मोक ड्रिल : एनडीआरएफ़ टीम ने बचाए भूकंप में फंसे लोग

पंचकूला 20 अक्तूबर:

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने जिला सचिवालय के सभागार में माॅक ड्रिल के बाद अधिकारियों की बैठक लेकर भूकम्प को लेकर विस्तार से फीड बैक ली और उनके सुझाव आमंत्रित किए।

उपायुक्त नेे कहा कि सभी विभागाध्यक्ष अपने सिस्टम को अलर्ट रखें ताकि भूकम्प आने पर तुरन्त सम्पर्क किया जा सके। उन्होंने कहा कि सिविल डिफेंस कार्यालय में जिला स्तरीय कंट्रोल रूम स्थापित किया जाए ओर उसका दूरभाष नम्बर भी प्रसारित किया जाए। इसके लिए स्टाफ की रोस्टर अनुसार डयूटी लगाई जाए। होम गार्ड में रैस्क्यू टीम का गठन किया जाए। फायर विभाग में तीन चार लाईने दूरभाष हेतू शामिल की जाए ताकि आसानी से जानकारी हासिल हो सके।
उपायुक्त ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को जिला सचिवालय भवन, अस्पताल आदि का तकनीकी रूप से परीक्षण करने के निर्देश दिए ताकि यह पता चल सके की यह भवन किस लेवल तक के भूकम्प को आसानी से झेल सकता है। इसके अलावा इन भवनों के एमरजेंसी निकासी ओर कोरिडोर बालकाॅनी भी खाली होनी चाहिए।

सैक्टर 1 स्थित जिला सचिवालय में एनडीआरएफ व जिला प्रशासन के सहयोग से भूकम्प को लेकर माॅक ड्रिल का आयोजन किया गया। इस माॅक ड्रिल में उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा व एनडीआरएफ गाजियाबाद के डिप्टी कमाण्डेंट कुलेश आनन्द ने सभी विभागों के सहयोग से रेसक्यू आपरेशन किया गया। माॅक ड्रिल के दोरान आपातकाल सायरन बजते ही भवन को खाली कर दिया गया और सभी विभागाध्यक्षों ने इंसीडेंट कमाण्डर को अवगत करवाया। अचानक आए भूकम्प में 15 व्यक्ति मलबे में दब गए। उन्हें निकालने के लिए रैस्क्यू किया गया। एनडीआरएफ की टीम ने 8 व्यक्तियों को सकुशल निकाल लिया लेकिन दो व्यक्तियों की कैज्यूलटी हो गई। इसके अलावा सैक्टर 5 स्थित परेड ग्राउंण्ड मेें स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ राहत कैम्प बनाया गया।

बैठक में अवगत करवाया कि आगजनी की घटना होने पर ग्राउण्ड पर लेटकर निकलना चाहिए। क्योंकि धूंआ नीचे से तीन फीट ऊंचाई पर रहता है ओर कोई भी दुर्घटना नहीं होती। इसके लिए विशेषकर महिलाओं  एवं स्वंय सहायता समूहों के प्रतिनिधियों को भी प्रशिक्षण करवाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि माॅक ड्रिल में जनता को शामिल किया जाए ताकि वे भी संवेदनशील हो सके।

एनडीआरएफ के डिप्टी कमाण्डेंट कुलेश आनन्द  ने कहा कि यह हमारी सब की जरूरत है। इसलिए हमें अपनी डयूटी व दायित्वों के प्रति सजग ओर सचेत रहना चाहिए। इसके अलावा जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन एक्शन प्लान बना होना चाहिए जिसमें आवश्यक दिशा निर्देशों के बारे में विस्तार से जानकारी हो ताकि रैस्क्यू के दौरान जान व माल की कम से कम हानि हो।

बैठक में एसडीएम कालका ने माॅक ड्रिल को सार्थक करने पर सभी का आभार जताया ओर हमेशा इस तरह की आपदा से निपटने के लिए तत्पर रहने का आहवान किया। नगराधीश धीरज चहल, जिला राजस्व अधिकारी नरेश कुमार, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कंवर दमन सिंह, सचिव रैडक्रास, सविता अग्रवाल सहित कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे ओर अपने अपने सुझाव दिये।

फोटो कैप्शन- माॅक ड्रिल के दौरान रोप वे से पीड़ित को निकालते, प्राथमिक उपचार के लिए ले जाते व करते हुए। भूकम्प के दौरान उपयोग किए जाने वाले उपकरणों का अवलोकन करते हुए उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा व डिप्टी कमाण्डेंट कुलेश आनन्द के साथ प्रशासनिक अधिकारी।

भाजपा के जातीय ध्रूवीकरण के षड्यंत्र को निष्फल और नाकामयाब करने में आगे आयें वोटर : चंद्रमोहन

पचकुलां  20 अक्टूबर:

हरियाणा के पूर्व उपमुख्यमंत्री चंद्रमोहन ने कहा कि बरोदा उपचुनाव के दौरान वहां की जनता भारतीय जनता पार्टी के  जातीय ध्रूवीकरण के षड्यंत्र को निष्फल और नाकामयाब करने के लिए उत्सुक हैं।  भाजपा बड़ोदा के मतदाताओं को जींद उपचुनाव की तर्ज़ पर  विकास के नाम पर धोखा देने का प्रयास कर रही है, लेकिन उसके प्रयास  कभी भी सफल नहीं होंगे।

                     ‌               चन्द्र मोहन ने ‌याद दिलाया कि किस प्रकार जींद के उपचुनाव के दौरान लोगों को विकास के नाम पर लोगों को बरगलाने का कुचक्र चलाया गया और मतदाताओं को भ्रमित करके उनके वोट हासिल किए गए। चुनाव जीतने के पश्चात उन घोषणाओं को ठण्डे बस्ते में डाल कर लोगों का अपमान किया गया। यही कारण है कि जींद के भाजपा के विधायक डॉ मिड्डा ने भाजपा  सरकार के दावों को झूठा करार देते हुए कहने पर विवश होना पड़ा कि जींद में विकास गायब है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार बरोदा उपचुनाव को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री खट्टर ने हल्के के विकास का जुमला गढ़ने के लिए विवश होना पड़ा। मतदाताओं को हर समय बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता है।

                         ‌               उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के खिलाफ लोगों में और विशेषकर किसानों और श्रमिकों और गरीबों में रोष फैल रहा है। उसकी परिणति भाजपा के उम्मीदवार योगेश्वर दत्त की हजारों वोटों से पराजय के रूप में सामने आएगी। हरियाणा भाजपा में जिस प्रकार से भगदड़ मची हुई है। उससे जनता का ही नहीं अपितु भाजपा नेताओं का विश्वास भी डगमगाया हुआ है। उन्होंने कहा कि योगेश्वर दत्त की पत्नी शीतल शर्मा को भी भाजपा पर विश्वास नहीं रहा। इस लिए उन्हें कहना पड़ा कि  जिस प्रकार से भाजपा में  नेता पार्टी छोड़ रहे हैं तो आप भाजपा को मत देखो अपितु मुझ पर भरोसा और यकीन रखे। इससे स्पष्ट दृष्टिगोचर होता है कि उम्मीदवार की पत्नी को भी  भाजपा  पर विश्वास नहीं है तो आम जनता कैसे विश्वास करेगी।

                          ‌          उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार इन्दु राज नरवाल को जिस प्रकार से बड़ोदा की जनता का असीम प्यार और सहयोग मिल रहा है और कांग्रेस पार्टी के सभी नेता और कार्यकर्ता एक जूट होकर कन्धे से कन्धा मिलाकर चल रहें हैं ‌‌। उससे स्पष्ट है कि कांग्रेस प्रत्याशी की विजय कम से कम 50000 वोटों से होगी और जीत का एक नया इतिहास रचा जायेगा। उन्होंने कहा कि वे भी प्रचार करने के लिए बड़ोदा जायेंगे। उन्होंने सभी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से अपील की है कि भाजपा के धनबल और बाहुबल का मुकाबला करने के लिए एक जूट होकर  बड़ोदा की जनता इस धरती पर एक नया इतिहास रचने का प्रयास करेगी और इस उपचुनाव में हार के पश्चात खट्टर सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। हरियाणा में जिस प्रकार से निराशा का माहौल है उससे स्पष्ट है कि भाजपा-जजपा गठबंधन  का धराशाई होना सुनिश्चित है। उन्होंने बड़ोदा के मतदाताओं  से अपील की है कि वे भाजपा के झांसे में न  आएं और अपने अपमान का बदला लेने के लिए  भाजपा के उम्मीदवार की जमानत जब्त करवाने का काम करें।         

मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति ने घर मे घुसकर महिला से की मारपीट

राहुल भारद्वाज सहारनपुर:

सहारनपुर थाना जनकपुरी का पूरा मामला एक मानसिक रूप से बीमार युवक मोहित को लेकर था जिसने एक महिला के साथ घर में घुसकर मार पिटाई की थी महिला की शिकायत के बाद थाना जनकपुरी प्रभारी ने पुलिस टीम को भेज मानसिक रूप से रोगी युवक मोहित को थाने लेकर आ गई थी लेकिन मानसिक रूप से बीमार युवक की हालत को बिगड़ता देख पुलिस ने उसे सख्त हिदायत देकर छोड़ दिया था,इसी को लेकर महिला ने थाने पहुंचकर हंगामा किया और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को भी बुला लिया, जबकि युवक की मां से जब मीडिया ने बात की तो उसका भी यही कहना था कि मेरा बेटा मोहित मानसिक रूप से बीमार है और उसका इलाज चल रहा है जबकि पीड़ित महिला का यह कहना था अगर यह मानसिक रूप से बीमार है तो इसे अस्पताल भेजना चाहिए जिससे यह दूसरी घटना ना कर सके जिसके बाद पुलिस ने दोबारा से उस मानसिक रूप से बीमार युवक को हिरासत में ले लिया है,और उसके बाद महिला और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं सीओ 2 के समझाने पर अपना धरना समाप्त किया।

Police Files, Chandigarh

Korel ‘Purnoor’, CHANDIGARH – 20.10.2020

Assault/Quarrel

          A case FIR No. 189, U/S 341, 323, 324, 506 IPC has been registered in PS-Maulijagran, Chandigarh on the complaint of Sh. Vijay Kumar R/o # 3544, Maulijagran, Chandigarh against Ajay Kumar r/o # 3543, Mauli Jagran Complex, Chandigarh who assaulted complainant outside of complainant’s residence on 19.10.2020.  He got injured and admitted in GMCH-32, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

Dowry

A lady resident of Chandigarh alleged that her husband resident of Haryana harassed complainant to bring more dowry. A case FIR No. 69, U/S 406, 498-A IPC has been registered in PS-Women, Chandigarh. Investigation of case is in progress.

MV Theft

Dalwinder Singh R/o # 3144, Sector 15/D, Chandigarh reported that unknown person stole away complainant’s Activa No. CH01BK4445 from backside of Kothi No. 50, Sector-3, Chandigarh on 15.10.2020. A case FIR No. 93, U/S 379 IPC has been registered in PS-3, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

Ajay Kumar R/o # 485, Sector 56, Chandigarh reported that unknown person stole away complainant’s Motorcycle No. CH01AV9340 near furniture market chowk, Sector-53, Chandigarh on 18.10.2020. A case FIR No. 196, U/S 379 IPC has been registered in PS-36, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

सड़क हादसे में युवक की हुई दर्दनाक मौत डम्पर ने रौंदा

राहुल भारद्वाज, सहारनपुर:

जनपद सहारनपुर मे ट्रांसपोर्ट नगर गेट के सामने एक दर्दनाक हादसा हो गया। जहां अवैध खनन से भरे ट्रक ने बाइक सवार दामोडरपुरी निवासी उत्कर्ष को जोरदार टक्कर मार दी। इस हादसे में उसकी मौत भी हो गई। वहीं हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने इस सड़क पर जाम लगा दिया और परिजनों में कोहराम मच गया। जिसके बाद सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने ट्रक को हिरासत में लिया साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जानकारी के मुताबिक मामला थाना जनकपुरी क्षेत्र के ट्रांसपोर्ट नगर का है। जहाँ अवैध खनन से भरे एक ट्रक ने एक बाइक को जोरदार टक्कर मारी। जिसमें बाइक सवार एक बालक की मौके पर ही मौत हो गई।  हालांकि अभी तक पुलिस द्वारा मामले की पुष्टि नहीं की गई।

माँ कूष्मांडा, माँ भगवती का चौथा स्वरूप सेवा और भक्ति से होती है प्रसन्न

शारदीय नवरात्रि का पर्व चल रहा है। नवरात्रि के चौथे दिन माँ दुर्गा जी के चौथे स्वरुप माँ कूष्मांडा की पूजा होती है। इस दिन साधक  का मन ‘अनाहत’ चक्र में स्थित होता है। अतः इस दिन उसे अत्यंत पवित्र मन से कूष्माण्डा देवी के स्वरुप को ध्यान में रखकर पूजा-उपासना के कार्य में लग्न रहना चाहिए। अपनी मंद, हल्की हंसी द्वारा अण्ड अर्थात ब्रह्माण्ड को उत्पन्न करने के कारण इन्हें कूष्माण्डा देवी के नाम से अभिहित किया गया है। जब सृष्टि का अस्तित्व नहीं था, चारों ओर अन्धकार ही अन्धकार परिव्याप्त था, तब इन्हीं देवी ने अपने ‘ईषत’ हास्य से ब्रह्माण्ड की रचना की थी। अतः यही सृष्टि की आदि-स्वरूपा,आदि शक्ति हैं। धार्मिक विश्वास के अनुसार, इनकी भक्ति से आयु, यश, बल और आरोग्य की वृद्धि होती है। माँ कूष्माण्डा सेवा और भक्ति से प्रसन्न होने वाली माता हैं। इनका वाहन सिंह है।

धर्म/संस्कृति, पंचकुला:

नवरात्र के तीसरे दिन पंचकूला के माता मनसा देवी मंदिर में सुबह से भक्तों का आना लगा रहा। यहां शाम तक करीब 10028 से ज्यादा लोगों ने माता के दर्शन किए। यहां मौजूद एक डाक्टर ने बताया कि सेहत विभाग की टीम द्वारा मंदिर में प्रवेश करने से पहले एक परिवार के एक सदस्य का रैपिड एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है। किसी परिवार का कोई व्यक्ति संक्रमित न हो, इसलिए टेस्ट किए जा रहे हैं। माता मनसा देवी मंदिर और काली माता मंदिर कालका में श्रद्धालुओं ने नवरात्र के तीसरे दिन माता के चरणों में 11 लाख 19 हजार 607 रुपये की नकदी श्रद्धालुओं ने चढ़ाई हैै। इसके साथ ही 27 हजार 200 रुपये की राशि ड्राई प्रसाद वितरण में एकत्र हुई है। उपायुक्त एवं मुख्य प्रशासक मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि श्रद्धालुओं ने माता मनसा देवी मंदिर में 71 सिल्वर के नग और काली माता मंदिर में 6 सोने के नग और 4 सिल्वर के नग चढ़ाए हैं। इस प्रकार सोने का वजन 3.93 ग्राम और चांदी का वजन 431.273 ग्राम है

उपायुक्त ने बताया कि माता मनसा देवी पर कुल 9 लाख 4 हजार 168 रुपये और काली माता मंदिर कालका में 2 लाख 15 हजार 439 रुपये की राशि चढ़ाई है। प्रसाद वितरण योजना में माता मनसा देवी मंदिर में 100 ग्राम में 21 हजार 550 रुपये और 200 ग्राम प्रसाद वितरण में 25 हजार 600 रुपये ओर काली माता मंदिर में 100 ग्राम प्रसाद वितरण में 1800 रुपये व 200 ग्राम प्रसाद वितरण में 1600 रुपये की राशि सहित कुल 100 ग्राम प्रसाद वितरण में 23 हजार 500 रुपये और 200 ग्राम वितरण प्रसाद में 27 हजार 200 रुपये की राशि एकत्रित हुई है। तीसरे दिन तक 56 लाख 4 हजार 646 रुपये की राशि चढ़ाई गई।

Panchang

पंचांग, 20 अक्टूबर 2020

आज 20 अक्टूबर को हिंदू पंचांग के अनुसार मंगलवार है. मंगलवार का दिन बजरंगबली को समर्पित होता है. हनुमान जी एक ऐसे देवता हैं जिनकी पूजा में सावधानी बहुत जरूरी है. मंगलवार को अगर सुबह बड़ के पेड़ के एक पत्ते को तोड़कर गंगा जल से धो कर हनुमान जी को अर्पित करें तो धन की आवक बढ़ती है. आर्थिक संकटों से मुक्ति मिलती है. 

विक्रमी संवत्ः 2077, 

शक संवत्ः 1942, 

मासः द्वितीय (शुद्ध) आश्विनी मास, 

पक्षः शुक्ल पक्ष, 

तिथिः चतुर्थी प्रातः 11.19 तक है, 

वारः मंगलवार, 

नक्षत्रः ज्येष्ठा रात्रि 02.12 तक, 

योगः सौभाग्य प्रातः 09.48 तक, 

करणः विष्टि, 

सूर्य राशिः तुला, 

चंद्र राशिः वृश्चिक, 

राहु कालः अपराहन् 3.00 से 4.30 बजे तक, 

सूर्योदयः 06.29, 

सूर्यास्तः 05.42 बजे।

नोटः आज उपांग ललिता व्रत है।

विशेषः आज उत्तर दिशा की यात्रा न करें। अति आवश्यक होने पर मंगलवार को धनिया खाकर, लाल चंदन,मलयागिरि चंदन का दानकर यात्रा करें।

बंगाल में राष्ट्रपति शासन की मांग अनुचित नहीं लेकिन फैसला संविधान अनुसार: अमित शाह

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि राज्यपाल  की रिपोर्ट और संविधान को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन  लागू करने का फैसला किया जाएगा। अमित शाह ने एक ‘निजी चैनल’ को दिए इंटरव्यू में कहा कि बंगाल में कानून व्यवस्था बिल्कुल चरमराई हुई है और सरकार कोई ध्यान नहीं दे रही। उन्होंने कहा कि यहां पर विपक्षी नेताओं को मारा जा रहा है और लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। एक सवाल के जवाब में तो उन्होंने यहां तक कह दिया कि बीजेपी नेताओं की राष्ट्रपति शासन की मांग गलत नहीं है।

नयी दिल्ली(ब्यूरो):

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि राज्यपाल जगदीप धनखड़ की रिपोर्ट और संविधान को ध्यान में रखते हुए पश्चिम बंगाल में राष्ट्रपति शासन लागू करने का फैसला किया जाएगा. एक पत्रकार समूह के संपादक के साथ एक खास इंटरव्यू में शाह ने कहा, “मैं स्वीकार करता हूं कि पश्चिम बंगाल में कानून और व्यवस्था की स्थिति खराब है. जहां तक भारत सरकार के राष्ट्रपति शासन लगाने के फैसले लेने का संबंध है, हमें इसके लिए भारतीय संविधान और राज्यपाल ‘साहब’ की रिपोर्ट के माध्यम से इस पर विचार करने की जरूरत है.

शाह की यह टिप्पणी बीजेपी नेताओं कैलाश विजयवर्गीय और बाबुल सुप्रियो की ओर से राज्य में राष्ट्रपति शासन की मांग किये जाने के बाद आई है. शाह ने कहा, “राजनीतिक नेताओं के तौर पर इस मुद्दे पर उनका रुख तार्किक रूप से सही है. बंगाल में कानून और व्यवस्था की स्थिति खराब है.”

“हर जिले में बम बनाने के कारखाने हैं, स्थिति बेहद खराब और हिंसा अभूतपूर्व”

यह पूछे जाने पर कि क्या वे यह कह रहे हैं कि वर्तमान स्थिति राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने के लिए अनुकूल नहीं है, शाह ने कहा, “नहीं, मैंने ऐसा नहीं कहा. मैंने कुल मिलाकर यह कहा कि उनकी मांग में कुछ भी गलत नहीं है.”

बिगड़ती कानून-व्यवस्था की स्थिति, राजनीतिक हत्याओं और विपक्षी नेताओं पर झूठे मामलों में मुकदमे दर्ज करने पर चिंता जताते हुए, शाह ने कहा, “देखिए, पश्चिम बंगाल में कानून और व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है. भ्रष्टाचार अपने चरम पर है. हर जिले में बम बनाने के कारखाने हैं. स्थिति बेहद खराब है और हिंसा अभूतपूर्व है. ऐसी स्थिति किसी अन्य राज्य में नहीं है. पहले ऐसी हिंसा केरल में होती थी, लेकिन वहां भी स्थिति अब नियंत्रण में है. यह स्थिति चिंताजनक है.”

डेरेक ओब्रायन ने बयान पर की तल्ख टिप्पणी

वहीं शाह की इस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए, राज्यसभा में टीएमसी संसदीय दल के नेता डेरेक ओ’ब्रायन ने कहा, ”मौत की गिनती ‘बढ़ाने की अपनी हताशा में, बीजेपी अब’ राजनीतिक हत्या ‘के रूप में टीबी या कैंसर से होने वाली मौत को भी गिनने की कोशिश कर रही है. वह पहले अपनी बंगाल इकाई में अंदर ही अंदर चल रही लड़ाई पर बात क्यों नहीं करते? उन्हें सीपीएम के दौर के बंगाल के इतिहास का अध्ययन करना चाहिए ताकि यह समझ सकें कि राज्य कितना आगे आ गया है. तृणमूल शांति और सद्भाव के लिए प्रतिबद्ध है. हो सकता है कि अमित शाह जी को अपना ध्यान यूपी और गुजरात पर लगाना चाहिए. आखिरकार राजनीतिक हत्याएं’ एक ऐसा विषय है जिसे वे अच्छी तरह से जानते हैं.”

प्रोग्रेसिव और पुलिस रिहायशी सोसाइटी में रूद्राक्ष के पोधे लगाए गए

चंडीगढ़:

भारत विकास परिषद चंडीगढ़ ,एवं हिंदू पर्व महासभा के द्वारा संयुक्त रूप से चंडीगढ़ के मंदिरों में रुद्राक्ष के पौधे लगाए जा रहे है ।

इस श्रृंखला में 19-10-20 को सेक्टर 50 मंदिर ( प्रोग्रेसिव सोसाइटी के अंदर ) , सेक्टर 51 के मंदिर (चंडीगढ़ पुलिस सोसाइटी के अंदर ) , में विद्वानों द्वारा पूर्ण विधि-विधान और मंत्रोचार से रुद्राक्ष के पौधे लगाए गए।

इस अवसर पर भारत विकास परिषद के अजय सिंगला (प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर व सचिव नॉर्थ जोन ) ने बताया कि चंडीगढ़ के मंदिरों में अब तक 22 मंदिरों में रुद्राक्ष के पोधै लगाए जा चुके है अभी यह प्रोजेक्ट और आगे चलेगा ।

इस अवसर पर अजय सिंगला (प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर व सचिव नॉर्थ जोन ) एस सी गलोहतरा (क्षेत्रीय सचिव नॉर्थ संस्कार ) तिलक राज वधवा (महासचिव चंडीगढ़ प्रांत ) , अनिल सूद ( सचिव साउथ जोन), हरजिंदर जी (सचिव साउथ 3 ), अनिल निझावन जी (अध्यक्ष साउथ 4 ), राज बंसी जैन ( सचिव साउथ 4 ), अरूण भल्ला (वित्त सचिव साउथ 4 ) रमेश कौल (उपाध्यक्ष साउथ 4 ), विजय चितकारा ( उपाध्यक्ष साउथ 4) , श्रीमती दीपा अरोड़ा (सचिव वेस्ट 5)

हिंदू पर्व महासभा के बी पी अरोड़ा (अध्यक्ष ) , राजेंद्र गुप्ता ( उपाध्यक्ष ) , अजय कौशिक ( लीगल एडवाइजर ) के एल गुप्ता ( चेयरमैन प्रोगेसिव सोसायटी ) व प्रमुख सदस्य विशेष रूप से उपस्थित रहे।

तृतीय नवरात्र माँ चंद्रघंटा – आसुरी शक्तियों से रक्षा करतीं हैं

नवरात्रि की तृतीया को होती है देवी चंद्रघंटा की उपासना। मां चंद्रघंटा का रूप बहुत ही सौम्य है। मां को सुगंधप्रिय है। उनका वाहन सिंह है। उनके दस हाथ हैं। हर हाथ में अलग-अलग शस्त्र हैं। वे आसुरी शक्तियों से रक्षा करती हैं। माँ चंद्रघंटा की आराधना करने वालों का अहंकार नष्ट होता है और उनको सौभाग्य, शांति और वैभव की प्राप्ति होती है।

धर्म/संस्कृति, पंचकूला:

नवरात्र के दूसरे दिन भी माता मनसा देवी मंदिर में सुबह से ही भक्तों का आनाजाना शुरू हो गया। कई श्रद्धालु तो रात से ही लाइन में लग गए और सुबह दर्शन करके गए। अबकी बार मंदिर कमेटी ने यहां घंटी बजाने और ढोल बजाने की इलेक्ट्रानिक व्यवस्था की है। शनिवार और रविवार को 34566 से ज्यादा भक्तों की भीड़ मंदिर में माता के दर्शन करने के लिए पहुंची। माता के मंदिर में जाने वाले परिवारों में से एक का कोरोना टेस्ट किया गया। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने यहां सुविधा प्रदान की है।

नवरात्र के दूसरे दिन पंचकूला के माता मनसा देवी मंदिर में सुबह से भक्तों का आना लगा रहा। यहां शाम तक करीब दस हजार से ज्यादा लोगों ने माता के दर्शन किए। यहां मौजूद एक डॉक्टर ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मंदिर में प्रवेश करने से पहले एक परिवार के एक सदस्य का रैपिड एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है। इसका उद्देश्य है कि पता लगाया जा सके कि किसी परिवार का कोई व्यक्ति संक्रमित तो नहीं।

44 लाख 85 हजार 39 रुपये का आया चढ़ावा

माता मनसा देवी मंदिर और काली माता मंदिर कालका में श्रद्धालुओं ने नवरात्र के दूसरे दिन माता के चरणों में 21 लाख 5 हजार 152 रुपए की नकद चढ़ावा चढ़ाया। इसके अलावा 50 हजार 700 रुपये की राशि प्रसाद वितरण से एकत्रित हुई है। उपायुक्त एवं मुख्य प्रशासक मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि श्रद्धालुओं ने माता मनसा देवी मंदिर में 17 सोने के नग और 85 चांदी के नग और काली माता मंदिर में तीन सोने के नग और 62 चांदी के नग चढ़ाए हैं। सोने का वजन 18.946 ग्राम और चांदी का वजन 898.06 ग्राम है। उन्होंने बताया कि माता मनसा देवी में कुल 17 लाख 59 हजार 657 रुपये और काली माता मंदिर कालका में 3 लाख 45 हजार 495 रुपये की राशि चढ़ाई है। प्रसाद वितरण योजना में माता मनसा देवी मंदिर में 100 ग्राम में 27 हजार 950 रुपये और 200 ग्राम प्रसाद वितरण में 17400 रुपये जबकि काली माता मंदिर में 100 ग्राम प्रसाद वितरण में 2750 रुपये और 200 ग्राम प्रसाद वितरण में 2600 रुपये की राशि के साथ कुल 100 ग्राम प्रसाद वितरण में 30700 रुपये और 200 ग्राम वितरण प्रसाद में 20 हजार रुपये की राशि एकत्र हुई है। इसके साथ ही इंग्लैंड से पांच पौंड भी माता के चरणों में चढ़ाए गए हैं। उन्होंने बताया कि कालका में अब तक लगभग 8 हजार और माता मनसा देवी मंदिर में करीब 34566 श्रद्धालुओं का आगमन हुआ है। दूसरे दिन तक 44 लाख 85 हजार 39 रुपये की राशि चढ़ाई गई है।