पंजाब सरकार राज्य के लोगों की समस्याओं और शिकायतों का हल करने के लिए हर समय तैयार: कुलदीप सिंह धालीवाल

  • कैबिनेट मंत्री ने ‘जनता दरबार’ लगा कर कृषि, ग्रामीण विकास एवं पंचायत और प्रवासी भारतीय मामले विभागों से सम्बन्धित राज्य निवासियों की शिकायतें सुनी
  • विभागीय अधिकारियों को शिकायतों का हल करने के निर्देश दिए
  • हर मंगलवार ‘जनता दरबार’ लगाने का किया ऐलान

    राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब सरकार राज्य निवासियों की समस्याओं और शिकायतों का हल करने के लिए हर समय तैयार है और यह हल निर्धारित समय-सीमा में किये जाने यकीनी बनाऐ जाएंगे।

            पंजाब के कृषि एवं किसान कल्याण, ग्रामीण विकास एवं पंचायत और प्रवासी भारतीय मामलों से सम्बन्धित मंत्री स. कुलदीप सिंह धालीवाल ने आज ‘जनता दरबार’ लगा कर अपने विभागों से सम्बन्धित पंजाब के अलग-अलग हिस्सों में से आए लोगों की समस्याएँ सुनी और मौके पर ही विभागीय अधिकारियों को शिकायतों का हल करने के आदेश भी दिए।

            जि़क्रयोग्य है कि स. धालीवाल ने विकास भवन एस. ए. एस. नगर (मोहाली) में लगाऐ ‘जनता दरबार’ में 100 से अधिक शिकायतें सुनी और इनके समाधान के लिए जि़ला और राज्य अधिकारियों को आदेश भी दिए। उन्होंने जि़ले से सम्बन्धित अधिकारियों को सम्बन्धित शिकायतों से संबंध फ़ोन करके हल करने के आदेश भी दिए।

            स. धालीवाल ने हर मंगलवार प्रात:काल 10.30 से शाम 4.30 बजे तक विकास भवन एस. ए. एस. नगर (मोहाली) में ‘जनता दरबार’ लगाने का ऐलान भी किया।

पंचायत सचिवों की जायज माँगों का जल्द हल करेंगे – कुलदीप सिंह धालीवाल

माँगों सम्बन्धी विशेष कमेटी का किया गठन


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब सरकार पंचायत सचिवों की जायज माँगों का जल्द हल करेगी और इस सम्बन्धी एक विशेष कमेटी का गठन किया गया है।

            आज यहाँ पंचायत सचिवों की जत्थेबंदियों के सदस्यों के साथ मुलाकात करने के बाद पंजाब के ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने बताया कि जत्थेबंदी के सदस्यों ने उनके ध्यान में लाया है कि पंचायत सचिवों को अपने विभाग के इलावा दूसरे विभागों के काम भी सौंपे जाते हैं, जिस कारण पंचायत विभाग का काम प्रभावित होता है। उन्होंने कहा कि पंचायत सचिवों को, ग्राम सेवकों की तजऱ् पर वेतन देने और एक ही काडर बनाने के लिए सेवा नियमों में संशोधन करने समेत अन्य सभी मुद्दों को अन्य राज्यों की तजऱ् पर विचारा जायेगा।

            धालीवाल ने कहा कि डायरैक्टर ग्रामीण विकास एवं पंचायत गुरप्रीत सिंह खैहरा के नेतृत्व में डिप्टी सचिव स. हरकंवलजीत सिंह, डिप्टी डायरैक्टर स. जोगिन्दरजीत सिंह, डी. डी. पी. ओ. स. हरमनदीप सिंह, लॉ अफ़सर  कंवलजीत सिंह, डी. सी. एफ. ए. स. पलमिन्दर सिंह गिल और पंचायत सचिव स. मंगल सिंह,  भुपिन्दर सिंह,  कुलवंत सिंह,  वरिन्दर कुमार और  गुरप्रीत सिंह आदि विशेष कमेटी का गठन किया गया है जोकि पंचायत सचिवों के सर्विस रूलों से सम्बन्धित माँगों को विचारेगी और उनका हल तलाशेगी।

            वर्णनयोग्य है कि पंचायत सचिव जत्थेबंदी के सदस्यों ने पंचायत मंत्री का धन्यवाद करते हुये अपनी हड़ताल ख़त्म कर दी है और ग्राम सभाओं में पूर्ण सहयोग देने का भरोसा दिया है।

            इस मौके पर जत्थेबंदी के प्रतिनिधि जगमोहण सिंह कंग, जसपाल सिंह बाठ, निशान सिंह, जतिन्दर सिंह आदि भी उपस्थित थे

राज्य में 20 समर्पित ग्रामीण औद्योगिक हब स्थापित किए जाएंगे: मुख्यमंत्री

  • राज्य में औद्योगिक विकास एवं रोजग़ार को अधिक बढ़ावा देने के उद्देश्य से उठाया कदम
  • विभिन्न जिलों की ख़ास वस्तुओं के उत्पादन को यकीनी बनाने के लिए ‘एक जि़ला, एक उत्पाद का विचार किया पेश
  • निवेशकों की सुविधा के लिए राज्य में सिंगल विंडो सिस्टम को और मज़बूत करने का ऐलान


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            राज्य में ख़ास करके ग्रामीण क्षेत्रों में औद्योगिक विकास को अधिक बढ़ावा देने और नौजवानों के लिए रोजग़ार पैदा करने के उद्देश्य से पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्य भर में 20 समर्पित ग्रामीण औद्योगिक हब स्थापित करने का ऐलान किया है।

            औद्योगिक नीति के मसौदे के बारे विचार जानने के लिए यहाँ पंजाब सिवल सचिवालय में उद्योगपतियों के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कदम दो उद्देश्यों की पूर्ति करेगा क्योंकि यह एक तरफ़ जहाँ औद्योगिक विकास को बढ़ावा देगा, वहीं दूसरी तरफ़ ग्रामीण नौजवानों के लिए रोजग़ार के नये आयाम सृजित करेगा। उन्होंने कहा कि यह हब उद्योगपतियों को अपने यूनिट स्थापित करने में सुविधा देने के लिए अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे के साथ लैस होंगे। भगवंत मान ने इन औद्योगिक हबों में अपने यूनिट स्थापित करने के इच्छुक उद्योगपतियों को पूर्ण सहयोग और तालमेल का भरोसा दिलाया और कहा कि राज्य सरकार पंजाब में औद्योगिक विकास में तेज़ी लाने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है।

            मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने अलग-अलग जिलों की ख़ास वस्तुओं के उत्पादन को यकीनी बनाने के लिए ‘एक जि़ला, एक उत्पाद’ का विचार भी पेश किया। उन्होंने कहा कि इससे औद्योगिक वस्तुओं के उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिलेगी और उद्यमियों को एक जि़ले में से बढिय़ा गुणवत्ता वाले उत्पाद पैदा करने के योग्य बनाया जायेगा। भगवंत मान ने कहा कि राज्य भर के बहुत से जिलों में कई उत्पादों में महारत है और इसकी संभावना को ‘एक जि़ला, एक उत्पाद पर केंद्रित करके आगे बढ़ाया जा सकता है।

            एक अन्य एजंडे पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार निवेशकों की सुविधा के लिए सिंगल विंडो प्रणाली को और मज़बूत करने के लिए सख़्त यत्न कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की अनुप्रयुक्त नीतियों के साथ उद्योगों के लिए शांत माहौल और अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा, राज्य में औद्योगिक विकास के लिए अनुकूल माहौल मुहैया करता है। भगवंत मान ने कहा कि इससे पहले सिंगल विंडो सेवा सिर्फ़ एक धोखा थी, जिसमें कोई सार्थक मकसद नहीं था, जिसने न सिर्फ़ संभावित निवेशकों का हौसला घटाया, बल्कि राज्य के औद्योगिक विकास को ठेस पहुंचायी।

            मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने यह यकीनी बनाया है कि सिंगल विंडो सिस्टम राज्य में निवेश करने के इच्छुक उद्यमियों के लिए मानक सुविधा के तौर पर काम करे। उन्होंने कहा कि इसको और सुचारू बनाया जायेगा जिससे उद्योगपतियों को किसी किस्म की दिक्कत का सामना न करना पड़े। भगवंत मान ने उद्योगपतियों को भरोसा दिलाया कि ज़मीनी प्रयोग में तबदीली ( सी. एल. यू.) से सम्बन्धित लम्बित मसलों को भी जल्दी हल कर लिया जायेगा और आने वाले दिनों में इस विधि को और सरल बनाया जायेगा।


            मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अमन-शांति के माहौल के कारण पंजाब दुनिया भर में निवेश के लिए सबसे पसन्दीदा स्थान है। उन्होंने कहा कि अमन-शांति को हर सूरत में बरकरार रखा जायेगा और किसी को भी किसी भी कीमत पर इस को भंग करने की इजाज़त नहीं दी जायेगी। भगवंत मान ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि रोष-प्रदर्शन हर किसी का लोकतांत्रिक हक है परन्तु इसके बहाने राज्य की आर्थिक तरक्की को रास्ते से हटाने की किसी को भी इजाज़त नहीं दी जायेगी।

            इस दौरान उद्योगपतियों ने मुख्यमंत्री का नेतृत्व वाली राज्य सरकार की निवेशक समर्थकी नीतियों की सराहना की। उन्होंने यह भी कहा कि वह राज्य को विश्व भर में उद्योगों के केंद्र के तौर पर उभरने के लिए खुले दिल से योगदान डालेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि वे राज्य की सामाजिक-आर्थिक तरक्की में सक्रिय हिस्सेदार बनेंगे।

फ़ाज़िल्का शहर से बस अड्डा बाहर आने से ट्रैफिक़ की समस्या होगी हल

सरहदी क्षेत्र के लोगों को मिलेंगीं बेहतर बस सफर सहूलतें

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब के परिवहन मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने फ़ाज़िल्का के नये बस स्टैंड को जल्द से जल्द सुचारू ढंग से चलाने का हल निकालते हुये इसको परिवहन विभाग को तबदील करने के लिए कार्यवाही करने की हिदायत की है।

            लम्बे समय से ख़स्ता हाल की ओर बढ़ रहे नये बस स्टैंड को चलाने सम्बन्धी पंजाब सिविल सचिवालय में परिवहन और स्थानीय निकाय विभागों सहित ज़िला प्रशासन के उच्च अधिकारियों के साथ अहम मीटिंग के दौरान कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान की सरकार लोगों के पैसे को इस तरह बर्बाद नहीं होने देगी।

            मीटिंग के दौरान फ़ैसला लिया गया कि स्थानीय निकाय विभाग द्वारा नये बस स्टैंड और परिवहन विभाग द्वारा पुराने बस स्टैंड के स्वामित्व एक-दूसरे को तबदील किये जायेगे। मंत्री ने अधिकारियों को हिदायत की कि वह जल्द से जल्द जगह तबदील करने के संबंधी कार्यवाही करें और अधिक कीमत दूसरे विभाग को तुरंत ट्रांसफर करके इस मामले का निपटारा किया जाये।

            परिवहन मंत्री ने कहा कि बसों के नये बस अड्डे में तबदील होने से शहर में ट्रैफिक़ की समस्या हल हो जायेगी और शहर निवासी बेहतर सफर सहूलतों का फ़ायदा ले सकेंगे।

            कैबिनेट मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने बताया कि परिवहन विभाग को बस स्टैंड तबदील करने के बाद अगले चरण के दौरान वहां ज़रूरी सहूलतें जैसे बसों के लिए वर्कशॉप और डीज़ल पंप लगाने की योजना भी बनायी जायेगी।

डॉ. आंबेडकर ने शिक्षित बनो, संघर्ष करो, संगठित रहो का दिया था नारा : भूपेन्द्र गंगवा

बरवाला में संविधान निर्माता बाबा साहेब का परिनिर्वाण दिवस मनाया

पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :

                        बरवाला में बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस श्रद्धा के साथ मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगन्नाथ ने कहा कि बाबा साहेब को भारत के ऐतिहासिक सविधान के निर्माण के लिए सदैव याद किया जाता रहेगा। उन्होंने समाज के सभी वर्गों के उत्थान के लिए सविधान में व्यवस्था की।

                        वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व चेयरमैन भूपेंद्र गंगवा ने कहा कि सविधान के रचयिता डॉ. भीमराव अंबेडकर को युगों युगों तक याद किया जाता रहेगा। श्री गंगवा ने कहा कि डॉ भीमराव अम्बेडकर ने समाज के नागरिकों को शिक्षित बनो, संगठित रहो तथा संघर्ष करने का आह्वान किया था।  

            इन्हीं मूल मंत्रों का पालन करते हुए हम सभी को बाबा साहेब के अधूरे मिशन को पूरा करना हैं। श्री गंगवा ने कहा कि डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर अपने संघर्ष, परिश्रम व अध्ययनशीलता के आधार पर ऊंचाइयों को छुआ है। भूपेन्द्र गंगवा ने कहा कि बाबा साहब ने शिक्षित बनों, संगठित रहो तथा संघर्ष करो का नारा दिया था। शिक्षित बनने का अर्थ है कि हमारे ज्ञान के द्वार खुलते हैं और संगठित रहो का मतलब शक्ति प्राप्त करना हैं। उन्होंने उस समय समाज में फैली कुरीतियों के निराकरण के लिए लोगों को जागरूक भी किया था।

            इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता अश्वनी शर्मा, रोहताश ग्रोवर, मुरारी लाल बंसल, सुभाष देवीगढ़ पुनिया, पवन कुमार, प्रदीप कक्कड़, लेख राम, सोहनलाल, सुभाष चंद्र, टेकराम, प्रकाश चंद्र, अशोक कुमार, मीनू सिमर, रोहताश साधुराम, कविता देवी, विक्रम सिंह, पिंकी, सुमन, भीराराम, मनीष कुमार आदि मौजूद थे।

सैलजा को राष्ट्रीय महासचिव व छत्तीसगढ़ की प्रभारी बनाने पर राड़ा ने जताई खुशी

कांग्रेस नेता ने समर्थकों को मिठाई खिलाकर किया खुशी का इजहार

पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :

                        वरिष्ठ कांग्रेस नेता व प्रमुख समाजसेवी रामनिवास राड़ा ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री कुमारी सैलजा को राष्ट्रीय महासचिव व छत्तीसगढ़ की प्रभारी बनाए जाने पर खुशी जाहिर की है।

            राड़ा ने अपने समर्थकों को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया। रामनिवास राड़ा ने कहा की कुमारी सैलजा कांग्रेस की सीनियर व कदावर नेता है जिनका इतिहास सदैव कांग्रेस को समर्पित रहा है। कुमारी सैलजा 2 बार केंद्रीय कैबिनेट मंत्री, 4बार लोकसभा सांसद, 2 बार राजयसभा से सांसद व हरियाणा कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष रह चुकी है और फिलहाल कांग्रेस की सर्वोच्च संचालन समिति की सदस्य भी है।  

            कांग्रेस नेता राड़ा ने कहा की कुमारी सैलजा इतने लम्बे राजनितिक इतिहास के बावजूद बेदाग, ईमानदार व एक कुशल छवि की धनी है। उन्होंने कहा कि कुमारी सैलजा को राष्ट्रीय महासचिव व छत्तीसगढ़ का प्रभारी बनाए जाने पर हिसार में खुशी है।

कांट्रैक्ट व गैस्ट टीचर्स ने किया गवर्नर हाउस को कूच

  • शासन व चंडीगढ़ प्रशासन के ढुलमुल रवैये से टीचर्स में रोष 
  • तहसीलदार ने चंडीगढ़ प्रशासन के लिए मस्जिद ग्राउंड में आकर  लिया ज्ञापन

डेमोक्रेटिक फ्रंट संवाददाता, चंडीगढ़ – 6 दिसंबर :

            आज गैस्ट टीचर्स एसोसिएशन ने चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा मस्जिद ग्राउंड में शिक्षा विभाग द्वारा की जा रही रैगुलर भर्तियों में छूट व रैगुलराइजेशन पालिसी न बनाने के विरोध में रोष प्रदर्शन किया गया । इस रोष प्रदर्शन में यूटी एस एस फैडरेशन,आल कांटरैकचुअल कर्मचारी संघ ने भी भाग लिया ।

            शिक्षक दिवस पर इन कांट्रैक्ट व गैस्ट टीचर्स द्वारा काला दिवस मनाया गया था परन्तु प्रशासन पर इसका कोई असर नहीं हुआ ।

            पिछले मंगलवार डायरेक्टर स्कूल दफ्तर का भी घेराव किया गया । एक हफ्ते बाद आज मस्जिद ग्राउंड में कांट्रैक्ट व गैस्ट टीचर्स द्वारा भारी संख्या में भाग लेकर गवर्नर हाउस को कूच किया गया । 

            पुलिस प्रशासन के आश्वासन व टीचर्स में बढ़ते रोष के कारण तहसीलदार को मौके पर आकर ज्ञापन लेना पड़ा ।

            चंडीगढ़ प्रशासन ने पिछले 25 सालों से कार्यरत कांट्रैक्ट व गैस्ट टीचर्स के लिए कोई रैगुलराइजेशन पालिसी नहीं बनाई हैं । हालांकि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों अनुसार दस साल की सेवा को नियमित किया जा सकता है परन्तु चंडीगढ़ प्रशासन इससे अपना पल्ला झाड़ न‌ई भर्तियों के लिए ज्ञापन देने की तैयारी कर रहा है जिससे हजारों कांट्रैक्ट व गैस्ट टीचर्स में रोष बढ़ता नजर आ रहा है ।

            इस रोष प्रदर्शन में रणबीर राणा, कंवलजीत सिंह, बिपिन शेर सिंह, पूनम टपरियाल, अमित कुमार,जगदीप कुमार, मोहम्मद सलीम, शिव मूरत, प्रवीण कुमार,अजय शर्मा इत्यादि ने संबोधित किया व भाग लिया ।

            गै‌स्ट टीचर्स एसोसिएशन ने ऐलान किया अगर  शासन व चंडीगढ़ प्रशासन रैगुलर भर्तियों में छूट व रैगुलराइजेशन पालिसी नहीं बनाता तो संघर्ष को तेज़ किया जाएगा और सभी टीचर्स परिवार समेत आमरण अनशन पर बैठेंगे ।

कुमारी सैलजा कांग्रेस पार्टी  का महासचिव तथा छत्तीसगढ़ प्रदेश का प्रभारी बनीं

डेमोक्रेटिक फ्रंट संवाददाता, पंचकूला 6 दिसंबर :

              हरियाणा के पूर्व उप मुख्यमंत्री चन्द्र मोहन ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और  हरियाणा कांग्रेस की  पूर्व प्रधान और वरिष्ठ कांग्रेस नेता  कुमारी सैलजा को  कांग्रेस पार्टी  का महासचिव बनाने के साथ साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है । इस नियुक्ति के लिए कांग्रेस हाईकमान  का आभार व्यक्त करते हुए  उन्होंने कहा कि इस फैसले से यह सिद्ध होता है कि कुमारी सैलजा का राजनीतिक के क्षेत्र में जो अनुभव है उसका पूरा लाभ उठाने का प्रयास किया गया है।


                  उन्होंने कहा कि कांग्रेस हाईकमान का यह विवेक पूर्ण निर्णय है। इस फैसले से जहां कांग्रेस पार्टी को एक नई ऊर्जा मिलेगी वहीं आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों में भी कांग्रेस पार्टी विजयश्री हासिल करके एक नया इतिहास बनायेगी।


                   पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नवनियुक्त अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष  मल्लिकार्जुन खड़गे के नेतृत्व में कांग्रेस आने वाले चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करते हुए  लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं पर खरा उतरने का हर संभव प्रयास करेंगी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से हाल में हरियाणा प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव हुए हैं और इन पंचायतों और  जिला परिषद के चुनावों में हरियाणा की जनता ने भारतीय जनता पार्टी को करारा सबक सिखाया है ।

            उन्होंने विश्वास व्यक्त किया है कि आने वाले लोकसभा और विधानसभा के चुनावों में भी कांग्रेस पार्टी  परचम लहरायेगा  और इसी प्रकार से चुनाव परिणामों की पुनरावृत्ति होगी ताकि कांग्रेस पार्टी लोगों के विश्वास पर खरा उतरने का  हर संभव प्रयास करेगी ।

अच्छे भविष्य का  निर्माण के लिये बच्चों को अच्छे व बुरे स्पर्श की देनी होगी जानकारी

            जागरूकता शिविर के दौरान स्कूल के बच्चों को बाल यौन शोषण क्या है व बाल यौन शोषण का बच्चों पर प्रभाव, बच्चों को शिक्षा संबंधी, सुरक्षित स्पर्श व असुरक्षित स्पर्श की जानकारी दी गई । असुरक्षित स्पर्श से कैसे बचाव  किया जा सकता है, यह भी बच्चो को बताया गया। बच्चों को बताया गया कि वह किसी भी असुरक्षित स्थान पर अकेले ना जाए व  किसी अनजान व्यक्ति से बातचीत ना करें।

कोरल ‘पुरनूर’, डेमोक्रेटिक फ्रंट, पंचकूला – 6 दिसंबर :

            महिला एवं बाल विकास विभाग पंचकूला द्वारा जिला कार्यक्रम अधिकारी बलजीत कौर की देखरेख में चलाए जा रहे जागरूकता अभियान के तहत जिला बाल सरंक्षण इकाई मे कार्यरत कानून एवं परीक्षा अधिकारी निधि मलिक ने आज गवर्नमेंट प्राइमरी मॉडल स्कूल सेक्टर 20 आशियाना के बच्चों को जागरूक किया।


            आज के समय में महिला अपराध के साथ-साथ बाल अपराध की घटनाएं भी दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। बच्चों के शोषण से जुड़ने वाले बहुत मामले सामने आ रहे हैं। ऐसी स्थिति में बदलते समय के साथ अब यह जरूरी हो गया है कि बच्चे भी अपनी सुरक्षा को लेकर अलर्ट रहे। बच्चों को इसके प्रति जागरूक होना पड़ेगा क्योकि  इसका सबसे पहला कारण होता है कि बच्चे को यह मालूम ही नहीं होता कि उन्हें किस तरह से छुआ जा रहा है। इसलिए परिवार के सदस्यों व टीचर्स के लिए यह जरूरी है कि वह बच्चों को यह सिखाया जाये कि गुड टच और बैड टच में क्या अंतर है ताकि वह खुद जागरूक रहें और समय पर अपने माता-पिता को इस संबंध में सूचित कर सकें।


            जागरूकता शिविर के दौरान स्कूल के बच्चों को बाल यौन शोषण क्या है व बाल यौन शोषण का बच्चों पर प्रभाव, बच्चों को शिक्षा संबंधी, सुरक्षित स्पर्श व असुरक्षित स्पर्श की जानकारी दी गई । असुरक्षित स्पर्श से कैसे बचाव  किया जा सकता है, यह भी बच्चो को बताया गया। बच्चों को बताया गया कि वह किसी भी असुरक्षित स्थान पर अकेले ना जाए व  किसी अनजान व्यक्ति से बातचीत ना करें। यदि कोई छोटी व बड़ी उम्र का व्यक्ति उन्हें अकेले में बुलाता है या बाद में किसी अलग जगह पर आने को कहता है तो वह वहां ना जाए।

            बच्चों को बताया गया कि कोई भी ऐसी  गलत हरकत होने पर शोर मचाये, जोर से चिल्लाए। वह इसकी शिकायत अपने घर परिवार के  सदस्य व स्कूल में पढ़ाने वाले अपने टीचर को भी कर सकते हैं। यदि बच्चा परिवार व टीचर को बताने में असमर्थ हो तो वह चाइल्ड हेल्पलाइन नम्बर 1098 या 112 पर फोन करके भी अपनी बात साँझा कर सकता है। यह राष्ट्रीय फोन सेवा मुफ्त है । बच्चों को बाल यौन शोषण पर आधारित एनिमेटेड  फिल्म कोमल देखने के लिए कहा गया। 10 मिनट की इस कोमल फिल्म के माध्यम से बच्चों को ‘नो टच एरियाज’ के बारे में बताया गया है कि यह शरीर केवल आपका है और अगर कोई बिना बताए या आपकी सहमति के बिना उसे छूता है तो आप उसका विरोध करें।

            अध्यापको को भी कहा गया कि वह बच्चों कि पहचान करे कि कही कोई बच्चा यौन शोषण के शिकार तो नहीं हो रहा है । यदि बच्चा स्कूल आने का इच्छुक ना हो या किसी से बात करना पसंद ना करें और सबसे अलग रहने लगे तो उन्हें बच्चें पर ध्यान देने की आवश्यकता है क्योंकि ऐसा बच्चा कहीं ना कहीं मानसिक तौर पर परेशान होता है व उसे कोई परेशानी होती है तो एक अध्यापिका ही बच्चे के साथ दोस्त की तरह व्यवहार करके बच्चे की परेशानी को साझा कर सकती है।

            इसके साथ ही बच्चों को बाल अधिकार व बच्चों मे बढ़ रहे लैंगिक अपराधों से सुरक्षा व बच्चों को सही पोषण व स्वच्छता की जानकारी दी गई । बच्चों को दैनिक जीवन में खेल को बढ़ावा देने व मोबाइल फोन से दूर रहने के लिए कहा गया। बच्चे खेल को बढ़ावा देंगे तो उनका शारीरिक व मानसिक दोनों रूप में विकास होगा। बच्चों के अनैतिक व्यवहार के दुरुपयोग के बारे में भी जानकारी दी गई। जागरूकता शिविर के दौरान स्कूल इंचार्ज पिंकी मैम व अन्य अध्यापिका मोजूद रहे।

मिस एंड मिसेज इंडिया क्लासिक क्राउन क्वीन 2022 शो 11 दिसंबर को होगा आयोजन

संदीप सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ – 5 दिसंबर :

            आज भारत का सबसे बड़ा ब्यूटी पेजेंट शो-मिस एंड मिसेज इंडिया क्लासिक क्राउन क्वीन 2022 रविवार(11 दिसंबर) को चंडीगढ़ में आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि होंगी मंजरी प्रिया गुप्ता, जबकि सम्मानित अतिथि के तौर पर रिया गोयल बावा, प्रतिमा बहादुर, प्रीति कौर, वेनिका राजावत, रुचि शर्मा और पल्लवी सिंह शामिल रहेंगी।

            शो की आयोजक, मीत संधू, डायरेक्टर एमएस एंटरटेनमेंट, ने कहा,“शो के विजेताओं को आगामी वेब सीरीज और लघु फिल्मों में अभिनय करने का अवसर मिलेगा। कई अन्य छोटे प्रोजेक्ट भी पाइपलाइन में हैं।”

            उन्होंने आगे कहा कि जूरी में अलपा शाह, दिव्या गुजराल, हीना गुसाई और श्वेता चौबे जैसी हस्तियों रहेंगी। विशेष अतिथियों की सूची भी शानदार है, जिसमें गायक शाहजादा, डॉ सोनल चुघ्ज्ञ,डॉ सरबजीत कौर, डॉ ज्योर्तिमय भारती, सुपरना बर्मन, सोनाली शर्मा,अंकिता पराशर,और बिम्पी रेखी जैसे नाम शामिल हैं।

            शो के सेलिब्रिटी मेहमान होंगे बलवीर चोटियन, जैस्मीन चॉटियन, जेनिफर शर्मा, प्रवेश रावत, नवनीत कौर, मेघा डोगरा, शिवांगी परब, पंजाब चीमा, नम्रता कामत, जस ग्रेवाल, सोनू हुरिया, और गायक जेसन। वीआईपी मेहमानों में मधु यादव, मिस मोनिका (अनमोल टीवी), और डॉ उपासना सिंह कालरा के नाम शामिल हैं। 

            शो के डायरेक्टर हैं साइमन कम्बोज,जबकि ईवेंट पार्टनर हैं रजनीश मौर्य और दिनेश सरदाना। विक्रम कुमार शो को एंकर करेंगे और सेलिब्रिटी ग्रूमर अर्चना शेफर अपनी सेवाएं देंगी। मेकअप प्रायोजक हैं गीता वर्मा और क्रिएटिव ज़ोन की अनु गुप्ता। सेलिब्रिटी डिजाइनर शिवानी (ब्यूटी फैशन) भी शो का हिस्सा हैं। यह शो अनमोल टीवी और अंजाने टीवी द्वारा स्पॉन्सर्ड है।