पूर्व उपमुख्यमंत्री चंद्रमोहन ने काली माता मन्दिर में नवाया शीश,पूर्व चेयरमैन विजय बंसल समेत दर्जनों कांग्रेसी रहे मौजूद

  • राम नवमी के अवसर पर इलाकावासियों के सुख समृद्धि व स्वस्थ जीवन के लिए मनोकामना की 
  • बालाजी मंदिर में भी शीश नवाने पहुंचे चन्द्रमोहन,पिंजोर में कांग्रेसी कार्यकर्ता का जाना हाल
  • कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने चन्द्रमोहन का कालका पहुंचने पर गर्मजोशी से किया स्वागत

कालका न्यूज(14 अक्टूबर 2021):

मां दुर्गा के सिद्धी एवं मोक्ष देने वाला स्वरूप माँ सिद्धीदात्री के अराधना व उपासना दिवस महानवमी के पावन पर्व एवं नौवे नवरात्रे पर हरियाणा सरकार के उपमुख्यमंत्री व कालका से लगातार 4 बार विधायक रहे श्री चन्द्रमोहन ने महामाई काली माता के दरबार मे पूर्व चेयरमैन विजय बंसल एडवोकेट व अन्य कांग्रेस नेताओं के साथ शीश नवाया।चन्द्रमोहन ने काली माता के दर्शन करते हुए इलाकावासियों के सुख समृद्धि व स्वस्थ जीवन के लिए मनोकामना की तो वही पूजा अर्चना करते हुए सभी के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रार्थना की। इसके साथ ही यह भी प्रार्थना की है कि माता रानी का आशीर्वाद सभी पर बना रहे।कालका बाजार में चन्द्रमोहन के प्रति लोगो मे काफी जोश व उत्साह देखने को मिला।चन्द्रमोहन ने मंदिर प्रांगण में श्रद्धालुओं व ऑन ड्यूटी कर्मियों से भी मुलाकात कर कुशलक्षेम जाना और कर्मियों द्वारा नवरात्रों के 9 दिन की गई सेवा के लिए भी आभार प्रकट किया। 

चन्द्रमोहन ने कहा कि कालका उनका घर है जहां के लोगो ने 4 बार उन्हें विधानसभा भेजा और प्रदेश का उपमुख्यमंत्री बनाया।कालका में आकर उन्हें बहुत खुशी महसूस होती है।उन्होंने कहा कि आज बड़े दुख की बात है कि जिस कालका को हमने विकास के पथ पर चलाया था उसे अब भाजपा ने जनविरोधी नीतियों से उतार दिया है।अब तो कालका पिंजोर के प्रमुख सड़क की हालत दयनीय है जोकि बेहद चिंता का विषय है।उन्होंने कहा कि वह इस बारे में आला अधिकारियों से बात करेंगे।विजय बंसल ने चन्द्रमोहन से आग्रह किया है कि कालका मंदिर के लिए स्थाई पार्किंग व अलग से श्राइन बोर्ड बनाने की मांग को पूरा करवाया जाए।चन्द्रमोहन ने इसके लिए सभी को कहा है कि वह इस मांग को पूरा करवाने के लिए पूरे प्रयास करेंगे। 

चन्द्रमोहन के साथ पूर्व चेयरमैन विजय बंसल एडवोकेट,सोहन लाल,दीपांशु बंसल,बहादुर राणा,ओम शुक्ला,बलविंदर मुरादनगर,राजू अभयपुर आदि पहुंचे तो वही कालका मंदिर में पहुंचने पर कालका बार एसोसिएशन प्रधान हरभजन राणा,पूर्व पार्षद आरके वैद,संजीव राजू पूर्व पार्षद,पूर्व पार्षद हरभजन,भूपेंद्र गौतम पूर्व ब्लाक कालका कांग्रेस प्रधान,सुरेंद्र चौहान,सागर सोनकर अध्यक्ष कालका एनएसयूआई,सितार चंद वाल्मीकि,सूरजभान दहिया सदरू खान आदि ने स्वागत किया।नगर पालिका कालका के पूर्व प्रधान प्रेम गुप्ता ने भी चन्द्रमोहन का कालका पहुंचने पर स्वागत किया। 

कालका काली माता मंदिर भंडारा कमेटी के प्रधान संजय बंसल पूर्व पार्षद,राजेश गुप्ता एडवोकेट व अन्य ने भी चन्द्रमोहन का भंडारा कमेटी की ओर से स्वागत किया और माता रानी के चरणों मे चन्द्रमोहन के उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रार्थना की। 

चन्द्रमोहन ने काली माता मंदिर में माथा टेकने के बाद ऐतिहासिक बालाजी मंदिर टिपरा कालका में शीश नवाया।इसके ततपश्चात पिंजोर में कांग्रेस के बहुत पुराने कार्यकर्ता गुरूप्यारा के घर पहुंचकर उनके दामाद के आकस्मिक निधन पर खेद प्रकट किया तो वही उन्हें गुरूप्यरा का कुशलक्षेम जाना। 
फोटो केप्शन : श्री काली माता मंदिर कालका में शीश नवाते हुए पूर्व डिप्टी सीएम चन्द्रमोहन,विजय बंसल व अन्य।

हरियाणा के खेल एवं युवा मामले मंत्री सरदार संदीप सिंह ने श्री काली माता मंदिर कालका में माता के चरणों में टेका माथा

 पचंकूला, 12 अक्तूबर:

अश्विन नवरात्रों के अवसर पर आज हरियाणा के खेल एवं युवा मामले मंत्री सरदार संदीप सिंह ने श्री काली माता मंदिर कालका में माता के चरणों में माथा टेका तथा पूजा-अर्चना कर माता का आशीर्वाद प्राप्त किया।

इस अवसर पर उनके साथ कालका की पूर्व विधायक एवं भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष श्रीमती लतिका शर्मा ने भी माता के चरणों में शीश नवाया।
इस अवसर पर सभी को नवरात्रों की शुभकामनाएं देते हुए सरदार संदीप सिंह ने बताया कि आज उन्होंने नवरात्रों के शुभ अवसर पर कालका स्थित काली माता मंदिर में माथा टेक कर माता का आर्शीवाद लिया है। इसके साथ ही उन्होंने मंदिर के साथ लगते गुरुद्वारा पहली पातशाही में नतमस्तक हुए। उन्होंने कहा कि उन्होंने कामना की है जिसके भी जीवन में जो उद्देश्य है वो पूरा हो।

इस मौके पर काली माता मंदिर के सचिव श्री पृथ्वीराज चैहान सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

पंचांग 12 अक्टूबर 2021

ॐ देवी कात्यायन्यै नमः॥
या देवी सर्वभू‍तेषु माँ कात्यायनी रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः॥

नवरात्रि के छठे दिन आदिशक्ति श्री दुर्गा के छठे रूप कात्यायनी की पूजा-अर्चना का विधान है। महर्षि कात्यायन की तपस्या से प्रसन्न होकर आदिशक्ति ने उनके यहां पुत्री के रूप में जन्म लिया था। इसलिए वे कात्यायनी कहलाती हैं। माता कात्यायनी की उपासना से आज्ञा चक्र जाग्रति की सिद्धियां साधक को  स्वयंमेव प्राप्त हो जाती हैं। वह इस लोक में स्थित रहकर भी अलौकिक तेज और प्रभाव से युक्त हो जाता है तथा उसके रोग, शोक, संताप, भय आदि सर्वथा विनष्ट हो जाते हैं।

नोटः आज सरस्वती पूजन तथा भद्रकाली अवतार है।

विक्रमी संवत्ः 2078, 

शक संवत्ः 1943, 

मासः आश्विनी़, 

पक्षः शुक्ल पक्ष, 

तिथिः सप्तमी रात्रिः 09.48 तक है।

विशेषः आज उत्तर दिशा की यात्रा न करें। अति आवश्यक होने पर मंगलवार को धनिया खाकर, लाल चंदन,मलयागिरि चंदन का दानकर यात्रा करें।

 वारः मंगलवार, 

नक्षत्रः मूल प्रातः कालः 11.26 तक हैं, 

योगः शोभन प्रातः काल 08.50 तक, 

करणः गर, 

सूर्य राशिः कन्या, चंद्र राशिः धनु, 

राहु कालः अपराहन् 3.00 से 4.30 बजे तक, 

सूर्योदयः06.24, सूर्यास्तः05.51 बजे।

अंबाला लोकसभा सांसद रतनलाल कटारिया व कुरुक्षेत्र लोकसभा सांसद नायब सिंह सैनी ने श्री माता मनसा देवी मंदिर में किये माता के दर्शन

-पूजा अर्चना कर व यज्ञशाला में आहुति डाल लिया माता का आशीर्वाद

पंचकूला, 11 अक्तूबर:

अश्विन नवरात्रों के अवसर पर आज अंबाला लोकसभा सांसद श्री रतनलाल कटारिया व कुरुक्षेत्र लोकसभा सांसद श्री नायब सिंह सैनी ने श्री माता मनसा देवी मंदिर में पूजा अर्चना कर महामायी का आशीर्वाद लिया और यज्ञ में आहुति डाली। इस अवसर पर श्री रतनलाल कटारिया की धर्मपत्नी व गेल की पूर्व निदेशक श्रीमती बंतो कटारिया  और श्री नायब सिंह सैनी की धर्मपत्नी श्रीमती सुमन सैनी भी उपस्थित थी।

सांसद रतनलाल कटारिया ने देश व प्रदेशवासियों को नवरात्रों की शुभकामनायें देते हुये कहा कि नवरात्रों के उपलक्ष्य में दुर्गा पूजा का कार्यक्रम देशभर में पूरे हर्षोंल्लास से मनाया जा रहा हैं। उन्होंने कहा कि देश के कोने कोने से भगतजन यहां अपनी मनोकामनायें लेकर आते हैं और माता मनसा देवी उनकी मनोकामनाओं को पूरा करती हैं।

उन्होंने कहा कि नवरात्रों में देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व्रत रख महामायी से देश की सुख व समृद्धि की कामना करते है। उन्होंने कहा कि दूसरे नवरात्रे पर हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, पहले दिन हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय व तीसरे नवरात्रे पर पंजाब के राज्यपाल व यूटी चंडीगढ के प्रशासक श्री बनवारी लाल पुरोहित ने महामायी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया व देश व प्रदेश के लोगों की सुख व समृद्धि के लिये कामना की। उन्होनंे कहा कि आज उन्होंने भी अंबाला लोकसभा के प्रतिनिधि के रूप में हरियाणावासियों व देशवासियों की प्रगति व सुख समृद्धि के लिये कामना की है। उन्होंने कहा कि उन्हें पूर्ण विश्वास है कि माता ऐसी सभी अभिलाषाओं को पूरा करेंगी।
कुरुक्षेत्र लोकसभा सांसद श्री नायब सिंह सैनी ने कहा कि आज उन्होंने महामायी के दर्शन कर प्रदेश व देश के लोगों के लिये मंगलकामना की है। उन्होंने कहा कि साथ ही उन्होंने मां के चरणों में देश व प्रदेशवासियों के उज्जवल भविष्य व स्वस्थ जीवन के लिये प्रार्थना की है।

इस अवसर पर उपायुक्त एवं माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य प्रशासक श्री विनय प्रताप सिंह, बोर्ड की सचिव शारदा प्रजापति, बीजेपी जिला महामंत्री परमजीत कौर, जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद, पार्षद सोनिया सूद, श्री माता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के सदस्य नरेंद्र जैन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

पंचांग, 11 अक्टूबर 2021

शुक्लां ब्रह्मविचारसारपरमामाद्यां जगद्व्यापिनीं ।
वीणा-पुस्तक-धारिणीमभयदां जाड्यान्धाकारापाहां ॥
हस्ते स्फाटिक मालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थिताम ।
वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदां

नोटः आज सरस्वती आवाहन्

चैत्र नवरात्रि के पांचवे दिन मां स्कंदमाता की पूजा होती है, मान्यता है कि यह माता भक्तों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति करती हैं। इन्हें मोक्ष के द्वार खोलने वाली माता के रूप में पूजा जाता है। स्कंदमाता का स्वरुप मन को मोह लेने वाला होता है। इनकी चार भुजाएं होती हैं, जिससे वो दो हाथों में कमल का फूल थामे दिखती हैं। एक हाथ में स्कंदजी बालरूप में बैठे होते हैं और दूसरे से माता तीर को संभाले दिखती हैं। ये कमल के आसन पर विराजमान रहती हैं। इसीलिए इन्हें पद्मासना देवी के नाम मान से भी जाना जाता है, सिंह इनका वाहन है। शेर पर सवार होकर माता दुर्गा अपने पांचवें स्वरुप स्कन्दमाता के रुप में भक्तजनों के कल्याण के लिए सदैव तत्पर रहती हैं।

विक्रमी संवत्ः 2078, 

शक संवत्ः 1943, 

मासः आश्विनी़, 

पक्षः शुक्ल पक्ष, 

तिथिः षष्ठी रात्रिः 11.51 तक है। 

विशेषः आज पूर्व दिशा की यात्रा न करें। अति आवश्यक होने पर सोमवार को दर्पण देखकर, दही,शंख, मोती, चावल, दूध का दान देकर यात्रा करें।

वारः सोमवार, 

नक्षत्रः ज्येष्ठा 

रात्रि कालः 12.56 तक हैं, 

योगः सौभाग्य प्रातः काल 11.49 तक, 

करणः कौलव, 

सूर्य राशिः कन्या, चंद्र राशिः वृश्चिक 

राहु कालः प्रातः 7.30 से प्रातः 9.00 बजे तक, 

सूर्योदयः06.24, सूर्यास्तः05.52 बजे।

पंचांग, 09 अक्टूबर 2021

नाोटः चतुर्थी तिथि का क्षय है। नवरात्र के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा होती है। मां का यह रूप बेहद ही सुंदर, मोहक और अलौकिक है। चंद्र के समान सुंदर मां के इस रूप से दिव्य सुगंधियों और दिव्य ध्वनियों का आभास होता है। मां का यह स्वरूप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है। इनके मस्तक में घंटे का आकार का अर्धचंद्र है इसलिए इन्हें चंद्रघंटा देवी कहा जाता है।

विक्रमी संवत्ः 2078, 

शक संवत्ः 1943, 

मासः आश्विनी़, 

पक्षः शुक्ल पक्ष, 

तिथिः तृतीया प्रातः 07.49 तक है। 

विशेषः आज पूर्व दिशा की यात्रा न करें। शनिवार को देशी घी, गुड़, सरसों का तेल का दानदेकर यात्रा करें।

वारः शनिवार, 

नक्षत्रः विशाखा सांय कालः 04.47 तक हैं, 

योगः प्रीति 

सांय काल  06.29 तक, 

करणः गर, 

सूर्य राशिः कन्या, चंद्र राशिः तुला, 

राहु कालः प्रातः 9.00 बजे से प्रातः 10.30 तक, 

सूर्योदयः06.22, सूर्यास्तः05.54 बजे।

पंचांग 08 अक्टूबर 2021 माँ ब्रह्मचारिणी के नाम है दूसरा नवरात्र

नोटः आज द्वितीय शरद् नवरात्रि है। ब्रह्मचारिणी माँ की नवरात्र पर्व के दूसरे दिन पूजा-अर्चना की जाती है। साधक इस दिन अपने मन को माँ के चरणों में लगाते हैं। ब्रह्म का अर्थ है तपस्या और चारिणी यानी आचरण करने वाली। इस प्रकार ब्रह्मचारिणी का अर्थ हुआ तप का आचरण करने वाली। इनके दाहिने हाथ में जप की माला एवं बाएँ हाथ में कमण्डल रहता है। माँ दुर्गाजी का यह दूसरा स्वरूप भक्तों और सिद्धों को अनन्तफल देने वाला है। इनकी उपासना से मनुष्य में तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार, संयम की वृद्धि होती है। जीवन के कठिन संघर्षों में भी उसका मन कर्तव्य-पथ से विचलित नहीं होता. माँ ब्रह्मचारिणी देवी की कृपा से उसे सर्वत्र सिद्धि और विजय की प्राप्ति होती है। दुर्गा पूजा के दूसरे दिन इन्हीं के स्वरूप की उपासना की जाती है। इस दिन साधक का मन ‘स्वाधिष्ठान ’चक्र में शिथिल होता है। इस चक्र में अवस्थित मनवाला योगी उनकी कृपा और भक्ति प्राप्त करता है। इस दिन ऐसी कन्याओं का पूजन किया जाता है कि जिनका विवाह तय हो गया है लेकिन अभी शादी नहीं हुई है। इन्हें अपने घर बुलाकर पूजन के पश्चात भोजन कराकर वस्त्र, पात्र आदि भेंट किए जाते हैं।

विक्रमी संवत्ः 2078, 

शक संवत्ः 1943, 

मासः आश्विनी़, 

पक्षः शुक्ल पक्ष, 

तिथिः द्वितीया प्रातः 10.49 तक है। 

विशेषः आज पश्चिम दिशा की यात्रा न करें। शुक्रवार को अति आवश्यक होने पर सफेद चंदन, शंख, देशी घी का दान देकर यात्रा करें।

वारः शुक्रवार, 

नक्षत्रः स्वाती सांय कालः 06.59 तक हैं, 

योगः विष्कुम्भक रात्रि काल 10.03 तक, 

करणः कौलव, 

सूर्य राशिः कन्या, चंद्र राशिः तुला, 

राहु कालः प्रातः 10.30 बजे से दोपहर 12.00 बजे तक, 

सूर्योदयः06.22, सूर्यास्तः05.55 बजे।

भक्ति – अध्यातम ही नहीं अपितु व्यापार वाणिज्य से भी परिपूर्ण करते हैं शारदीय नवरात्रे

माँ भगवती

धर्म संस्कृति डेस्क, चंडीगढ़:

पित्र पक्ष में अपने पित्रों को तृप्त कर खुशी खुशी विदा करते हैं वहीं से शारदीय नवरात्रों का उल्लास त्योहारों की एक निरंतर लड़ी के आगमन की सूचना भी लाता है। आषाढ़ मास की आखिरी मूलाधार के पश्चात दक्षिणायन होते रश्मीरथी आर्याव्रत की भूमि पर अपनी उग्र उष्णता कम कर सौम्य होते जाते हैं मानों वह भी नवरात्रों में माँ भगवती का स्वागत कर रहे हों।

शारदीय नवरात्रि केवल मात्र शक्ति पूजन ही नहीं है, यह धन – धन्य से परिपूर्ण करने वाला समय है। जहां एक ओर हम माता के नौं रूपों की भक्ति करते हैं वहीं हमरे खलिहानों को भरने का समय भी होता है। नयी फसलें ज्वार , बाजरा , धान , मक्का , मूंग , सोयाबीन , लोबिया , मूंगफली , कपास , जूट , गन्ना , तम्बाकू , आदि से हमारे व्यापार – वाणिज्य में नवप्राणों का उत्सर्ग होता है। नया धान आने से कुटाई छनाई (शेल्लर उद्योग) गतिमान होता है वहीं गुड शक्कर और खांडसेरी की भट्टियाँ भी जल उठतीं हैं। चहुं ओर उल्लास का साम्राज्य दिखाई पड़ता है।

आज अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि (07 अक्तूबर) से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत होती है। शारदीय नवरात्र का व्रत सभी महिलाएं और पुरुष कर सकते हैं। अगर कोई व्यक्ति खुद व्रत ना कर सके तो वह अपनी पुत्र या ब्राम्हण को अपना प्रतिनिधि बनाकर व्रत को पूर्ण करवा सकता है।

panchang

पंचांग, 06 अक्टूबर 2021

नोटः आज अमावस/महालय सर्वपितृ श्राद्ध है। तथा सर्वपितृ श्राद्ध पितृ विसर्जन  चतुर्दशी/अमावस तिथि का श्राद्ध, श्राद्ध समाप्त, अज्ञात मृत्यु तिथि वालों का श्राद्ध है।

विक्रमी संवत्ः 2078, 

शक संवत्ः 1943, 

मासः आश्विनी़, 

पक्षः कृष्ण पक्ष, 

तिथिः अमावस सांयः 04.35 तक है।

विशेषः आज उत्तर दिशा की यात्रा न करें। अति आवश्यक होने पर बुधवार को राई का दान, लाल सरसों का दान देकर यात्रा करें।

 वारः बुधवार, 

नक्षत्रः हस्त 

रात्रि कालः 11.20 तक हैं, 

योगः ब्रह्म प्रातः काल 08.32 तक, 

करणः नाग, सूर्य

राशिः कन्या,  चंद्र राशिः कन्या, 

राहु कालः दोपहर 12.00 बजे से 1.30 बजे तक, 

सूर्योदयः06.21, सूर्यास्तः05.57 बजे।

Rashifal

राशिफल, 05 अक्तूबर

Aries

05 अक्तूबर, 2021:  दूसरों की इच्छाएँ आपकी अपना ख़याल रखने की इच्छा से टकराएगी- अपने जज़्बात को बांधे नहीं और वे काम करें जिससे आपको सुकून मिले। अगर आप छात्र हैं और विदेशों में जाकर पढ़ाई करना चाहते हैं तो घर की आर्थिक तंगी आज आपके माथे पर शिकन ला सकती है। जिन्हें आप चाहते हैं, उनके साथ उपहारों का लेन-देन करने के लिए अच्छा दिन है। आपका हमदम आपको पूरे दिन याद करता रहेगा। उसे कोई प्यारा सरप्राइज़ देने की योजना बनाएँ और इसे उसके लिए एक ख़ूबसूरत दिन में तब्दील करने के बारे में सोचें। योजनाओं को अमली जामा पहनाने और नयी परियोजनाओं को शुरू करने के लिए अच्छा दिन है। दिन के अंत में आज आप अपने घर के लोगों को वक्त देना चाहेंगे लेकिन इस दौरान घर के किसी करीबी के साथ आपकी कहासुनी हो सकती है और आपका मूड खराब हो सकता है. जब आप अपने जीवनसाथी से भावनात्मक तौर पर जुड़ते हैं, तो नज़दीकी अपने आप महसूस की जा सकती है।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Taurus

05 अक्तूबर, 2021:  शारीरिक लाभ के लिए, विशेषकर मानसिक तौर पर मज़बूती हासिल करने के लिए ध्यान और योग का आश्रय लें। कोई बेहतरीन नया विचार आपको आर्थिक तौर पर फ़ायदा दिलायेगा। कुछ लोग आपकी झुंझुलाहट की वजह बन सकते हैं, उन्हें नज़रअंदाज़ करें। इकतरफ़ा प्यार आपके लिए काफ़ी ख़तरनाक साबित होगा। अहम लोगों से बातचीत करते वक़्त अपने आँख-कान खुले रखिए, हो सकता है आपके हाथ कोई क़ीमती बात या विचार लग जाए। आज खाली वक्त्त किसी बेकार के काम में खराब हो सकता है। आपका जीवनसाथी रोज़ाना की ज़रूरतों को पूरा करने से अपने हाथ पीछे खींच सकता है, जिसके चलते आपका मन उदास होने की संभावना है।   व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Gemini

05 अक्तूबर, 2021:   आज आपकी सेहत अच्छी रहेगी, जिसके चलते आप सफलता की ओर तेज़ी-से बढ़ेंगे। ऐसी हर चीज़ से परहेज़ करें, जिससे आपकी शक्ति नष्ट न हो। धन की आवश्यकता कभी भी पड़ सकती है इसलिए आज जितना हो अपने पैसे की बचत करने का विचार बनाएं। किसी धार्मिक स्थल या संबंधी के यहाँ जाने की संभावना है। आपके महसूस करेंगे कि फ़िज़ाओं में प्यार घुला हुआ है। नज़रें उठाकर तो देखिए, आपको सब-कुछ प्रेम के रंग में रंगा दिखाई देगा। काम और घर पर दबाव आपको थोड़ा ग़ुस्सैल बना सकता है। इस राशि के लोग बड़े ही दिलचस्प होते हैं। ये कभी लोगों के बीच रहकर खुश रहते हैं तो कभी अकेले में हालांकि अकेले वक्त गुजारना इतना आसान नहीं है फिर भी आज दिन में कुछ समय आप अपने लिए जरुर निकाल पाएंगे। वैवाहिक जीवन में कई उतार-चढ़ाव के बाद एक-दूसरे के प्यार को सराहने का यह सही दिन है।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Cancer

05 अक्तूबर, 2021:   मनोवैज्ञानिक डर आपको बेचैन कर सकता है। सकारात्मक सोच और हालात के उजले पहलू को देखना आपको इससे बचा सकता है। आर्थिक तौर पर बेहतरी के चलते आपके लिए ज़रूरी चीज़ें ख़रीदना आसान होगा। अपने सामाजिक जीवन को दरकिनार न करें। अपनी व्यस्त दिनचर्या में से थोड़ा-सा समय निकालकर अपने परिवार के साथ किसी आयोजन में शिरकत करें। यह न सिर्फ़ आपका दबाव कम करेगा, बल्कि आपकी झिझक भी मिटा देगा। अपने प्रिय से कुछ भी तल्ख़ कहने से बचें- नहीं तो बाद में आपको पछताना पड़ सकता है। आज ऑफिस में आपको अच्छे परिणाम नहीं मिलेंगे। आपका कोई खास ही आज आपके साथ विश्वासघात कर सकता है। जिसकी वजह से आप दिनभर परेशान रह सकते हैं। आप अपनी छुपी ख़ासियत का इस्तेमाल कर दिन को बेहतरीन बनाएंगे। जीवनसाथी यह जता सकता है कि आपके साथ रहने का क्या-क्या ख़ामियाज़ा उसे भुगतना पड़ रहा है।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Leo
Leo

05 अक्तूबर, 2021:  शक्की स्वभाव के चलते आपको हार का मुँह देखना पड़ सकता है। चंद्र की स्थिति की वजह से आज आपका धन बेवजह की चीजों पर खर्च हो सकता है। अगर आपको धन संचय करके रखना है तो अपने जीवनसाथी या माता पिता से इस बारे में बात करें। एक बेहतरीन शाम के लिए रिश्तेदार/दोस्त घर आ सकते हैं। अपने प्रिय की नाराज़गी के बावजूद अपना प्यार ज़ाहिर करते रहें। व्यापारियों के लिए अच्छा दिन है। व्यवसाय के लिए अचानक की गयी कोई यात्रा सकारात्मक परिणाम देगी। आज ऐसी कई सारी चीज़ें होंगी – जिनकी तरफ़ तुरन्त ग़ौर करने की आवश्यकता है। जीवनसाथी के साथ वाद-विवाद होने की काफ़ी संभावना है।   व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Virgo

05 अक्तूबर, 2021: बहुत ज़्यादा मानसिक दबाव और थकान परेशानी की वजह बन सकता है। सेहत को ठीक बनाए रखने के लिए पर्याप्त आराम करें। निवेश करना कई बार आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है आज आपको यह बात समझ में आ सकती है क्योंकि किसी पुराने निवेश से आज आपको मुनाफा हो सकता है। लोगों के साथ ठीक तरह से पेश आएँ, ख़ास तौर पर उनके साथ जो आपसे प्यार करते हैं और आपका ख़याल रखते हैं। आज आप अपने दोस्त की महक उसकी अनुपस्थिति में महसूस करेंगे। आज आपकी कलात्मक और रचनात्मक क्षमता को काफ़ी सराहना मिलेगी और इसके चलते अचानक लाभ मिलने की संभावना भी है। खाली समय का पुरा आनंद उठाने के लिए आपको लोगों से दूर होकर अपने पसंदीदा काम करने चाहिए। ऐसा करके आपमें सकारात्मक बदलाव भी आएंगे। यह दिन आपके जीवन में वसंत-काल की तरह है – रोमानी व प्यार से भरा; जहाँ सिर्फ़ आप और आपका जीवनसाथी साथ हों।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Libra
Libra

05 अक्तूबर, 2021:  आपका दानशीलता का व्यवहार आपके लिए छुपे हुए आशीर्वाद की तरह सिद्ध होगा, क्योंकि यह आपको शक, अनास्था, लालच और आसक्ति जैसी ख़राबियों से बचाएगा। आप ख़ुद को नए रोमांचक हालात में पाएंगे- जो आपको आर्थिक फ़ायदा पहुँचाएंगे। लोगों और उनके इरादों के बारे में जल्दबाज़ी में फ़ैसला न लें। हो सकता है कि वे दबाव में हों और उन्हें आपकी सहानुभूति व विश्वास की ज़रूरत हो। ज़िंदगी में एक नया मोड़ आ सकता है, जो प्यार और रोमांस को नयी दिशा देगा। इस राशि के कारोबारियों को आज कारोबार के सिलसिले में अनचाही यात्रा करनी पड़ सकती है। यह यात्रा आपको मानसिक तनाव दे सकती है। नौकरी पेशा लोगों को आज ऑफिस में इधर-उधर की बातें करने से बचना चाहिए। आज आप बिना किसी वजह के कुछ लोगों के साथ उलझ सकते हैं। ऐसा करना आपके मूड को तो खराब करेगा ही साथ ही इससे आपका कीमती समय भी बर्बाद होगा। वैवाहिक जीवन के लिए विशेष दिन है। अपने जीवनसाथी को बताएँ कि आप उनसे कितना प्यार करते हैं।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Scorpio

05 अक्तूबर, 2021:  परिवार के कुछ सदस्य अपने ईर्ष्यालु स्वभाव से आपके लिए झुंझलाहट की वजह बन सकते हैं। लेकिन अपना आपा खोने की ज़रूरत नहीं है, नहीं तो हालात बेक़ाबू हो सकते हैं। याद रखें, जिसे सुधारा नहीं जा सकता, उसे स्वीकार करने में ही भलाई है। आज आपको अपनी संतान की वजह से आर्थिक लाभ होने की संभावना नजर आ रही है। इससे आपको काफी खुशी होगी। घरेलू ज़िन्दगी में कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है। आज अपने प्रिय को माफ़ करना न भूलें। बड़े उद्योगपतियों के साथ साझीदारी का व्यवसाय फ़ायदेमंद रहेगा। आज आप ऑफिस से घर वापस आकर अपना पसंदीदा काम कर सकते हैं। इससे आपके मन को शांति मिलेगी। जीवनसाथी की ख़राब सेहत का असर आपके काम-काज पर भी पड़ सकता है, लेकिन आप किसी तरह चीज़ें संभालने में क़ामयाब रहेंगे।   व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Sagittarius

05 अक्तूबर, 2021:  झल्लाना और खीजना आपकी सेहत ख़राब कर सकता है। पुरानी बातों में न उलझें और जितना हो सके आराम करने की कोशिश करें। आज मुमकिन है कि आपको धन से जुड़ी कोई समस्या हो लेकिन अपनी सूझबूझ से आप हानि को भी मुनाफे में बदल सकते हैं। अपने परिवार के सदस्यों की भावनाओं को आहत करने से बचने के लिए अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखिए। आपका काम दरकिनार हो सकता है- क्योंकि आप अपने प्रिय की बांहों में ख़ुशी, आराम और उल्लास महसूस करेंगे। भागीदार आपकी योजनाओं और व्यावसायिक ख़यालों के प्रति उत्साही होंगे। जीवन का आनंद लेने के लिए आपको अपने दोस्तों को भी समय देना चाहिए। अगर आप समाज से कटकर रहेंगे तो आवश्यकता पड़ने पर आपके साथ भी कोई नहीं होगा। शादिशुदा ज़िन्दगी के तमाम मुश्किल दिनों के बाद आप और आपका हमदम फिर प्यार की गर्माहट महसूस कर सकते हैं।   व्यक्तिगत स मस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Capricorn

05 अक्तूबर, 2021:  हाल की घटनाओं से आपका मन बेचैन हो सकता है। शारीरिक और मानसिक लाभ के लिए ध्यान व योग फ़ायदेमंद साबित होंगे। माली सुधार की वजह से ज़रूरी ख़रीदारी करना आसान रहेगा। अपने जीवन-साथी के साथ अपनी गोपनीय जानकारी बांटने से पहले सोच लें। अगर मुमकिन हो तो इससे बचें, क्योंकि इन बातों के बाहर फैलने का ख़तरा है। आज अचानक किसी से रोमांटिक मुलाक़ात हो सकती है। कार्यक्षेत्र के नज़रिए से आज का दिन आपका है। इसका भरपूर फ़ायदा उठाएँ। अगर कहीं बाहर जाने की योजना है तो वह आख़िरी वक़्त पर टल सकती है। शादीशुदा ज़िन्दगी के नज़रिए से चीज़ें काफ़ी अच्छी रहेंगी। व्यक्तिगत स मस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Aquarius

05 अक्तूबर, 2021:  रोज़मर्रा की गतिविधियों में गर्भवती महिलाओं को सावधानी बरतने की आवश्यकता है। रात के समय आप आज आपको धन लाभ होने की पूरी संभावना है क्योंकि आपके द्वारा दिया गया धन आज आपको वापस मिल सकता है। आज के दिन बिना कुछ ख़ास किए आप आसानी से लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने में क़ामयाब रहेंगे। व्यक्तिगत मार्गदर्शन आपके रिश्ते में सुधार लाएगा। सहकर्मियों और वरिष्ठों के पूरे सहयोग के चलते दफ़्तर में काम तेज़ रफ़्तार पकड़ लेगा। दूसरों को यह बताने के लिए ज़्यादा उतावले न हों कि आज आप कैसा महसूस कर रहे हैं। यह शादीशुदा ज़िन्दगी के सबसे ख़ास दिनों में से एक है। आपको प्रेम की गहराई का अनुभव करेंगे।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 8194959327

Pisces

05 अक्तूबर, 2021:  बच्चे आपके मुताबिक़ नहीं चलेंगे, जो आपके झुंझलाहट की वजह बन सकता है। आपको ख़ुद पर नियंत्रण रखना चाहिए, क्योंकि नाराज़गी सभी के लिए नुक़सानदेह है और यह सोचने-समझने की ताक़त को ख़त्म कर देती है। इससे सिर्फ़ मुश्किल बढ़ती है। आपकी मनोकामनाएं दुआओं के ज़रिए पूरी होंगी और सौभाग्य आपकी तरफ़ आएगा- और साथ ही पिछले दिन की मेहनत भी रंग लाएगी। घरेलू ज़िन्दगी में कुछ तनाव का सामना करना पड़ सकता है। प्रेम-संबंध में ग़ुलाम की तरह व्यवहार न करें। कार्यक्षेत्र की बात करें तो आपकी टीम का सबसे ज़्यादा खीझने वाला व्यक्ति काफ़ी समझदारी की बातें करता नज़र आ सकता है। आज कुछ ऐसा दिन है जब चीजें उस तरह नहीं होंगी, जैसी आप चाहते हैं। बिन बुलाए किसी मेहमान की वजह से आपकी योजनाएँ तो गड़बड़ा सकती हैं, लेकिन आपका दिन ख़ुशनुमा हो जाएगा।  व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषाचार्य से संपर्क करे, दूरभाष : 819495932