पुत्र वियोग में दशरथ ने त्यागे प्राण, भाई से मिलने वन में गए भरत

सिरसा : (सतीश बंसल )

श्री रामा क्लब चेरिटेबल ट्रस्ट के मंच पर बीती रात भगवान राम का वन में जाना, उनके जाने के बाद दशरथ का पुत्रों के वियोग में दम तोड़ना, ननिहाल गए भरत व शत्रुध्न को स्वप्न में अनहोनी की आशंका होना होने के मार्मिक दृश्य को बेहतर तरीके से मंचित किया गया। लाइट एंड साउंड इफेक्ट्स का इस्तेमाल करते हुए इस दृश्य को जीवंत बना दिया। भरत के अयोध्या वापस लौटने पर पिता की मृत्यु और राम लक्ष्मण के वन गमन की जानकारी मिलने का दृश्य मंचित किया गया। भरत द्वारा अपनी माता कैकयी को खरी खरी सुनाना और कहना कि उसके लिए राजतिलक व राम के लिए वन जाने का वर मांगने से तो अच्छा होता कि वह बचपन में ही उसका यानि भरत का गला घोंट देती। इसके बाद वह राम को मनाने वन में जाते हैं लेकिन राम उन्हें पिता के वचन की पालना का कहकर उसे अपनी चरण पादुका देकर लौटा देते हैं।

भगवान राम के वन गमन प्रसंग को भी शानदार तरीके से मंचित किया गया। जब राम, सीता व लक्ष्मण दर्शकों के बीच में से गुजरे तो दर्शकों ने श्रद्धापूर्वक उनके चरणों को स्पर्श किया। उधर राम के वन जाने के बाद राजा दशरथ को श्रवण कुमार व उसके अंधे माता पिता द्वारा दिया गया श्राप याद आता है। उसे श्रवण व उसके माता पिता दिखाई देते हैं। इस दृश्य को परछाइयों व साउंड इफेक्ट के माध्यम से मंचित किया गया। जिसके बाद पुत्र वियोग में तड़पते हुए राजा दशरथ प्राण त्याग देते हैं। उधर ननिहाल में गए भरत शत्रुध्न को भी स्वप्न में अयोध्या में अनहोनी होने की आशंका दिखाई देती है, इस दृश्य को भी स्पेशल इफेक्ट से दिखाया गया। अयोध्या लौटने के बाद भरत को सारे घटनाक्रम की जानकारी मिलती है तो वे अपनी मां कैकयी को खूब खरी खरी सुनाते हैं। इसके बाद सभी माताओं को लेकर वन में जाते हैं और भगवान राम से वापस लौटने का आग्रह करते हैं परंतु राम पिता के वचन की पालना करते हुए लौटने से इंकार कर देते हैं। राम उन्हें अपनी चरण पादुकाएं देते हैं, जिन्हें भरत श्रद्धा पूर्वक अपने शीश पर धारण करते हैं और कहते हैं कि जब तक राम अयोध्या वापस नहीं आते तब तक ये चरण पादुकाएं अयोध्या के राज सिहासन पर विराजेंगी ओर वे स्वयं तपस्वी वेश में रहेंगे। इस दृश्य के दाैरान कथा व्यास स्वामी धर्मवीर पाठक ने रामचरित मानस के श्लोक – प्रभू करी कृपा पांवरी दीन्ही, सादर भरत शीश धर लिन्हीं के माध्यम से और मार्मिक बना दिया। रामलीला मंचन के बीच बीच में कथा व्यास के द्वारा गाए गए भजन व श्लोक वातावरण को भक्तिमय बना देते हैं।

दशरथ के किरदार में ओम प्रकाश, कैकयी के रोल में सोनाली रावत, कौशल्या की भूमिका मानसी रावत, भरत के रोल में रवि भारती ने निभाई दोनों ही बहनें हैं। मंथरा का रोल मनप्रीत कौर ने निभाया। इस अवसर पर मुख्य संरक्षक श्याम बजाज, प्रधान अश्वनी बाठला, महासचिव गुलशन गाबा, वरिष्ठ उपप्रधान गुलशन वधवा, अनिल बांगा, सचिव मिंटू कालड़ा, सुरेश कालड़ा, बिशंभर चुघ, ओपी लूना, संत लाल गुंबर, ज्ञान मेहता, नरेश छाबड़ा, सुरेश अनेजा, नरेश खुंगर, भूषण वसूजा, मंगत कुमार, शाम लाल, राकेश मदान, गुलशन वधवा, दिनेश वधवा, गोबिंद राम ग्रोवर, टोनी बब्बर, मनीष ऐलनावादी, बिट्टू अनेजा मौजूद रहे।

Exhibits by students of USOL, PU at CLKA Gallery

Chandigarh October 11, 2021

            The Photography exhibition by the students of USOL, Panjab University was inaugurated at Chandigarh Lalit Kala Akademy ’s Gallery at underpass connecting Sector 16 and 17, by Dr. Bheem Malhotra, Chairperson, Chandigarh Lalit Kala Akademy (CLKA) and Prof. Madhurima Verma, Chairperson, University School of Open Learning, PU. The exhibition is supported by CLKA. A total of 20 students pursuing PG Diploma in Photography (PGDP) from University School of Open Learning (USOL), Panjab University, Chandigarh are exhibiting their 55 works. The exhibition is open till 19th October 2021 (Tuesday).

            Prof. Madhurima Verma congratulated the students for displaying their art work for the general public and motivated the students of USOL to further hone their skills and creativity. Dr. Bheem Malhotra interacted with artists and appreciated their exhibited works.

            The photography exhibition was curated under the mentorship of Jeesu Jaskanwar Singh, Coordinator, PGDP and CLKA and in informed that this exhibition is part of the practical paper in the curriculum. The works of Amandeep Singh, Arrush Chopra, Abhinav Poonia, Deepak Gupta, Amanpreet Kaur, Tushar Narula, Suresh Kumar, Sahil Chaudhary, Vikas Kapila, Shubhangi Ambashtha, Neha Sharma, Sourav Joshi, Sarabjit Singh Bhinder, Sakshi Gaur, Vishal Chauhan, Hargobind Singh, Gagan Mittal, Jagdeep Singh, Paramdeep Singh and Jaspinder Singh are exhibited in the Group Photography Exhibition.

            During the USOL’s Personal contact Programme (PCP) students got insight into various aspects of Photography from Sh. Swadesh Talwar, Kulbhushan Kanwar, Vikas Kahol, Pradeep Tewari, Guldeep Singh, Sudhir Baweja, Shivali Raj, Praveen Jaggi, Anurag Malhotra, Neetu Katyal, Rajni Chauhan, Hitesh Vig, Sukhjit Singh, Vikram, Arun Bansal, Kamal Kishore Shankar and Pawan Sing. Besides that, students learnt about art of exhibiting the photographs from Sh. Gurdeep Dhiman, Gursharan Kaur, Michaelangelo and Jaspal Singh. The exhibited works covers wide range of topics like wildlife, nature, street photography, photojournalism, night photography, art photography, etc.

ਸਤਿੰਦਰ ਸਰਤਾਜ ਦੇ ਵੈਨਕੂਵਰ ਸ਼ੋ ਦੀਆਂ 1 ਕਰੋੜ 10 ਲੱਖ ਰੁਪਏ ਦੀਆਂ ਟਿੱਕਟਾਂਆਨ ਲਾਈਨ ਵਿਕੀਆਂ (ਕੁੱਲ ਇੱਕ ਸ਼ੋ ਵਿੱਚੋਂ 1 ਕਰੋੜ 38 ਲੱਖ ਦੀ ਸੇਲ

ਚੰਡਿਗੜ:

ਵੀ ਟਿਕਸ ਦੇ ਬੁਲਾਰੇ ਕੈਵਿਨ ਸ਼ੈਲੀ ਨੇ ਸਤਿੰਦਰ ਸਰਤਾਜ ਦੇ ਵੈਨਕੂਵਰ 7 ਨੰਵਬਰ ਨੂੰ ਹੋਣ ਵਾਲੇ ਵੈਨਕੋਵਰ ਸ਼ੋ ਬਾਰੇ ਹਾਊਸਫੁੱਲ ਦਾ ਫੱਟਾ ਲਾ ਦਿੱਤਾ ਹੈ। ਉਸ ਵੱਲੋਂ ਦਿੱਤੀ ਜਾਣਕਾਰੀ ਮੁਤਾਬਕ ਸਰਤਾਜ ਸ਼ੋ ਦੀਆਂ 1 ਲੱਖ 91 ਹਜ਼ਾਰ ਡਾਲਰ ਦੀਆਂ 2714 ਟਿੱਕਟਾਂਵਿਕ ਚੁੱਕੀਆਂ ਹਨ ਅਤੇ ਹੁਣ ਕੋਈ ਸੀਟ ਬਾਕੀ ਨਹੀਂ ਰਹੀ।

ਇਸਤੋਂ ਬਿਨਾਂ ਸਪਾਂਸਰਾਂ ਵੱਲੋਂ ਇਸ ਸ਼ੋ ਵਿੱਚ ਆਪਣੀ ਮਸ਼ਹੂਰੀ ਲਈਤਕਰੀਬਨ 50,000 ਕਨੇਡੀਅਨ ਡਾਲਰ ਲਾਏ ਗਏ ਹਨ।

ਇਸਸ਼ੋਦੀਆਂਟਿਕਟਾਂ50 ਦਿਨਪਹਿਲਾਂਹੀਵਿਕਗਈਆਂਹਨਜਿਹੜੀਕਿਪੰਜਾਬੀਸ਼ੋਅਬਾਰੇਅਜੀਬਜਿਹੀਗੱਲਹੈਅਤੇਇਸਨਾਲਵਿਦੇਸ਼ਾਂਵਿੱਚਪੰਜਾਬੀਗਾਈਕੀਦਾਚੰਗਾਰੁਝਾਨਵੱਧਰਿਹਾਹੈ।   ਇਸ ਗੱਲ ਦੀ ਪੁਸ਼ਟੀ ਕੈਨੇਡਾ ਦੀ ਫਿਰਦੌਸ ਪ੍ਰੋਡਕਸ਼ਨ ਕੰਪਨੀ ਨੇ ਵੀ ਕੀਤੀ ਹੈ। ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਗੱਲ-ਬਾਤ ਕਰਦੇ ਕਿਹਾ ਕਿ ਇਹ ਸ਼ੋ ਦੀ ਸਾਰੀਮਾਰਕਟਿੰਗ ਸ਼ੋਸ਼ਲ ਮੀਡੀਏ ਰਾਹੀਂ ਹੋਈ ਹੈ ਜਿਸਦੀ ਦੇਖ-ਰੇਖ ਅਮਰੀਕਨ ਕੰਪਨੀ ਨੇ ਕੀਤੀ ਹੈ। ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਦੱਸਿਆ ਕਿ ਇੱਕ ਵੀ ਟਿੱਕਟਮੁਫ਼ਤ ਵਿੱਚ ਨਹੀਂ ਦਿੱਤੀ ਗਈ।

 ਯਾਦ ਰਹੇ, ਡਾਕਟਰ ਸਤਿੰਦਰ ਸਰਤਾਜ ਪੰਜਾਬ ਦੇ ਉਹ ਗਾਇਕ ਹਨ ਜਿਹੜੇ ਸਾਫ਼ ਸੁਥਰੀ ਤੇ ਸਾਰਥਿਕ ਗਾਇਕੀ ਲਈ ਜਾਣੇ ਜਾਂਦੇ ਹਨ।ਪਿੱਛਲੇ 2-3 ਸਾਲਾਂ ਵਿੱਚ ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਆਪਣੀ ਕਾਰਜ-ਸ਼ੈਲੀ ਵਿੱਚ ਤਬਦੀਲੀ ਲਿਆਂਦੀ ਜਿਸ ਕਰਕੇ ਇਸ ਸਾਲ ਉਹਨਾਂ ਦੇ ਸ਼ੋਅ ਨੂੰ ਭਾਰੀਹੁੰਗਾਰਾ ਮਿਲ ਰਿਹਾ ਹੈ। ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਪਿੱਛਲੇ ਸਮੇਂ ਵਿੱਚ ਗੀਤਾਂ ਦੀ ਪੇਸ਼ਕਾਰੀ ਅਤੇ ਗਿਣਤੀ ਨੂੰ ਵਧਾਇਆ ਹੈ। ਹੁਣ ਉਹ ਹਰ ਮਹੀਨੇ ਹੀ ਇੱਕਗੀਤ ਰਲੀਜ਼ ਕਰਦੇ ਹਨ ਅਤੇ ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਲੋਕਾਂ ਵਿੱਚ ਪ੍ਰੋਗਰਾਮ ਤੇ ਚੈਰਿਟੀ ਦੇ ਕੰਮਾਂ ਨੂੰ ਵੀ ਵਧਾਇਆ ਹੈ।

 ਦਾ ਬਲੈਕ ਪ੍ਰਿੰਸ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਉਹਨਾਂ ਨੇ ਆਮ ਪਰਿਵਾਰਾਂ ਵਿੱਚ ਆ ਰਹੀਆਂ ਮੁਸ਼ਕਲਾਂ ਨੂੰ ਲੈ ਕੇ ਦੂਜੀ ਫ਼ਿਲਮ ਇੱਕੋ-ਮਿੱਕੇ ਲਿਆਂਦੀ ਜਿਸਨੂੰਚੰਗਾ ਹੁਲਾਰਾ ਮਿਲਿਆ।

ਉਹ ਪਿੱਛਲੇ ਮਾਰਚ ਵਿੱਚ ਰਲੀਜ ਹੋਈ ਸੀ ਪਰ ਕਰੋਨਾ ਮਾਹਮਾਰੀ ਕਰਕੇ ਦੋ ਦਿਨ ਬਾਅਦ ਹੀ ਲਾਹੁਣੀ ਪਈ।ਹੁਣ ਉਹ 26 ਨਵੰਬਰ ਨੂੰ ਦੁਬਾਰਾ ਰਲੀਜ਼ ਹੋ ਰਹੀ ਹੈ, ਚੰਗਾ ਹੁੰਗਾਰਾ ਮਿਲਣ ਦੀ ਆਸ ਹੈ। 

तीज पर्व पर छाई ओरेन अकादमी की छात्राएं, मोहा मन

सतीश बंसल, सिरसा: 

शहर के सुर्खाब चौक पर स्थित ओरेन अकादमी में तीज पर्व धूमधाम से मनाया गया। अकादमी के विद्यार्थी व स्टॉफ सदस्य परंपरागत वेशभूषा में आए व सांंस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। ओरेन के विद्यार्थियों की प्रस्तुतियों ने सभी का मन मोहा। भांगड़ा, गिद्दा व कविताओं की प्रस्तुतियां दी गई। सेंट्रल हेड रशमी अरोड़ा ने इस मौके पर कहा कि तीज त्यौहार बेटियों को समर्पित त्यौहार है। ओरेन अकादमी ने हमेशा बेटियों को प्रोत्साहित करने का कार्य किया है। तीज पर्व पर विद्यार्थियों ने शानदार प्रस्तुतियां दी है और पूरी अकादमी को तीज के रंग में रंग दिया। इस दौरान केक भी काटा गया। बेहतर प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों व स्टॉफ सदस्योंं को सम्मानित किया गया।

स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारियों को लेकर रिहर्सल आयोजित, स्कूली बच्चों ने दी रंगारंग प्रस्तुतियां

सिरसा, 09 अगस्त।
स्वतंत्रता दिवस समारोह को भव्य व आकर्षक बनाने के उद्देश्य से आज स्थानीय विवेकानंद वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय के ऑडिटोरियम में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए टीमों के चयन के लिए रिहर्सल की गई। इस अवसर पर जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी आत्म प्रकाश, सहायक परियोजना अधिकारी श्रीमती शशि सचदेवा, प्रिंसिपल प्रेम कंबोज, पीजीटी म्यूजिक गुरप्रीत, नवप्रीत व विक्रम की उपस्थिति में सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रिहर्सल करवाई गई। इस अवसर पर विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों ने रंगारंग प्रस्तुतियां दी।
इस अवसर पर राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय नेजाडेला कलां के बच्चों ने एक्शन सांग ‘ए मेरे वतन के लोगोंÓ की प्रस्तुति दी। इसके अलावा डीएवी स्कूल सिरसा के बच्चों ने राजस्थानी डांस ‘घूमर रामा पीÓ, प्रयास स्कूल, दिशा स्कूल, श्रवण वाणी दिव्यांग विद्यालय के बच्चों ने एक्शन सांग ‘ए वतनÓ, द सिरसा स्कूल सिरसा के बच्चों ने एक्शन सांग ‘सूनो गौर से दुनिया वालोंÓ, राजकीय कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने गिद्धा ‘नचा नचा नचाÓ, शाह सतनाम जी कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने हरियाणवी डांस ‘मेरे वतन तेरी के बात करूंÓ, सैंट जेवियर वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने कोरियोग्राफी ‘कोरोना के उपरांत पूर्नाेदयÓ, शाह सतनाम जी कन्या वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने भंगड़ा ‘लूटया सी मेरा असी लूट चल्याÓ, न्यू सतलुज वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय सिरसा के बच्चों ने राष्टï्रीय गान ‘जन गण मनÓ की प्रस्तुति दी।

सिरसा 9 अगस्त फोटो 11

अब जाकर पूरी हुई बॉबी बाजवा की मन्नत -बाबी बाजवा ने लाकडाउन का किया सदुपयोग

  पंचकूला 5 अगस्त :

एक ओर लाकडाउन में पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री का काफी नुकसान हुआ तो वहीं दूसरी ओर पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कई क्रिएटिव कलाकारों ने इसका लाभ उठाकर नया प्रोजेक्ट तैयार कर लिया। एेसे ही क्रिएटिव लोगों में नाम शुमार है पंजाबी फिल्मों के डायरेक्टर और सिंगर बाबी बाजवा का। जिन्होंने लाकडाउन में अपनी टीम के साथ काफी काम किया। बाबी बाजवा पंचकूला  स्थित आन स्पा में अपने नए ट्रैक मन्नत का पोस्टर रिलीज करने के लिए पहुंचे थे।बाबी बाजवा ने कहा कि उनका नया ट्रैक मन्नत एक रोमांटिक ट्रैक है। इस गीत के बोल तो शानदार हैं ही साथ ही इस ट्रैक को खूबसूरत वादियों में शूट किया गया है। यह ट्रैक यू ट्यूब चैनल सतरंग इंटरटेनमेंट में लांच कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि उनको उम्मीद है कि यह शानदार ट्रैक कई रिकार्ड बनाएगा। यह यूथ के साथ अन्य वर्गों को भी काफी पसंद आ रहा है।बंबी, ब्रांडेड और लव जैसे ट्रैक से प्रसिद्ध हो चुके बाबी बाजवा ने कहा कि वह एक हिंदी फिल्म का निर्देशन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मिट्टी दा बावा नाटक से उनके कैरियर की शुरुआत हुई थी। जिसके बाद उनकी जान पहचान फिल्म इंडस्ट्री में हुई।उन्होंने कहा कि बेशक कई नामी गायक पंजाबी फिल्मों में नायक बन गए हैं पर उनका ज्यादा ध्यान अपनी गायकी और निर्देशन पर है। उन्होेंने कहा कि गायकी के लिए वह रोजाना रियाज करते हैं। उनके साथ पोस्टर रिलीज के लिए फैशन डिजाइनर और एस्ट्रो न्यूमेरोलाजिस्ट गुनीत कौर और रेकी ग्रैंडमास्टर और टेरोकार्ड रीडर सतिंदर कौर भी पहुंची थीं। इस मौके पर बाबी बाजवा ने कहा कि आन स्पा एक शानदार स्पा है। उन्होंने कहा कि दौड़भाग की जिंदगी के बीच स्पा का महत्व बढ़ चुका है। उन्होंने बताया कि आन स्पा का माहौल एकदम शानदार है।

अपने 101 गानों में से एक *सोलो ट्रैक केहड़े राह* का पोस्टर रिलीज करने पहुंची मोहाली लिरिसिस्ट ,कम्पोजर शीनम सिंह

8 जून :

मिलखा सिंह से बेस्ट एथलीट अवार्ड विनर सिंगर ,लिरिसिस्ट ,कम्पोजर  शीनम सिंह अपने बचपन के सपने को पूरा करने के लिए अपने 101 गानों में से एक  *सोलो ट्रैक  केहड़े राह* का पोस्टर रिलीज।

केहड़े राह को लिरिक्स , कंपोज व गायन शीनम ने ही दिया है ,जबकि म्यूजिक सुखजिंद ने दिया है, डायरेक्टर इट्स हैरी ने दी है व मनवीर कलसी प्रोजेक्ट क्यूरेटर हैं । खूबसूरत लोकेशन के साथ शीनम का ये गीत आप सब के दिलों को छू जायेग।

 शीनम  अपनी कालेज के दिनों की इच्छा को पारिवारिक जिम्मेदारियों के चलते टाल रहीं थीं लेकिन महामारी के दौरान उन्हें महसूस हुआ कि जिंदगी अनिश्चितताओं से भरी है इसलिए बिना वक्त गवाएं अब वह अपने सपनों को जी लेना चाहती है । शीनम पंजाब की म्यूजिक इंडस्ट्री में अपने गानों के लिए एक लिव फ्री एंटरटेनमेंट नामक प्लेटफार्म भी लांच कर रही हैं ताकि युवाओं को कम  स्ट्रगल करना पड़े ।

शीनम दो प्यारी बच्चीयों की माँ हैं व बचपन से म्यूजिक की दीवानी है व कालेज के दिनों से गीत लिख रही हैं, लेकिन परिवार को प्राथमिकता देते हुए वह म्यूजिक से दूर रहीं लेकिन करोना काल से बनी अनिश्चितता ने उन्हें बिना वक्त गवाएं ,अपने पति व परिवार की मदद से पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री में मुकाम हासिल करने निकल पड़ी हैं

मंडी गोबिंदगढ़ की पली बढ़ी शीनम ,पंजाब यूनिवर्सिटी से एम काम में गोल्ड मेडलिस्ट भी रह चुकी है । शीनम का मानना है कि हमें अपना पैशन फॉलो करना चाहिए व फिर  हार्ड वर्क व डेडिकेशन से अपने काम में लग जाना चाहिए तो बेशक सफलता आपके कदम जरूर चूमेगी ।

 अपनी म्यूजिक कम्पनी लिव  फ्री एंटरटेनमेंट के बारे में बातचीत करते हुए शीनम ने कहा कि पंजाब में युवा टैलेंट की कमी नहीं है लेकिन उन्हें तराश कर सही दिशा दिखाने वाले प्लेटफार्म की कमी है इसीलिए शीनम ने ये प्लेटफार्म लांच किया है , कोई भी युवा टैलेंटेड कलाकार उनसे सम्पर्क करके लाभान्वित हो सकता है। 

ਕੋਵਿਡ -19 ਦੇ ਪ੍ਰੋਟੋਕਾਲ ਦੀ ਉਲੰਗਣਾ: ਜਿੱਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਗ੍ਰਿਫਤਾਰ

ਕਲਾਕਾਰ ਜਿੰਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਨੂੰ ਬੁੱਧਵਾਰ ਨੂੰ ਪੰਜਾਬ, ਲੁਧਿਆਣਾ ਵਿੱਚ ਕੋਰੋਨਾ ਗਾਈਡਲਾਈਨ ਦੀ ਉਲੰਘਣਾ ਦੇ ਦੋਸ਼ ਵਿੱਚ ਗ੍ਰਿਫ਼ਤਾਰ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਸੀ। ਇਸ ਤੋਂ ਪਹਿਲਾਂ ਮੰਗਲਵਾਰ ਨੂੰ ਉਸ ਨੂੰ ਫਿਲਮ ਦੀ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਲਈ ਚਲਾਨ ਦਿੱਤਾ ਗਿਆ ਸੀ। ਇਹ ਇਲਜਾਮ ਲਗਾਇਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ ਕਿ ਅਦਾਕਾਰ ਜਿੰਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਦੀ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਦੌਰਾਨ ਸਮਾਜਕ ਦੂਰੀਆਂ ਦੇ ਨਾਲ ਨਾਲ ਹੋਰ ਨਿਯਮਾਂ ਨੂੰ ਵੀ ਜ਼ੋਰਾਂ-ਸ਼ੋਰਾਂ ਨਾਲ ਹਟਾਇਆ ਗਿਆ।

ਨਰੇਸ਼ ਸ਼ਰਮਾ ਭਾਰਦਵਾਜ, ਜਲੰਧਰ:

ਕੋਵਿਡ -19 ਦੇ ਪ੍ਰੋਟੋਕਾਲ ਦੀ ਉਲੰਗਣਾ ਕਰਨ ਦੇ ਦੋਸ਼ਾਂ ਹੇਤ ਪੰਜਾਬੀ ਫਿਲਮੀ ਹੀਰੋ ਜਿੱਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਨੂੰ ਪੁਲਿਸ ਨੇ ਗ੍ਰਿਫਤਾਰ ਕੀਤਾ ਹੈ। ਜਿੱਮੀ ਲੁਧਿਅਨਾ ਚ ਨਾਈਟ ਕਰਫਿਊ ਦੌਰਾਨ ਇਕ ਵੈਬ ਸੀਰੀਜ਼ ਦੀ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਕਰ ਰਹੇ ਸਨ.ਜਿਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਤੋਂ ਇਲਾਵਾ ਲੁਧਿਆਂ ਪੋਲਿਸ ਨੇ ਅਕਾਸ਼ ਦੀਪ ,ਮਨਦੀਪ ਤੇ ਈਸ਼ਵਰ ਖਿਲਾਫ ਵੀ ਮਹਾਮਾਰੀ ਐਕਟ ਹੇਠ ਪਰਚਾ ਦਰਜ਼ ਕੀਤਾ ਹੈ। ਦੱਸ ਦੇਈਏ ਕਿ ਜਿੰਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਆਪਣੀ ਵੈੱਬ ਸੀਰੀਜ਼ ‘ਯੂਅਰ ਆਨਰ 2’ ਦੀ ਲੁਧਿਆਣਾ ਦੇ ਆਰੀਆ ਸਕੂਲ ਵਿਚ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਕਰ ਰਹੇ ਸਨ।

ਕਈ ਚਾਰ ਪਹੀਆ ਵਾਹਨ ਚਾਲਕਾਂ ਨੇ ਇੱਕ ਇੱਕ ਕਰਕੇ ਲੁਧਿਆਣਾ ਦੇ ਆਰੀਆ ਸਕੂਲ ਵਿੱਚ ਦਾਖਲ ਹੋਏ। ਜਦੋਂ ਅੰਦਰ ਵੇਖਿਆ ਗਿਆ ਤਾਂ ਪਤਾ ਲੱਗਿਆ ਕਿ ਇੱਕ ਪੰਜਾਬੀ ਫਿਲਮ ਦੀ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਚੱਲ ਰਹੀ ਹੈ। ਅਦਾਕਾਰ ਜਿੰਮੀ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ ਇਕ ਪੰਜਾਬੀ ਫਿਲਮ ਦੀ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਕਰਨ ਵਾਲੀ ਸੀ। ਆਰੀਆ ਸਕੂਲ ਨੂੰ ਸੈਸ਼ਨ ਕੋਰਟ ਲੁਧਿਆਣਾ ਦਾ ਰੂਪ ਦਿੱਤਾ ਗਿਆ ਹੈ। ਜਦੋਂ ਪੁਲਿਸ ਨੂੰ ਇਸ ਬਾਰੇ ਪਤਾ ਲੱਗਿਆ ਤਾਂ ਏਸੀਪੀ ਵਰਿਆਮ ਸਿੰਘ ਪੁਲਿਸ ਪਾਰਟੀ ਨਾਲ ਉਥੇ ਪਹੁੰਚ ਗਏ। ਉਸਨੇ ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਬੰਦ ਕਰ ਦਿੱਤੀ। ਫਿਲਮ ਦੇ ਨਿਰਦੇਸ਼ਕ ਨੇ ਉਸਨੂੰ ਮਨਜ਼ੂਰੀ ਦੇ ਕਾਗਜ਼ਾਤ ਦਿਖਾਏ। ਇਸ ਤੋਂ ਬਾਅਦ, ਉਸਨੇ ਦੋ ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਦੋ ਹਜ਼ਾਰ ਰੁਪਏ ਦੇ ਚਲਾਨ ਕੀਤੇ, ਜਿਸ ਵਿੱਚ ਡਾਇਰੈਕਟਰ ਵੀ ਸ਼ਾਮਲ ਹੈ, ਜਿਥੇ ਸਮਾਜਕ ਦੂਰੀਆਂ ਦੀ ਪਾਲਣਾ ਨਹੀਂ ਕੀਤੀ ਗਈ।

ਏਸੀਪੀ ਵਰਿਆਮ ਸਿੰਘ ਦਾ ਕਹਿਣਾ ਹੈ ਕਿ ਉਸਨੂੰ ਗੋਲੀ ਮਾਰਨ ਦੀ ਇਜਾਜ਼ਤ ਸੀ। ਸਮਾਜਿਕ ਦੂਰੀਆਂ ਦੀ ਉਲੰਘਣਾ ਕਰਨ ਵਾਲੇ ਦੋ ਵਿਅਕਤੀਆਂ ਦਾ ਚਲਾਨ ਕੀਤਾ ਗਿਆ ਹੈ. ਆਰੀਆ ਸਕੂਲ ਵਿਚ ਕਾਫ਼ੀ ਕਮਰੇ ਹਨ, ਹਰ ਕਮਰੇ ਵਿਚ ਪੰਜ ਤੋਂ ਛੇ ਲੋਕ ਸਨ. ਸ਼ੂਟਿੰਗ ਸਮੇਂ ਸਿਰ ਖਤਮ ਹੋ ਗਈ ਸੀ।

ਦੱਸਣਯੋਗ ਹੈ ਕਿ ਪੰਜਾਬ ਸਰਕਾਰ ਵਲੋਂ ਸੂਬੇ ’ਚ ਵੱਧ ਰਹੇ ਕੋਰੋਨਾ ਕੇਸਾਂ ਨੂੰ ਦੇਖਦਿਆਂ ਲਾਕਡਾਊਨ ਲਗਾਇਆ ਗਿਆ ਹੈ। ਇਥੋਂ ਤਕ ਕਿ ਵਿਆਹ ਤੇ ਅੰਤਿਮ ਸੰਸਕਾਰ ’ਚ 20 ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਇਕੱਠੇ ਹੋਣ ਦੀ ਛੋਟ ਦਿੱਤੀ ਗਈ ਹੈ ਪਰ ਇਥੇ 100 ਲੋਕਾਂ ਦੀ ਮੌਜੂਦਗੀ ਸਵਾਲੀਆ ਨਿਸ਼ਾਨ ਖੜ੍ਹੇ ਕਰਦੀ ਹੈ।

एक बेटी अपने पिता की गोद से बाहर जरूर निकल सकती है, लेकिन वो कभी पिता के दिल से बाहर नहीं निकल सकती

सतरंगी राजस्थान’, ‘बन्नी सा’ के बाद अब ‘विदाई’ गीत मचाएगा धूम
हरिप्रेम फिल्म ने की ‘विदाई’ गीत की ऑनलाईन लांचिंग
 
सतीश बंसल बांसवाड़ा-उदयपुर,/ सिरसा:

वागड़ गंगा माही के कारण प्राकृतिक दृष्टि से समृद्ध और कला-संस्कृति के धनी बांसवाड़ा को पर्यटन दृष्टि से देश-दुनिया तक पहुंचाने के लिए किए जा रहे प्रयासों की श्रृंखला में गत दिनों 80 लाख बार देखे गए ‘सतरंगी राजस्थान’ शीर्षक से विडियो गीत की अपार सफलता के बाद हरिप्रेम फिल्म्स द्वारा तैयार किए ‘विदाई’ शीर्षक गीत की ऑनलाईन लांचिंग रविवार को की गई।
अप्रत्याशित सफलता पाने वाले बांसवाड़ा में फिल्माएं और तैयार किए गए ‘सतरंगी राजस्थान’ और बन्नी सा के युवा फिल्म निर्देशक नितीन समाधिया के तीसरे ड्रीम प्रोजेक्ट ‘विदाई’ विडियो गीत की शूटिंग गत माह में ही संपन्न हुई है। उन्होंने बताया कि सिर्फ बांसवाड़ा की समृद्ध विरासत से देश-दुनिया को रूबरू करवाने के लिए इस राजस्थानी गीत का निर्माण किया गया है और यह भी सतरंगी राजस्थान की भांति राजस्थान की धड़कन बनेगा।
 हरिप्रेम फिल्म्स के विदाई गीत की पटकथा  पिता और पुत्री के प्यार के रिश्ते को दर्शाती है। ‘विदाई’ गीत का गायन स्वरुप खान ने किया है और म्यूजिक, लिरिक्स स्वरुप खान द्वारा निर्मित है। इसके साथ ही स्वरुप खान ने इस गीत में अपने अभिनय की प्रस्तुति दी है। गीत में राजस्थानी लोकवाद्यों का बखूबी इस्तेमाल किया है।  निर्देशक हरिप्रेम फिल्म के सीईओ नितिन समाधिया है। सहनिर्देशक अंकित चटर्जी, डीओपी अंकित चौहान व एडिटिंग अमन  ने की है। प्रोडक्शन टीम में महेंद्र समाधिया, रानी समाधिया, प्रसून कंसारा व आस्था भट्ट द्वारा सहयोग प्रदान किया गया। विदाई गीत की पटकथा  पिता और पुत्री के प्यार के रिश्ते को दर्शाती है जो की दिल को छू जाने वाली प्रस्तुति है। गीत के वीडियो में कलाकारों द्वारा की गई खूबसूरत प्रस्तुति गाने को और मनोहर बनाती है। अभिनेत्री आराध्या राव, अभिनेता कुनाल आचार्य व अभिनेता अनिल भागवत द्वारा मन मोहक प्रस्तुति दी गई है।  

ऐसा है विदाई गीत:

ऐसे तो पिता-पुत्री के रिश्ते को शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है,एक बेटी अपने पिता की गोद से बाहर जरूर निकल सकती है, लेकिन वो कभी पिता के दिल से बाहर नहीं निकल सकती है। यह तय है कि पिता के लिए बेटी का प्यार शब्दों से परे होता है। ऐसे ही पिता और पुत्री के प्यार भरे रिश्ते को राजस्थानी लोकगीत ‘विदाई’ में प्रस्तुत किया है। हर घर में बेटियां पिता की लाडली होती हैं। वैसे भी अक्सर यही कहा जाता है कि बेटे मां के करीब होते हैं तो बेटियां अपने पापा के ज्यादा करीब होती हैं। पापा की परी और घर में सबसे प्यारी, बड़ा गहरा चाव और लगाव होता है बाप-बेटी का, तभी तो उम्र के हर पड़ाव पर पापा उनके लिए खास भूमिका निभा रहे होते हैं। हरिप्रेम फिल्म ने अपने विदाई सॉन्ग में पिता पुत्री के इस  रिश्ते को अच्छे से दर्शाया है।

सेट पर 45 लोगों के कोरोना संक्रमित होने से टला अक्ष्य की फिल्म राम सेतु का छायांकन

मुंबई के मड आइलैंड में सोमवार यानी 5 अप्रैल को 100 लोगों की एक टीम फिल्म ‘राम सेतु’ के सेट पर पहुंचने वाली थी। लेकिन अक्षय कुमार और फिल्म के प्रड्यूसर विक्रम मल्होत्रा ने सभी के कोविड टेस्ट कराने का निर्णय लिया। बताया जा रहा है कि 100 लोगों में से 45 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इस तरह से अक्षय कुमार और विक्रम मल्होत्रा की सावधानी ने कई लोगों को कोरोना वायरस से बचाया है।

  • राम सेतु के लिए काम कर रहे 45 जूनियर आर्टिस्ट के कोरोना की चपेट में 
  • सभी कोरोना संक्रमितों को तुरंत क्वारंटीन कर दिया गया
  • 5 अप्रैल को 100 लोग राम सेतु के सेट पर अपना काम शुरू करने वाले थे

फिल्म ‘राम सेतु’ की शूटिंग के लिए कुछ ही दिनों पहले उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और फिर अयोध्या पहुँचे अभिनेता अक्षय कुमार कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। मुंबई के मढ द्वीप पर इस फिल्म की शूटिंग होनी थी। अभिनेत्री नुसरत भरूचा और जैकलीन फर्नांडिस भी इस फिल्म की शूटिंग कर रही थीं। अब इस फिल्म से जुड़े 45 जूनियर आर्टिस्ट कोरोना वायरस संक्रमण से पीड़ित हो गए हैं।

सोमवार (अप्रैल 5, 2021) को 100 जूनियर कलाकारों की एक टीम शूटिंग में शामिल होने वाली थी। फिल्म के मुख्य अभिनेता अक्षय कुमार और निर्माता विक्रम मल्होत्रा ने फिल्म की शूटिंग में शामिल होने वाली सभी कलाकारों का कोरोना टेस्ट अनिवार्य कर रखा है। एक दैनिक की खबर के अनुसार, 100 की टीम में से 45 का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव निकला। ‘फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलॉईज (FWICE)’ ने इस खबर की पुष्टि की है।

संगठन के महासचिव अशोक दुबे ने कहा कि ‘राम सेतु’ की शूटिंग के दौरान पूरी सावधानी बरती जा रही है। उन्होंने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि सभी 45 कोरोना पॉजिटिव कलाकारों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। अब शूटिंग को भी रोक दिया गया है। अगले 15 दिनों में इस फिल्म की शूटिंग फिर से शायद ही शुरू हो पाए। हर दो दिन पर सावधानी के लिए सेट पर सबका कोरोना टेस्ट किया जाता है।

बताया गया है कि पॉजिटिव आने वालों को आइसोलेट करने के साथ ही उनका खर्च भी ‘राम सेतु’ की टीम ही वहन करती है। अगर किसी को कुछ तकलीफ महसूस होती है तो उसे तुरंत आइसोलेट किया जाता है। अक्षय कुमार ने खुद कई बार टेस्ट कराया है। महाराष्ट्र में पहले से ही कोरोना के रोज 50,000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। पिछले 1 दिन में देश में 1 लाख मामले सामने आए, जो अब तक का सर्वाधिक है।

अक्षय कुमार ने सोशल मीडिया पर लिखा, “आप सभी की शुभकामनाओं और प्रार्थनाओं के लिए आभार। ऐसा लग रहा है जैसे उनका असर हो रहा है। मैं ठीक हूँ, लेकिन सावधानी के तौर पर मेडिकल सलाहों को मान कर मैं अस्पताल में हूँ। मैं जल्द ही घर वापस लौटूँगा।” इससे पहले अक्षय कुमार होम क्वारंटाइन में थे। उन्होंने पिछले कुछ दिनों में अपने संपर्क में आए सभी लोगों को कोरोना टेस्ट कराने की सलाह दी थी।

हाल ही में नुसरत ने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कुछ तस्वीरें शेयर की थीं, जिसमें वह ‘राम सेतु’ की स्क्रिाप्ट पढ़ते हुए नजर आ रही थीं। उन्होंने लिखा था, “Let’s do this!!”। इसी के साथ उन्होंने अक्षय कुमार, जैकलीन फर्नांडीज और फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक शर्मा को भी टैग किया था। उन्होंने इस फिल्म में मौका मिलने के लिए खुद को ‘सौभाग्यशाली’ करार दिया था। अक्षय, नुसरत और जैकलीन यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मिले थे।