मकर सक्रांति पर चण्डीगढ़ के सभी स्कूलों में आयोजित होगा ऑनलाइनसूर्य नमस्कार कार्यक्रम

चण्डीगढ़ के राष्ट्रीय स्तर के योग खिलाड़ियों को सूर्य नमस्कार एंबेसडर चुना गया

चण्डीगढ़ :

चण्डीगढ़ योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन द्वारा आजादी केअमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत भारत सरकार के आयुष मंत्रालय के आह्वान पर 14 जनवरी को मकर सक्रांति के अवसर पर सभी स्कूलों के विद्यार्थियों को सुबह सात बजे से ऑनलाइन सूर्य नमस्कार का अभ्यास संपन्न कराया जाएगा। चण्डीगढ़ शिक्षा विभाग के डीईओ ऑफिस की ओर से इस कार्य हेतु नियुक्त कोऑर्डिनेटर जितेंद्र सिंह ने बताया कि शहर के अनेक गैर सरकारी संस्थान तथा विभिन्न खेल एसोसिएशंस भी इसमें अपना सहयोग देने के लिए आगे आये हैं तथा चण्डीगढ़ ताइक्वांडो एसोसिएशन तथा चंडीगढ़ योग्य धारा केंद्र भी अपना योगदान देंगे।

चण्डीगढ़ स्टेट योगासन एसोसिएशन ने आह्वान किया कि अधिक से अधिक संख्या में लोग 14 जनवरी 2022 को प्रातः 7:00 बजे इस कार्यक्रम में प्रतिभागी भाग लें और अन्य लोगों को भी प्रतिभागिता हेतु प्रेरित करें। जितेंद्र सिंह के मुताबिक भारतीय संस्कृति विलक्षण एवं संपूर्ण मानव के विकास और निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करती रही है और इस क्रम में सूर्य नमस्कार की अपनी ही महत्वपूर्ण भूमिका सिद्ध हुई है। सूर्य नमस्कार 12 आसनों का समूह है और इसके अभ्यास से शरीर की तमाम व्याधियां समाप्त हो जाती है और शरीर में स्वच्छता और सुदृढ़ता भी आती है। यह एकाग्रता और मानसिक विकास में भी अत्यधिक सहायक सिद्ध हुआ है व इसके अभ्यास से आध्यात्मिक चेतना की भी जागृति होती है।

चण्डीगढ़ के राष्ट्रीय स्तर के योग खिलाड़ियों को सूर्य नमस्कार एंबेसडर चुना गया
चण्डीगढ़ के राष्ट्रीय स्तर के योग खिलाड़ियों सिमरन, अभय, देव,विनय, अंजलि, तनीषा, प्रभाकर, ईश्वर, कामिनी एवं रामकुमार को चंडीगढ़ स्टेट के सूर्य नमस्कार एंबेसडर चुना गया है। चण्डीगढ़ योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन के चेयरमैन रोहितघावरी ने इन सभी के चयन पर इन्हे बधाई दी है।
उल्लेखनीय है कि चण्डीगढ़ समेत देश भर के सभी स्कूलों में आज़ादी का अमृत महोत्सव आयोजनों के तहत मकर सक्रांति के अवसर पर सूर्य नमस्कार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। केंद्रीय आयुष मंत्रालय द्वारा इस बारे में विशेष निर्देश जारी किए गए हैं। निर्देशों के मुताबिक ऑनलाइन क्लासेज के दौरान विद्यार्थियों को सूर्य नमस्कार करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा तथा उन्हें सूर्य नमस्कार से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में भी अवगत करवाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि इस वृहद  कार्यक्रम के तहत देश व विदेशों के सभी अग्रणी योग संस्थान यथा इंडियन योग एसोसिएशन, नेशनल योग स्पोर्ट्स फेडरेशन, योग सर्टिफिकेशन बोर्ड, फिट इंडिया आदि जुड़े हुए हैं।

1 जनवरी 2022 से 15 से 18 वर्ष के बच्चों को पोर्टल पर करवाना होगा अपना रजिस्ट्रेशन

हरियाणा की खट्टर सरकार ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर फिलहाल कोई नया प्रतिबंध लगाने से इनकार कर दिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंत्रालय में कोरोना संक्रमण को लेकर मंत्री और अफसरों के साथ बैठक की. मुख्यमंत्री ने साफ कर दिया कि प्रदेश में फिलहाल कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा। इससे पहले जो रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाया गया है, वह यथावत जारी रहेगा। रात में 11:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक का कर्फ्यू रहेगा। प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां सामान्य तौर पर संचालित रहेंगी, जो कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं वह पहले की तरह ही चलते रहेंगे। किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में भीड़ न छूटे, इसके लिए प्रयास किए जाएंगे।

‘पुरनूर’ कोरल, पंचकूला, 31 दिसंबर:

  • स्कूली बच्चे अपने आई कार्ड से भी करवा सकेंगे कोविड टीकाकरण

उपायुक्त महावीर कौशिक की अध्यक्षता में कोविड-19 के बढ़ते हुये मामलों को लेकर लघु सचिवालय के सभागार में संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई।
इस अवसर पर नगराधीश सिमरनजीत कौर, स्वास्थ्य विभाग की डिप्टी सीएमओ और कोविड-19 इम्यूनाईजेशन की नोडल अधिकारी मीनू सासन भी उपस्थित थे।
बैठक में 15 से 18 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण की तैयारियों को लेकर चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि 15 से 18 साल के बच्चों को केवल कोवैक्सिन की डोज दी जायेगी। जिले की सभी सीएचसी और पीएचसी पर बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा। कमांड अस्पताल पर टीकाकरण की यह सुविधा सिर्फ सैनिक व उनके परिजनों के लिये ही उपलब्ध रहेगी।
उन्होंने बताया कि 1 जनवरी से 15 से 18 वर्ष के बच्चों को पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिये आधार कार्ड आवश्यक होगा। स्कूली बच्चे अपना आई कार्ड दिखाकर भी कोविड-19 का टीकाकरण करवा सकेंगे। 3 जनवरी से पंजीकृत बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जिला में 15 से 18 वर्ष के लगभग 40 हजार बच्चे हैं, जिनको कोविड संकम्रण से बचाने के लिये रजिस्ट्रेशन के आधार पर कोवैक्सिन की डोज लगाई जायेगी।
उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों से अपील की कि वे जिलावासियों को कोविड टीकाकरण के लिये प्रोत्साहित करें ताकि आने वाली संभावित कोविड की तीसरी लहर से लोगों को सुरक्षित रखा जा सके और पंचकूला जिला शत प्रतिशत टीकाकरण की सूची में शामिल हो सके।  उन्होंने जिलावासियों से भी अपील की कि वे 15 से 18 वर्ष के अपने युवा बच्चों का टीकाकरण करवाये और कोविड के विरूद्ध इस लड़ाई में जिला प्रशासन का सहयोग करें।
बैठक में पुलिस, आर्मी, स्वास्थ्य, शिक्षा, राजस्व, नगर निगम, बीडीपीओ पिंजौर व बरवाला, नवीन व नवीनीकरण उर्जा विभाग, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

श्री जैनेन्द्र पब्लिक स्कूल में 26 दिसम्बर को वार्षिक उत्सव एवं नव वर्ष उत्सव आयोजन

‘पुरनूर’ कोरल, पंचकुला :

पंचकूला सेक्टर 1 स्तिथ श्री जैनेन्द्र पब्लिक स्कूल में 26 दिसम्बर को विद्यालय वार्षिक उत्सव एवं नव वर्ष उत्सव का आयोजन किया गया।

यह कार्यक्रम विद्यालय में हर वर्ष आयोजित किया जाता है जिसमे विद्यालय के सभी विद्यार्थी एवं अध्यापक गण बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते है और भिन्न भिन्न प्रकार की प्रस्तुतियां पेश करते और इस बार भी कार्यक्रम इसी प्रकार हुआ।

कार्यक्रम की शुरुआत विद्यार्थीयों द्वारा पेश की गई गणेश वंदना से हुई फिर दीप प्रज्वलन किया गया जो कि अमरनाथ, प्रेमचंद जैन, कांता रानी जैन और राजीव जैन द्वारा किया गया उसके पश्चात ध्वज आरोहण के लिए विद्यालय प्रधान मुकेश कुमार ‘बिट्टू’ सचिव विशाल जैन और उप प्रधान संजीव जैन आगे आये।

इस उत्सव में बच्चों ने न केवल सांस्कृतिक प्रस्तुतियां पेश की बल्कि भिन्न भिन्न प्रकार के नाटक, नृत्य कलाएं कविताएं इत्यादि पेश किया और सभी विद्यार्थी, अध्यापक एवं विद्यालय की समस्त कार्यकारिणी ने काफी ज़ोर-शोर से यह उत्सव मनाया ।

– सुपर-100 केन्द्र खोलने का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों के बच्चों को उच्च शिक्षा के साथ-साथ अच्छी कोचिंग देकर उनकी प्रतिभा को निखारना है-कंवर पाल

  • हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने नीट परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले प्रदेश के 30 बच्चों को किया सम्मानित
  • हरियाणा के करनाल तथा हिसार में भी सुपर-100 के तहत केन्द्र जल्द खोले जाएंगे-शिक्षा मंत्री

पंचकूला, 18 दिसंबर:

हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने कहा कि सुपर-100 के तहत जेईई व नीट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए पंचकूला और रेवाड़ी में स्थापित किए गए कोचिंग केन्द्रों की भांति करनाल तथा हिसार में भी यह केन्द्र जल्द खोले जाएंगे।

शिक्षा मंत्री आज पंचकूला के सेक्टर 5 स्थित इन्द्रधनुष आॅडिटोरियम में हरियाणा शिक्षा विभाग की ओर से सुपर-100 के तहत ‘नीट परीक्षा’ पास करने वाले उम्मीदवारों के अभिनंदन तथा शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित विंटर एडवेंचर फेस्टिवल-2021-22 के समापन अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व शिक्षा मंत्री ने विभाग द्वारा आयोजित विभिन्न एडवेंचर खेल गतिविधियों पर आधारित प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री ने नीट परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले प्रदेश के 30 बच्चों तथा विंटर एडवेंचर फेस्टिवल-2021-22 में भाग लेने वाले सभी जिलों के विद्यार्थियों को सम्मानित किया।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विद्यार्थियों को गुणवत्तापूरक शिक्षा प्रदान करने के साथ-साथ उनके सर्वांगीण विकास के लिए निरंतर प्रयासरत है। इसके लिए अनेक साहसिक व रोमांचक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, जिसमें राज्य स्तरीय विंटर एडवेंचर फैस्टिवल, पर्वतारोहण, समुद्र तटीय शैक्षणिक भ्रमण, समर व विंटर एडवैंचर कैंप, सतपुड़ा के जंगलों में साहसिक शिविर शामिल हैं।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि हरियाणा के बच्चों के अच्छे परिणामों को देखते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने करनाल तथा हिसार में भी सुपर-100 कार्यक्रम के तहत कोचिंग केन्द्र खोलने का निर्णय लिया है। उन्होंने नीट परीक्षा पास करने वाले विद्यार्थियों को बधाई तथा शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि यह हर्ष का विषय है कि विंटर एडवेंचर फेस्टिवल-2021-22 आयोजित करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य बन गया है।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि यह खुशी और गौरव की बात है कि सुपर-100 के बच्चों ने परीक्षा उत्तीर्ण कर अच्छे रेंक हासिल किए हैं। उन्होंने सुपर-100 के संचालक नवीन मिश्रा का धन्यवाद करते हुए कहा कि उन्हीं के परिश्रम और कड़ी मेहनत से यह संभव हो पाया है कि सरकार द्वारा इस प्रकार की पहल करते हुए सरकारी स्कूलों के बच्चों को उच्च शिक्षा देने के साथ-साथ उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान की जा रही है। उन्होंने कहा कि नवीन मिश्रा ने पहल करते हुए 18 बच्चों का बैच शुरू किया था जिसमें से 15 बच्चों का आईआईटी में चयन हुआ। उन्हीं से प्रेरणा लेते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हरियाणा के बच्चों के लिए यह योजना शुरू की और बच्चों ने भी अपनी कड़ी मेहनत और लग्न से अच्छे परिणाम लाकर हमारा हौसला बढाया है। इस वर्ष सुपर-100 के तहत कोचिंग प्राप्त करने वाले प्रदेश के 62 बच्चों ने परीक्षा पास की जिसमें से 24 बच्चे एमबीबीएस में एडमिशन लेंगे जबकि 28 बच्चे आईआईटी में अपना दाखिला लेकर हरियाणा का गौरव बढाएंगे।

उन्होंने कहा कि सुपर-100 केन्द्र खोलने का मुख्य उद्देश्य यही है कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों के बच्चों को उच्च शिक्षा के साथ-साथ अच्छी कोचिंग देकर उनके स्तर को उपर उठाना है ताकि वे देश व समाज की सेवा कर सकें। उन्होंने कहा कि बच्चों की छुपी प्रतिभा को यदि निखारा न जाए तो उसका नुकसान बच्चों नहीं अपितु देश व प्रदेश को उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अधिक विकसित देशों के आगे होने का यही कारण है कि वे अपने बच्चों को अपनी इच्छानुसार काम करने व आगे बढने का मौका प्रदान करते हैं।
श्री कंवर पाल ने कहा कि देश को सही मायनों में नंबर एक तभी बनाया जा सकता है जब सही व्यक्ति को सही काम दिया जाये। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। कमी सिर्फ उन्हें सही अवसर प्रदान करने की है।

उन्होंने कहा कि अपने जीवन में साहस पूर्ण कार्य करने की इच्छा सबकी होती पर सबको समान अवसर प्राप्त नहीं होती और ऐसे बच्चों को अवसर प्रदान करने के लिए शिक्षा विभाग द्वारा पहल करते हुए विंटर एडवेंचर कैंप-2021-22 का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि ऐसे शिविर आयोजित करने से बच्चों में लीडरशिप की भावना पैदा होती है तथा एक-दूसरे को जानने का अवसर भी मिलता है। उन्होंने कहा कि वे बच्चे बहुत सौभाग्यशाली है कि उन्हें इस तरह के शिविर में भाग लेने का अवसर मिला।

इस अवसर पर हरियाणा शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री महावीर सिंह ने कहा कि बच्चों की शारिरिक और मानसिक क्षमताओं के साथ-साथ बौद्धिक और सामाजिक क्षमताओं का विकास करना भी आवश्यक हैं। प्रदेश सरकार द्वारा इस दिशा में निरंतर प्रयास करते हुए बच्चों का आध्यात्मिक विकास भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति को धरातल पर लाने के प्रयास शुरू कर दिये गए हैं।

कार्यक्रम में सुपर-100 के तहत परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली जींद निवासी बीडीएस की विद्यार्थी आरती, किरन, सुमेधा शर्मा के पिता डिंपल कुमार शर्मा, नीट की परीक्षा उत्तीण करने वाले दीपक तथा विंटर एडवेंचर फैस्टिवल में भाग लेने वाले हर्ष ने भी अपने अनुभव सांझा किए।

इस अवसर पर हरियाणा मौलिक शिक्षा विभाग के निदेशक डाॅ. अंशज सिंह, हरियाणा माध्यमिक शिक्षा विभाग के निदेशक श्री जे गणेशन, हरियाणा माध्यमिक शिक्षा अतिरिक्त निदेशक संवर्तक सिंह, सुपर-100 के संचालक नवीन मिश्रा, एडवेंचर क्लब एससी चैधरी, हरियाणा राज्य के कार्यक्रम अधिकारी राम कुमार, एसीई टयूटोरियल, ऐलन करियर इंस्टिटियूट, डाॅक्टर जेईई क्लासेज़ के प्रतिनिधि तथा काफी संख्या में सुपर-100 के विद्यार्थी तथा विंटर एडवेंचर फैस्टिवल-2021-22 के प्रतिभागी बच्चे व अध्यापक भी उपस्थित थे।

8 विद्यार्थियों का धर्म बदलने पर स्कूल के साथ परिवारों का बवाल

24 नवंबर को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) के अध्यक्ष प्रियांक कानूनगो ने विदिशा के डीएम को इस मामले में चिट्ठी लिखी थी। स्थानीय लोगों की शिकायत के बाद उन्होंने 31 अक्टूबर को आठ बच्चों को ईसाई धर्म में परिवर्तित करने का आरोप लगाया था। हालांकि, स्कूल के प्रिंसिपल ने धर्मांतरण के आरोप का खंडन किया था और इसे फर्जी खबर बताया था। सोमवार को हंगामा होने पर एसपी और कलेक्टर मौके पर पहुंचे और कार्यकर्ताओं को समझाइश दी। एसपी मोनिका शुक्ला ने बताया कि मामले की जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

राजविरेन्द्र वशीष्ठा, चंडीगढ़/मध्य प्रदेश :

मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के एक मिशनरी स्कूल में दक्षिणपंथी हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं के तोड़फोड़ करने का मामला सामने आया है। इस मामले के सामने आये ही गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान भी सामने आया है। जी दरअसल उन्होंने आज यानी मंगलवार को कहा कि ‘सरकार को धर्म परिवर्तन की गतिविधियों में शामिल लोगों की जांच करवा रहे है। हालांकि इस मामले में 4 लोग गिरफ्तार हुए है।’

मध्य प्रदेश के विदिशा स्थित एक स्कूल में कथित धर्मांतरण को लेकर हिंदू संगठनों के विरोध प्रदर्शन की खबर है। आरोप है कि सेंट जोसेफ स्कूल में नारेबाजी, तोड़फोड़ और पत्थरबाजी की गई। घटना 6 दिसंबर 2021 (सोमवार) की है जब स्कूल में 12वीं की परीक्षा हो रही थी। आक्रोशित लोगों ने स्कूल मैनेजमेंट पर कार्रवाई की माँग की है। हालाँकि विश्व हिन्दू परिषद ने किसी भी हिंसक घटना से इनकार किया है।

इसी स्कूल ने पहले भी भारत माता की जय बोलने पर 31 छात्रों को सज़ा दी थी और अपने संगठन का मुद्दा बताया था। नामली कस्बे में स्थित सेंट जोसफ कॉन्वेंट स्कूल में पिछले दिनों (शुक्रवार) 9वीं कक्षा के 31 बच्चों को जमीन पर बैठाया गया और उन्हें परीक्षा देने से वंचित कर दिया गया। स्थानीय लोगों का आरोप है कि बच्चों ने एसेंबली में ‘भारत माता की जय’ का घोष किया था, जिससे उन्हें परीक्षा से वंचित किया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हिन्दू संगठनों ने स्कूल के अंदर 8 छात्रों के धर्मान्तरण का आरोप लगाया है। इस संबंध में प्रशासन को ज्ञापन भी दिया गया है। पुलिस पूरे मामले की जाँच कर रही है। साथ ही तोड़फोड़ करने वालों पर IPC के तहत केस भी दर्ज किया गया है। पुलिस अधिकारी (SDOP) भारत भूषण शर्मा ने यह जानकारी मीडिया को दी।

स्कूल प्रशासन ने खुद पर लगे सभी आरोपों को नकारा है। स्कूल के प्रिंसिपल ने इसको 2 समुदायों के बीच दूरी पैदा करने की साजिश बताया। इस घटना के लिए उन्होंने कुछ यूट्यूब चैनलों की खबरों को जिम्मेदार ठहराया। कर्मचारियों की सुरक्षा की माँग करते हुए झूठी खबर चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है। स्कूल के मैनेजर ब्रदर एंथोनी ने पुलिस पर पर्याप्त सुरक्षा नहीं देने का आरोप लगाया है। उनके मुताबिक, “सिर्फ 2 पुलिसकर्मी मौके पर मौजूद थे। जिन 8 बच्चों के धर्मान्तरण के आरोप पर हंगामा हुआ वे हमारे स्कूल के छात्र नहीं थे।”

विश्व हिन्दू परिषद ने हिंसा को नकारते हुए बताया कि स्कूल के अंदर कलावा तक पहनने से रोका जाता है। VHP कार्यकर्ता नीलेश अग्रवाल के मुताबिक स्कूल में बच्चों को तिलक लगाने से रोका जाता है। दूसरे धर्म के बच्चों से अन्य धर्मों की प्रार्थना करवाई जाती है। धर्मान्तरण के निशाने पर ख़ासतौर से गरीब बच्चों को रखा जाता है। उन्होंने कहा हम सप्ताह भर से इसके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं।

याद रहें की 12 जुलाई 2016 में भी एक ईसाई स्कूल ने ऐसा ही किया था। मध्य प्रदेश के शहडोल जिले में एक मिशनरी स्कूल द्वारा छात्रों के भारत माता की जय के नारे लगाने पर पाबंदी लगाने का मामला सामने आया है। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, स्कूल प्रशासन के इस फैसले के बाद बच्चों के पैरंट्स के बीच काफी नाराजगी है। उधर स्कूल का कहना है कि मैनेजमेंट के आदेश पर यह रोक लगाई गई है।

अहिरवार समाज संघ ने इस संबंध में 4 दिसंबर को विदिश के डीएम से शिकायत की थी। इसमें कहा गया है कि 8 हिंदू बच्चों का पानी छिड़क कर ईसाई धर्मांतरण कराया गया। स्कूल की आड़ में धर्मांतरण रैकेट चलाने का आरोप लगाया गया है। गौरतलब है कि इस स्कूल के खिलाफ 2018 में फीस नहीं देने पर एक हिंदू छात्र को प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए ABVP ने प्रशासन से शिकायत की थी।

Student Sensitization Session at Panjab University

The Placement Cell of the Department of Economics in collaboration with Central Placement Cell Panjab University, Chandigarh organised a Student Sensitization Session, today.

Prof. Amandeep Singh Marwaha encouraged students to make their own decisions towards their future and follow their dreams. He also enlightened students on how to plan their career.

Dr. Smita Sharma, TPO, Department of Economics  invited  the Alumni Guests – Ms. Harleen Batra and Ms. Mridul Mehndiratta who shared their experiences in the corporate job market, and what mistakes students make and how they can improve themselves. While Ms. Harleen Batra gave students an insight into the corporate world, Dr. Mridul guided the students on indispensability of online platforms like LinkedIn. The sessions covered various aspects of technical and interpersonal skills needed to plan a successful career.

The highly interactive sessions covered the multidimensional aspects of a career as a student of economics which had multiple queries from the students which were appropriately addressed.

Prof. Meena Sharma, Honorary Director, Central Placement Cell and   Dr Amrita Shergill, Chairperson, Department of Economics, were also present during the session.

Webinar on Communal Harmony in India at PU

NSS in collaboration with University School of Open Learning (USOL) and the Centre for Medical Physics, Panjab University Chandigarh celebrated the communal harmony week by organizing a webinar.

Prof. Devinder Singh, Chairperson, Department of Law and SVC, PU was the distinguished speaker of the webinar entitled “COMMUNAL HARMONY IN INDIA”. He mentioned that, Indians are Live example of communal harmony. India is a blessed nation, as it is birth place of many religions. The diverse culture is our religion and it is our strength, and also it is rare feature of a society. Indian respects every religion and state follows positive secularism. He explained the meaning of communal harmony by giving example of the paintings in the Indian constitution.

Dr. Vivek Kumar, Chairperson, Centre for Medical Physics told that peace can only exist between communities once the importance of communal harmony is understood and thanked the audience in the end.

Earlier, NSS Programme officer Dr. Richa Sharma (USOL) welcomed the participants and introduced the speaker to the audience. Prof. Madhurima Verma (USOL), Dr. Shankar Sehgal (UIET), Dr. Naveen Kumar (UIAMS) and NSS Programme officers attended the event. Approx. 95 faculty members and students attended the webinar.

नगर निगम चुनाव में हिमाचल महासभा प्रत्येक हिमाचली उम्मीदवारों का पूर्ण समर्थन करेगी बैडमिन्टन टूर्नामैंट का आयोजन भी करवाया जाएगा

चण्डीगढ़ :

मुनि जी मन्दिर, सैक्टर 23 में हिमाचल महासभा की एक बैठक सभा के अध्यक्ष पृथ्वी सिंह चन्दरानी की अध्यक्षता में आयोजित की गई। संस्था के महासचिव रमेश सहोड़ ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया कि हिमाचल महासभा चण्डीगढ़ में बड़ी संख्या में रह रहे हिमाचली समुदाय के हितों को देखते हुए आने वाले नगर निगम चुनावों में प्रत्येक राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टियों द्वारा हिमाचली पृष्ठभूमि से जुड़े उम्मीदवारों का पूर्ण समर्थन देगी। पृथ्वी सिंह चन्दरानी के कहा कि हालांकि सभा एक गैर राजनीतिक संस्था है, परन्तु दलगत राजनीति से ऊपर उठकर संस्था हिमाचली भाईचारे के लिए चुनावों में कार्य करेगी।उन्होंने ये भी बताया कि महासभा के बैनर तले चण्डीगढ़ में एक बैडमिन्टन टूर्नामैंट का आयोजन भी किया जाएगा जिससे समाज में खासकर युवा वर्ग जो नशे के गर्त में गिरकर अपना भविष्य बिगाड़ रहा है वह व्यक्तिगत स्वास्थ्य और खेलों के प्रति जागरूक हो। उन्होंने कहा कि टूर्नामेंट में भाग लेने के इच्छुक 9988250455, 9872989284 पर संपर्क कर सकते हैं। टूर्नामेंट की तिथियां जल्द घोषित की जाएंगी।

झुग्गीस्कूल के बच्चों को चप्पलें एवं स्टेशनरी वितरित

जयपुर 16 नवम्बर, 2021। गरीब बच्चों की शिक्षा एवं अधिकारों के लिये संघर्षरत प्रमुख सामाजिक संस्था ह्यूमन लाईफ फाऊण्डेशन द्वारा निःशुल्क संचालित झुग्गीस्कूल की द्वारिकापुरी शाखा में आज जरूरतमंद बच्चों को, मानव मिलन संस्था के सहयोग से गरीब बच्चों को चप्पलों का वितरण किया गया। ह्यूमन लाई्फ फाऊण्डेषन के फाऊण्डर एवं सामाजिक कार्यकर्ता हेमराज चतुर्वेदी ने बताया कि केन्द्र में नित्य अध्ययनरत कुल 46 बच्चों को चप्पलें वितरण की गईं। उन्होनें बच्चों को आज का मिड डे मील भी उपलब्ध कराया जिसमें में फल एवं मिठाई वितरित की गईं। चप्पलें एवं स्पेशल मिड डे मील पाकर बच्चों को बहुत आनन्द आया। खुश हुए बच्चों ने भविष्य में रोज पढने व कभी भी नशा न करने एवं स्वच्छ रहने के संकल्प को बार बार दोहराया। कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि मानव मिलन संस्था के अध्यक्ष प्रमोद चैरडिया ने बच्चों को प्रेरित करते हुए कहा कि ज्ञान के बिना जीवन में परिवर्तन आना मुश्किल है इसलिए पढाई को पहली वरियता देनी चाहिए। बच्चे ही देश का भविष्य हैं। अवसरों की कोई कमी नहीं है। आगे चलकर आप भी स्वब्लबी अथवा अधिकारी बन सकते हो । समझाया कि वंचितों को शिक्षित बनाये बिना समाज का समग्र एवं संतुलित विकास नहीं हो सकता। इसलिए आह्वान किया कि संभ्रान्त समाज होनहार गरीब बच्चों की मदद के लिए आगे आये।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि नेहा व विनोद सोमानी ने बच्चों को कहा कि पढोगे तो ही आगे बढोगे। आगे बढने के लिए स्कूल ही पहली सीढी है। आज गरीब का बच्चा भी आगे बढ सकता है। संपूर्ण शिक्षित समाज आपकी मदद के लिए तत्पर है। इस अवसर पर राजेन्द्र जैन व शिक्षिका रेखा चतुर्वेदी उपस्थिति रहे

श्री श्याम प्रभु खाटू वाले का जन्म महोत्सव 14 नवंबर को सैक्टर 32 में

 चण्डीगढ़

श्री खाटू श्याम प्रचार मण्डल ट्रस्ट, चण्डीगढ़ द्वारा श्री श्याम प्रभु खाटू वाले का जन्म महोत्सव 14 नवम्बर, 2021 कोदोपहर 1 बजे से रात 8 बजे तक प्राचीन श्री हनुमान मन्दिर, सैक्टर 32-ए, चण्डीगढ़ के प्रांगण में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। इस अवसर भव्य दरबार आकर्षण का केंद्र होगा। खाटू जी का अन्य शहरों से मंगवाए गए फूलों द्वारा आलौकिक सिंगार किया गया है। इस अवसर पर छप्पन भोग लगा कर का प्रसाद वितरित किया जायेगा एवं श्याम की रसोई भंडारा दोपहर 1 बजे से 3 बजे एवं सांय 8.00 बजे से रात 10 बजे तक वितरित किया जायेगा। खाटू श्याम महोसत्सव में भजन गायक कलाकार पं. रविन्द्र शास्त्री, चण्डीगढ़, महावीर अग्रवाल , दिल्ली, मुकेश मोदगिल, पिंजौर, कमल नायक, बठिंडा के साथ-साथ कन्हैया मित्तल चण्डीगढ़ ( सांय 4 बजे से 6 बजे तक) भजनों की अमृत वर्षा करंगे।