किसी भी धर्म किसी पार्टी में रहता हो आस में भाईचारा बनाकर रखना चाहिए इस मौके पर सुरेश कुमार सिंगला नरेश कुमार सिंगला सतीश सिंगला ने आए हुए लोगों का धन्यवाद किया।  

            अलग-अलग संस्थाओं से पहुंचे आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान राकेश कुमार नीटा, जेजेपी के शहरी प्रधान विनोद मित्तल, नरेश महेश्वरी, केबल कुमार, संजय दानेवालीया, सी ए राज कुमार आर्य , मलकीत सिंह सेखों, जगतार सिंह तारी,सतिंदरजीत सिंह सोनी, सुखमनी सेवा सोसायटी से दर्शन कौर जोड़ा हरजीत कौर, बलवीर कौर, बलजीत कौर, नगर पालिका के पूर्व प्रधान तरसेम कुमार सटार, रवि दानेवालीया, हरपाल सिंह नंबरदार, कवीश गर्ग, नितिन गर्ग सूरज ठेकेदार, राजीव बीटा, भोला जगमालवाली, राजू सोनी, सुभाष सोनी, तीरथ रोड़ी, नामी महेश्वरी, समेत भारी गिनती में लोग शामिल थे

बहुभाषाई फिल्म पलेनचीट की शूटिंग पंचकूला के मोरनी हिल्स में शुरू

 क्षेत्र फिल्मी हब बनने से हरियाणा पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

अजय कुमार, डेमोक्रेटिक फ्रंट, मोरनी 29 सितंबर :

हरियाणा के एकमात्र विश्व प्रसिद्ध हिल्स स्टेशन जिला पंचकुला का मोरनी अब बनने लगा है फिल्म सिटी हब । इस से पहाड़ी क्षेत्र  में अब पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। हरियाणा सरकार भी फिल्म उद्योग को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है । पंचकूला के मोरनी हिल्स स्थित दी क्रिएटर हाउस में आज हिंदी एवं बहुभाषाओं फ्रेंच, इंग्लिश, तेलुगू व तमिल में फिल्म पलेनचीट का शुभारंभ विधिवत रूप से पूजा-अर्चना के बाद किया गया ।

पोमी फिल्म्स के बैनर तले बन रही इस फिल्म के निर्माता निर्देशक सुनील बब्बर है और इस फिल्म में मुख्य भूमिकाएं हर्षित रोहिल्ला व जितेन गोस्वामी निभा रहे हैं। इनके साथ साथ मदन लाल आजाद भी मुख्य भूमिका में नजर आयेगे। मुंबई निवासी सुनील बब्बर मूलतः हरियाणा राज्य के करनाल जिला से संबंध रखते हैं और उनकी इच्छा थी कि हरियाणा से ऐसी फिल्मों निर्माण किया जाए जो अनेक भाषाओं में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ओ टी टी एवं थियेटर में रिलीज हो सके। जिस को हरियाणा सरकार द्वारा विधिवत रूप से अनुमति भी दी गई है क्योंकि हरियाणा सरकार इस वक्त फिल्मी गतिविधियों के विकास की ओर विशेष तौर पर अग्रसर है।

हरियाणा के विकास में ये फिल्म बहुत ही सहायक सिद्ध होंगी। सुनील बब्बर के इस प्रयास में चंडीगढ़ स्थित रॉक गार्डन के निर्माता नेक चंद जी के सुपुत्र अनुज सैनी, नारायण भाटिया, अनिल कुमार व हरकेश शर्मा रामगढ़ विशेष रूप से सहयोगी रहेंगे । बब्बर ने बताया कि वे अब से पहले अंतरराष्ट्रीय अवार्ड विजेता अंग्रेजी फिल्म एंडस का भी निर्माण कर चुके हैं ।

उन्होंने बताया कि वे 1987 में हिंदी फिल्म लागी छूटे ना में भी मोरनी क्षेत्र में अभिनय कर चुके हैं । वर्तमान में कई अंतरराष्ट्रीय वेब शो पूरी दुनिया में प्रसारित कर प्रदेश का नाम रोशन कर रहे हैं।

आशा पारेख को दादा साहब फाल्के पुरस्कार, 2020 से सम्मानित किया जाएगा: अनुराग ठाकुर

  •  68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 30 सितंबर को होंगे
  • राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू पुरस्कार समारोह की अध्यक्षता करेंगी

रघुनंदन पराशर, डेमोक्रेटिक फ्रंट, जैतो – 27 सितंबर :

            सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने मंगलवार को घोषणा की है कि वर्ष 2020 के लिए दादा साहब फाल्के पुरस्कार महान अभिनेत्री आशा पारेख को प्रदान किया जाएगा। यह पुरस्कार नई दिल्ली में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में प्रदान किया जाएगा।

            निर्णय की घोषणा करते हुए केंद्रीय मंत्री श्री अनुराग ठाकुर ने कहा, “मुझे यह घोषणा करते हुए सम्मानित महसूस हो रहा है कि दादासाहेब फाल्के चयन जूरी ने आशा पारेख जी को भारतीय सिनेमा में उनके अनुकरणीय जीवन भर के योगदान के लिए मान्यता और पुरस्कार देने का निर्णय लिया है।”  मंत्री ने यह भी घोषणा की कि 68वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 30 सितंबर, 2022 को आयोजित किए जाएंगे और इसकी अध्यक्षता भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू करेंगी।

             सुश्री आशा पारेख एक प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री, निर्देशक और निर्माता और एक कुशल भारतीय शास्त्रीय नृत्यांगना हैं।  एक बाल कलाकार के रूप में अपना करियर शुरू करते हुए उन्होंने दिल देके देखो में मुख्य नायिका के रूप में अपनी शुरुआत की और 95 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया। उन्होंने कटी पतंग, तीसरी मंजिल, लव इन टोक्यो, आया सावन झूम के, आन मिलो सजना, मेरा गांव मेरा देश जैसी मशहूर फिल्मों में अभिनय किया है।

            सुश्री पारेख 1992 में उन्हें पद्म श्री से सम्मानित की विजेता हैं।उन्होंने 1998-2001 तक केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के प्रमुख के रूप में भी काम किया है।श्री अनुराग ठाकुर ने यह भी घोषणा की कि सुश्री पारेख को पुरस्कार प्रदान करने का निर्णय 5 सदस्यों की जूरी द्वारा लिया गया था। 52वें दादासाहेब फाल्के पुरस्कार के चयन के लिए जूरी में फिल्म उद्योग के पांच सदस्य शामिल थे,सुश्री आशा भोसले,सुश्री हेमा मालिनी, सुश्री पूनम ढिल्लों,श्री टी. एस. नागभरण व

चंडीगढ़ में ग्रेट जैमिनी सर्कस का रंगारंग आगाज़

  • चंडीगढ नगर निगम मेयर सरबजीत कौर ने किया शुभारंभ
  • कलाकारों की हैरतअंगेज  परफॉर्मेंस ने दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध

डेमोक्रेटिक फ्रंट संवाददाता, चण्डीगढ़ :

            त्योहारों के इस सीजन में शहर के लोगों के लिए घुम्बे फिरने के साथ साथ सर्कस का लुत्फ उठाने का बेहतर विकल्प रहेगा। चंडीगढ़ के लोगों विशेषकर बच्चों के मनोरंजन के लिए शहर में एक बार फिर से सर्कस लग गयी है । चंडीगढ़ के सेक्टर 34 में दोनों पेट्रोल पंप के मध्य वाले ग्राउंड में लगी आज 26 सितंबर से 26 अक्तूबर तक चलने वाली “ग्रेट जैमिनी सर्कस” के  नाम  से विख्यात इस सर्कस की सोमवार को रंगारंग तरीके से शुरुआत हुई। इस सर्कस का शुभारंभ चंडीगढ़ नगर निगम की मेयर सरबजीत कौर ने किया । हर बार कुछ नया पेश करने वाले सर्कस के आयोजक इस बार सर्कस मे नए और पुराने कलाकारों के साथ साथ विदेशी (अफ्रीकन) कलाकारों के कुछ नए नए करतब लेकर आये है।

            खचाखच भरे हाल में मौजूद लोगों का सर्कस के लिए उत्साह देखते ही बनता था। मुख्य अतिथि मेयर सरबजीत कौर के रिबन काटते ही आयोजकों ने जैसे ही सर्कस की शुरूआत की घोषणा की, हाल लोगों की तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। सबसे पहली परफॉर्मेंस सर्कस की जान कहे जाने वाले हवाई झूले का खेल रही। हवा में झूले पर इधर से उधर करतब दिखाते कलाकारों की परफॉर्मेंस पर लोगों ने खूब तालियां बजाई। इसके बाद सर्कस के कलाकारों की परफॉर्मेंस ने ऐसा समां बांधा की, लोग जैसे अपनी जगह से चिपक कर रह गए हो। लोगों ने कलाकारों की हर परफॉर्मेंस पर जम कर तालियाँ बजा उनकी खूब होंसला आफजाई की।

            सर्कस की जान दोनों जोकरों मुरुगन और महेश की हंसी ठिठोली वाली बातों पर तो लोग खासकर बच्चे अपनी हंसी रोक ही नही पा रहे थे। सर्कस रिंग में यूं ही परफॉर्मेंस देने आते कलाकारों के साथ जोकरों की एंट्री होती, लोगों के चेहरे पर मुस्कान फैल जाती। म्यूजिक की तेज धुनों पर सर्कस के कलाकारों की तेज और ताबड़तोड़ परफॉर्मेंस ने तो अलग ही माहौल से बना दिया था। 

            अफ्रीकन कलाकारों के ग्रुप की तेज म्यूजिक की धुन पर तेजी और चपलता से भरी जिमनास्टिक व एरोबिक की परफॉर्मेंस देख तो दर्शकों ने दांतों तले अंगलियों ही दबा ली। इधर से उधर फुदकते एक दूसरे को लपकने की उनकी परफॉर्मेंस यादगार पल रहेगी।

            सर्कस के निदेशक सुनील कुमार उर्फ विल्ला ने बताया कि चंडीगढ़ व इसके आस पास के क्षेत्र के लोगों में सर्कस के प्रति क्रेज हमेशा ही बना रहा है। शहर से उन्हें अच्छा रिस्पांस मिलने की उम्मीद है। लोगों को सर्कस में हर बार हम कुछ नया देते आये है, और इसी कड़ी में इस बार भी कुछ अलग दिया जा रहा है। जिसे लोग शत प्रतिशत पसंद करेंगे। इसी के तहत चंडीगढ़ व् आस पास के क्षेत्र के लोगों की भारी मांग को ध्यान में रखते हुए एक बार फिर इस शहर में इस मैदान पर “ग्रेट जैमिनी सर्कस” को पेश किया जा रहा है।  इस बार सर्कस के कलाकार अपने करतबों से लोगों में रोमांच तो भरेंगे ही बल्कि कलाकारों की हौंसला        आफजाई के लिए तालियाँ मारने को मजबूर भी अवशय करेंगे । इसी तरह सर्कस में मौत का कुआँ खेल में भी कलाकार अपनी हैरत अंगेज प्रस्तुति से दर्शकों का मनोरंजन करेंगे ।

            ग्रेट जैमिनी सर्कस के संचालक सुनील कुमार गोयल उर्फ विल्ला ने बताया कि इनके अलावा सर्कस के अन्य कलाकारों द्वारा भी अपनी अपनी नृत्य व् कला कौशल को पेश किया जायेगा। दर्शको को हंसा हंसा कर लोटपोट कर देने के लिए किसी भी सर्कस की जान कहे जाने वाले जोकर भी बीच बीच में अपनी अदाकारी से लोगों विशेषकर बच्चों को हंसाएंगे ।

            सुनील कुमार गोयल का कहना है कि सर्कस चलाना बहुत ही मेहनत का काम है। एक सर्कस में 200 से ज्यादा लोग काम करते हैं। सबके रहने-सहने और खानपान की जिम्मेदारी सर्कस कंपनी की होती है। सभी कलाकार नहीं होते। पर वे एक-दूसरे से ऐसे जुड़े होते हैं, जैसे मोतियों की माला। कुछ का काम होता है तंबू लगाना, उखाड़ना व उनकी देखभाल करना, प्रचार प्रसार करना। खेल दिखाने वाले कलाकार तो होते ही हैं, परंतु उन्हें कब और क्या चाहिए और कई बार जब उनका शो खराब हो रहा होता है, तो कैसे जोकर व अन्य लोग उस शो को संभाल लेते हैं, यह देखते ही बनता है।

            ग्रेट जैमिनी सर्कस के मैनेजर अलंकेश्वर भास्कर बताते हैं कि जानवर सर्कस का मुख्य आकर्षण होते थे। अब सरकार ने सर्कस में जानवरों के इस्तेमाल पर पूर्णत रोक लगा दी है। टीवी, वीडियो गेम और इंटरनेट ने रही सही कसर पूरी कर दी। आखिर दर्शक क्या देखने के लिए सर्कस आएंगे। सर्कस से कोई क्यों जुड़ना चाहेगा। सर्कस उद्योग से जुड़े लोग मानते हैं की सरकारी समर्थन और नई प्रतिभाओं की कमी भी इस उद्योग को लाचार बना रही है।

मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का दिल्ली AIIMS में निधन

 

            राजू श्रीवास्तव दिल्ली के एक होटल में रुके थे और वहीं के जिम में वह वर्कआउट कर रहे थे। वर्कआउट के दौरान राजू की तबीयत बिगड़ गई थी और ट्रेडमिल पर गिर पड़े थे। राजू को फिर तुरंत एम्स में भर्ती कराया गया, जहां कार्डियोलॉजी डिपार्टमेंट में उनका इलाज चल रहा था। राजू के करीबियों ने जानकारी दी थी कि उनको ब्रेन इंजरी हो गई थी। हार्ट अटैक के बाद गिरने से काफी देर तक दिमाग में ऑक्सीजन नहीं पहुंची थी। डॉक्टर्स ने बताया था कि उनको होश में आने में वक्त लग सकता है। इलाज के बीच उनकी बॉडी में कुछ मूवमेंट की रिपोर्ट्स भी थीं।

  • कॉलेज में महसूस हो चुका था कि वह अच्छे कॉमेडियन बन सकते हैं
  • अमिताभ बच्चन उनके पहले आदर्श थे और उनकी खूब मिमिक्री भी की
  • लालू यादव के सामने जब उनकी नकल उतारी तो वह भी खूब हंसेराजू श्रीवास्तव ने मुंबई में कुछ समय के लिए ऑटो भी चलाया
  • तेजाब, मैंने प्यार किया, बाजीगर, आमदानी अठन्नी खर्चा रुपैया जैसी फिल्मों में उनके रोल थे
  • 80 के दशक में कॉमेडियन बनने मुंबई पहुंचे राजू श्रीवास्तव के हुनर को बहुत देर से पहचान मिली

कोरल ‘पुरनूर’, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़/नयी दिल्ली  –  21 सितंबर :

            श्रीवास्तव की बीमारी और अस्पताल में भर्ती होने की खबरें बनते-बनाते आखिरी खबर आ गई। बुधवार सुबह 10 बजे के करीब दिल्ली एम्स में उनका निधन हो गया। उमर 58 साल थी। दिल्ली में ही 10 अगस्त को एक्सरसाइज करते उन्हें हार्ट अटैक आया था। उसके बाद से ही एम्स में भर्ती थे। इलाज में पता चला था कि दिल के एक हिस्से में 100% ब्लॉकेज है।

                        पत्रकार विकास भदौरिया ने भी ट्वीट कर इस खबर की पुष्टि की है। उन्होंने लिखा, “एम्स से बुरी खबर आ रही है, राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है। प्रभु उन्हें श्रीचरणों में स्थान दे। ॐ शांति शांति शांति।”

            बता दें कि 10 अगस्त 2022 की सुबह एक्सरसाइज करते वक्त राजू श्रीवास्तव बेहोश होकर गिर गए थे। इसके बाद उन्हें एम्स लाया गया था। वहाँ डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें हार्ट अटैक आया था। इसके कारण उनका ब्रेन डैमेज हो गया और उन्हें एंजियोप्लास्टी करनी पड़ी।

            पिछले 10 साल में उनकी 3 बार एंजियोप्लास्टी हो चुकी थी। इसके बाद सोशल मीडिया पर उनके निधन के खबरें वायरल हुई थीं। इसको देखते हुए उनके परिजन और बॉलीवुड के पूर्व अभिनेता एवं महाभारत में भीष्म पितामह का किरदार निभाने वाले मुकेश खन्ना ने तब इसका खंडन किया था। इतने दिनों तक मौत से लड़ने के बाद आज वो हार गए। सबको हँसाने वाले आज बहुतों को रुला गए।

 

25 साल बाद चंडीगढ़ पहुंची ग्रेट जैमिनी सर्कस

  • अफ्रीकन कलाकार अपनी फुर्ती स्फूर्ति से दर्शकों का करेंगे मनोरंजन

डेमोक्रेटिक फ्रंट संवाददाता, चंडीगढ़  –  20 सितंबर  : 

            एक लंबे अरसे बाद लगभग 25 साल के लंबे अंतराल के बाद चंडीगढ़ और आस पास के क्षेत्र के लोगों का मनोरंजन करने के लिए नए रंग, नए कलेवर, नए कलाकारों और नई मनमोहक आइटम्स के साथ ग्रेट जैमिनी सर्कस एक बार फिर चंडीगढ़ शहर आ पहुंची है। वहीं 06 अफ्रीकी कलाकार भी अपनी एरोबिक्स आइटम्स से दर्शकों का मन मोहने को तैयार हैं।

                 ग्रेट जैमिनी सर्कस के मैनेजर आजम खान ने बताया कि चंडीगढ़ और आस पास के क्षेत्र निवासियों की तरफ से सर्कस कलाकारों को हमेशा ही अपार स्नेह मिला है। इस बार भी उनकी तरफ से अरसा 25 साल बाद सेक्टर 34 के एग्जीबिशन ग्राउंड, दोनों पेट्रोल पंप के मध्य,  ग्रेट जैमिनी सर्कस शहर में लगाई जा रही है। उम्मीद है इस बार भी लोग उतना ही स्नेह और प्रशंसा करेंगे। उन्होंने बताया कि ग्रेट जैमिनी सर्कस 23 सितंबर से 26 अक्टूबर करीब एक महीना चलेगी।

            सर्कस के एक दिन में 03 शो रहेंगे जोकि क्रमशः दोपहर 01 बजे, 04 बजे और सांय 7.30 बजे होंगे। टिकट रेट 100, 200 और 300 रुपये रहेंगे। सर्कस पंडाल में दर्शकों के बैठने की बड़ी ही सुचारू और उचित व्यवस्था की गई है। इसके अलावा 03 साल से अधिक आयु वर्ग के बच्चों के लिए टिकट अनिवार्य रहेगा। दर्शक अपनी टिकट पे टी एम इनसाइडर  पर एडवांस बुक कर सकते हैं।

            उन्होंने बताया कि सर्कस प्रबंधन की तरफ से अपने स्तर पर ही सुरक्षा के बंदोबस्त किए हुए हैं। जिसमे प्राइवेट सिक्योरिटी और सी सी टी वी भी इनस्टॉल किये गए हैं। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए भी उचित बंदोबस्त किए गए हैं।