आम आदमी पार्टी के हिन्दू धर्म विरोधी होना एक टीवी चैनल ने दिखाया

डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़/पंचकुला :

केजरीवाल का मंत्री दिल्ली में हिंदुओं को, हिंदू देवी देवताओं को गाली दे रहा है और केजरीवाल गुजरात में जय श्री कृष्णा बोलने का ढोंग कर रहा है – कपिल मिश्रा

मुफ़्त का सामान देकर गरीब हिंदुओं का धर्म परिवर्तन कराने वाली एजेन्सी बन गयी हैं आम आदमी पार्टी – कपिल मिश्रा

आम आदमी पार्टी के नेता/मंत्री ने 10,000( दस हज़ार) लोगों से हिन्दू धर्म और देवी देवताओं के विरोध में शपथ दिलवाई।

नम्बरदारों का अपेक्षित सम्मान बहाल करने के लिए पंजाब सरकार वचनबद्ध – चीमा

  • नम्बरदार यूनियन के साथ मीटिंग के दौरान जायज माँगों को पूरा करने का दिया भरोसा

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब के वित्त मंत्री एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा ने नम्बरदारों को सरकार का अहम हिस्सा बताते हुये कहा है कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार नम्बरदारों का बनता सम्मान बहाल करने के लिए वचनबद्ध है।

            आज यहाँ वित्त और योजना भवन में नम्बरदारों की यूनियनों के साथ ख़ुशगवार माहौल में हुई मीटिंग के दौरान स. हरपाल सिंह चीमा ने उनकी माँगों को गंभीरता से सुना और जायज़ माँगों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। स. चीमा ने यूनियनों के नुमायंदों को यकीन दिलाया कि सरकार उनकी माँगों के प्रति सहृदय है।

            नम्बरदारों की सुविधा के लिए वित्त मंत्री ने चंडीगढ़ में किसान भवन में उनके लिए कमरे आरक्षित करने, ज़िला और तहसील कम्पलैक्सों में बैठने के लिए कमरों की व्यवस्था करने, जिला स्तर पर बनने वाली शिकायत निवारण करने कमेटियों में उनको शामिल करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों और विभागों को निर्देश जारी किये। इसके इलावा राजस्व विभाग को ज़मीनों की रजिष्ट्रेशन प्रक्रिया में नम्बरदारों की भागीदारी यकीनी बनाने के लिए कहा।

            नम्बरदारों की तरफ से मान-भत्ता बढ़ाने सम्बन्धी की माँग पर वित्त मंत्री ने यूनियन नेताओं को विश्वास दिलाया कि वह जल्दी ही यह मुद्दा मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ सांझा करेंगे। उन्होंने कहा कि इस माँग के वित्तीय प्रभावों को भी पढ़ा जायेगा जिससे योग्य फ़ैसला लिया जा सके। इस मीटिंग में विशेष सचिव व्यय मुहम्मद तैयब भी उपस्थित थे।

सरकार की किसान हितैषी अहम पहलकदमियां बताईं

  • मुख्यमंत्री द्वारा धान का एक-एक दाना ख़रीदने का प्रण
  • निर्विघ्न और सुचारू खरीद यकीनी बनाने के लिए विस्तृत प्रबंध किये
  • अलग-अलग लम्बित मुद्दों के हल के लिए किसानों के साथ की मीटिंग
  • किसानों को पराली प्रबंधन के लिये सहयोग की अपील

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने किसानों की मेहनत से पोषित फसल का एक-एक दाना ख़रीदने के लिए राज्य सरकार की दृढ़ वचनबद्धता दोहराई।


            यहां पंजाब भवन में किसानों के साथ मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों की फ़सल मंडियों में पहुँचते ही ख़रीदने के लिए पुख़्ता प्रबंध कर लिए हैं। उन्होंने कहा कि किसानों को उनके बैंक खातों में मौके पर ही अदायगी यकीनी बनाने के लिए प्रणाली विकसित की गई है। भगवंत मान ने कहा कि मंडियों में अनाज की निर्विघ्न और सुचारू खरीद यकीनी बनाई जा रही है जिससे किसानों को किसी किस्म की दिक्कत का सामना न करना पड़े।


            मुख्यमंत्री ने यह भी ऐलान किया कि मौजूदा खरीद सीजन के दौरान किसानों के ट्रैक्टरों को अनाज की लोडिंग/ढुलाई के लिए इजाज़त दी जायेगी। उन्होंने कहा कि मौजूदा खरीद सीजन के लिए इस एक्ट में उचित संशोधन किया जायेगा। भगवंत मान ने कहा कि राज्य सरकार किसानों की भलाई के लिए वचनबद्ध है।


            मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि किसानों को धान की सीधी बुवाई के लिए उत्साहित करने के लिए वित्तीय सहायता का वितरण शुरू कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि 17000 किसानों के बैंक खातों में अदायगी की जा चुकी है। भगवंत मान ने कहा कि बाकी रहते किसानों की अदायगी भी एक हफ़्ते में कर दी जायेगी।


            मुख्यमंत्री ने किसानों को यह भी भरोसा दिलाया कि लम्पी स्किन बीमारी का शिकार हुए पशुधन की विस्तृत सूची राज्य सरकार की तरफ से भारत सरकार को भेजी जायेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस बीमारी के कारण पशुधन का नुकसान सहने वाले किसानों को मुआवज़ा देने का मुद्दा केंद्र सरकार के समक्ष उठाएगी। भगवंत मान ने कहा कि इस बीमारी को महामारी ऐलानने को यकीनी बनाने के लिए पहले ही केंद्र सरकार के पास यत्न किये जा रहे हैं।

           
            एक अन्य मुद्दे पर बात करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब में किसान आंदोलन के दौरान दर्ज हुए कई केस पहले ही रद्द किये जा चुके हैं और बाकी रहते केस भी जल्द ही रद्द कर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि आंदोलन के दौरान जानें गवाने वाले किसानों के परिवारों को पहले ही 5-5 लाख रुपए की सहायता दी जा चुकी है।

            भगवंत मान ने आगे कहा कि आंदोलन के दौरान जानें गवाने वाले कुल 624 किसानों में से 326 के वारिसों को सरकारी नौकरियाँ दीं चुकी हैं और बाकियों को भी जल्दी ही नौकरियाँ दीं जाएंगी।


            मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानों के नाम पर यादगार बनाने के लिए काम करेगी। उन्होंने कहा कि मूँगी की फ़सल का मुआवज़ा भी किसानों को दिया जा चुका है। भगवंत मान ने कहा कि भविष्य में मूँगी की फ़सल की खरीद के लिए आगामी पुख़्ता प्रबंध किये जाएंगे।


            मुख्यमंत्री ने किसानों को भरोसा दिलाया कि वह एफ. आई. आरज़. का मुद्दा रेलवे मंत्रालय के समक्ष भी उठाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए फूड प्रोसेसिंग उद्योग को बढ़ावा देने के लिए वचनबद्ध है।

            मीटिंग के दौरान भगवंत मान ने बताया कि राज्य में 15 अक्तूबर से पशु मेले फिर शुरू होंगे।
विचार-विमर्श में हिस्सा लेते हुये किसानों ने गन्ने के मूल्य में विस्तार करने के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया और उन्होंने मुख्यमंत्री को प्राईवेट मिलों की बकाया राशि की अदायगी के लिए दख़ल देने की अपील की। मीटिंग के दौरान यह भी फ़ैसला किया गया कि चीनी मिलों में पिड़ायी सीजन 5 नवंबर से शुरू होगा, जिससे पहले तैयारियों का जायज़ा लेने के लिए 11 अक्तूबर को मीटिंग की जायेगी।


            मुख्यमंत्री ने किसानों को कहा कि राज्य सरकार पराली के प्रबंधन के लिए हर संभव यत्न कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों को इस कार्य के लिए राज्य सरकार का साथ देना चाहिए। भगवंत मान ने कहा कि राज्य के वातावरण को बचाना समय की मुख्य ज़रूरत है।

दुश्मनी की राजनीति करने और झूठे केस दर्ज करने को लेकर वड़िंग ने की सरकार की निंदा


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ : 

            पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं के खिलाफ दुश्मनी की राजनीति करने वाली आम आदमी पार्टी सरकार की निंदा की है और कहा कि उनकी पार्टी लोगों की अदालत में इस लड़ाई का जवाब देगी।


      उन्होंने एक ठेकेदार से पैसे लगने के लिए साजिश रचने के मामले में मंत्री फौजा सिंह सरारी के खिलाफ मजबूत सबूत होने के बावजूद उसे दिए जा रहे संरक्षण के खिलाफ राज्य स्तर पर प्रदर्शन किए जाने का भी ऐलान किया।
      उन्होंने आप सरकार से कहा कि बहुत हो गया। हम आपके द्वारा बिना किसी सबूत के अपनी मनमर्जी से चुन-चुन कर लोगों को प्रताड़ित करने व धमकाने की और इजाजत नहीं दे सकते।


            प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने सरकार के दोहरे मापदंड पर जिक्र करते हुए कहा कि एक ओर आप ने अपने दो मंत्रियों विजय सिंगला और फौजा सिंह सरारी को आजाद घूमने की छूट दे रखी है। सिंगला के संबंध में आपने ड्रामा किया और बाद में अदालत में केस को अच्छी तरीके से नहीं पेश किया, जिसे लेकर बड़े-बड़े दावों के विपरीत या तो इनके पास सबूत नहीं है या फिर उसे बचाने के लिए सबूतों को अदालत से छुपा लिया गया।


            इसी तरह सरारी के खिलाफ साफ तौर पर खुला मामला है, जिसके अपने ओएसडी ने स्वीकार किया है कि ऑडियो रिकॉर्डिंग सही है। उसके खिलाफ कोई भी कार्रवाई करना तो दूर, आपने तो जांच भी नहीं शुरू की।


            जबकि कांग्रेसी नेताओं जैसे साधु सिंह धर्मसोत, संगत सिंह गिलजियां, भारत भूषण आशू और अब कैप्टन संदीप संधू के खिलाफ केस दर्ज करने को लेकर वड़िंग ने कहा कि सिर्फ इसलिए क्योंकि किसी व्यक्ति ने आरोप लगाया कि उसने किसी को पैसे दिए या उसने उसे कोई काम करने को कहा, आपने केस दर्ज कर लिए और एक पूर्व मंत्री को जेल भेज दिया।


            उन्होंने खुलासा किया कि दुश्मनी की राजनीति के तहत बड़ी संख्या में कांग्रेसी सरपंचों और जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया गया है। यह तानाशाही और अस्वीकार योग्य है।


            प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने चेतावनी देते हुए कहा कि आप खतरनाक प्रथा कायम कर रही है और इसका कोई अंत नहीं होगा, यदि इसे यहां और अभी ना रोका गया। आप हमेशा सत्ता में नहीं रहने वाले और ना ही कहीं जाने वाले हो, आपको यहीं पर ही इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा।


            उन्होंने पुलिस अधिकारियों को आंखें बंद करके आप सरकार के हुक्म मानने के विरुद्ध चेतावनी दी। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से अपने दिमाग का इस्तेमाल करने और सबूतों के आधार पर कार्रवाई करने को कहा ना कि आंखें बंद करके इनके दुश्मनी भरे निर्देश मानें। हो सकता है कि आप को हमारे खिलाफ कुछ राजनीतिक बदल लेना है, लेकिन आप क्यों उसमें पार्टी बन रहे हो।


            वड़िंग ने कहा कि कांग्रेसी नेताओं के विरुद्ध दुश्मनी और प्रताड़ना की राजनीति का अंत होना चाहिए। हम प्रदर्शनों को गलियों तक लेकर जाएंगे और अधिक सहन नहीं करेंगे। उन्होंने सरकार को दुश्मनी की राजनीति के तहत दर्ज किए गए झूठे मामलों में सबूत पेश करने को कहा।


            उन्होंने सरकार से कहा कि खबरदार रहें, क्योंकि पंजाब के लोग आपको देख रहे हैं और उन्होंने आपको अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ दुश्मनी की राजनीति करने के लिए नहीं चुना, लोगों ने आपको शासन के लिए चुना है, जिस संदर्भ में आप या तो नहीं जानते कि शासन कैसे चलाया जाता है या फिर आपकी इसे सीखने की मंशा नहीं है

रिज़र्व बैंक के निष्पक्ष उधार अभ्यास कोड की पालना न करने वाली कर्ज़ देने वाली कंपनियों के विरुद्ध की जायेगी सख़्त कार्यवाही : चीमा

  • ग्रामीण और खेत मज़दूर यूनियनों के सांझे मोर्चो के साथ मीटिंग के दौरान माँगों पर विस्तार में चर्चा

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब के वित्त मंत्री एडवोकेट हरपाल सिंह चीमा भारतीय रिज़र्व बैंक के निष्पक्ष उधार अभ्यास कोड का उल्लंघन करने वाली कर्ज़ देने वाली फर्मों को चेतावनी दी कि यदि ऐसे उल्लंघन का कोई भी मामला सरकार के ध्यान में आने पर सख़्त कार्यवाही की जायेगी।

            वित्त मंत्री ने यह चेतावनी ग्रामीण और खेत मज़दूर यूनियनों के सांझे मोर्चो की मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये दी। फ्रंट ने मंत्री को अवगत करवाया कि कुछ माईक्रोफाईनांस फर्मों समेत बहुत सी उधार देने वाली फर्में घटिया चालों और नाजायज वसूली अभ्यासों का सहारा ले रही हैं। इसका गंभीर नोटिस लेते हुये स. चीमा ने वित्त विभाग को हिदायत की कि ऐसी किसी भी घटना की रिपोर्ट भारतीय रिज़र्व बैंक को की जाये और ऐसे अदारों के पूरे भारत के लायसेंस को रद्द करने समेत सख़्त कार्यवाही की सिफ़ारश की जाये।
            दो घंटे तक चली इस उच्च स्तरीय मीटिंग के दौरान वित्त मंत्री की तरफ से फ्रंट की माँगों के बारे विस्तार से विचार-विमर्श किया गया। इस मीटिंग में पुलिस, सामाजिक सुरक्षा, बिजली, सहकारिता, ख़ाद्य और सिवल सप्लाई, ग्रामीण विकास और वित्त विभागों के सीनियर अधिकारी उपस्थित थे। वित्त मंत्री ने इन अधिकारियों को हिदायत की कि जिन मुद्दों पर तुरंत कार्यवाही संभव है ऐसीं सभी माँगों पर तुरंत कार्यवाही यकीनी बनाई जाये।

            स. चीमा ने फ्रंट की अन्य जायज़ माँगों की पूर्ति के लिए वित्तीय और कानूनी उलझनों पर सम्बन्धित विभागों को रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा। उन्होंने फ्रंट के मसलों के जल्दी हल के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को फ्रंट के नुमायंदों के साथ समय-समय पर मीटिंगें करने के निर्देश भी दिए।

            वित्त मंत्री ने ग्रामीण और खेत मज़दूर यूनियन के सांझे मोर्चे को यह भी भरोसा दिया कि उनकी माँगों पर विचार करने के लिए, जिनका हल मुख्यमंत्री के स्तर पर ही हो सकता है, वह जल्दी ही मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ फ्रंट की मीटिंग तय करवाएंगे।


            इस मीटिंग में ए. डी. जी. पी लॉ एंड आर्डर अर्पित शुक्ला और विशेष सचिव वित्त यशनजीत सिंह भी मौजूद थे।

Police Files, Panchkula – 06 October, 22

साइबर अपराधों से बचने हेतु डॉयल करें 1930

कोरल ‘पुरनूर’, डेमोक्रेटिक फ्रंट, पंचकूला  – 06 अक्तूबर :

            एडीजीपी क्राइम ओपी सिंह के निर्देशानुसार सभी जिलों में साइबर अपराधो से बचने हेतु जागरुकता कार्यक्रम आयोजित करके लोगो साइबर अपराधों से बचने हेतु जागरूक किया जा रहा है । इसी अभियान के  आज डीसीपी पंचकूला सुरेंद्र पाल सिंह के नेर्तत्व में एसीपी ममता सौधासाइबर थाना प्रभारी योगविन्दर सिंह व उसकी टीम द्वारा  द्वारा आज पुलिस डी ए वी पब्लिक स्कूल में साइबर अपराधों से बचने हेतु साइबर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया । कार्यक्रम के मुताबिक स्कूल में बचों को साइबर से जुड़े अपराधों बारे जानकारी दी और पब्लिक साइबर जागरूकता अभियान के तहत लोगो को साइबर अपराधों से बचने हेतु किया जागरूक ।    

               

            साइबर थाना प्रभारी ने बताया कि साइबर अपराधों से बचने हेतु हमे सावधान रहने की आवश्यकता है क्योंकि साइबर अपराधी तरह तरह के तरीके अपनाकर लोगो को ऑनलाइन जाल में फंसाकर लोगो के साथ ठगी को अंजाम देते है अंजान व्यक्ति के साथ किसी भी प्रकार की निजी जानकारी शेयर न करें और न किसी प्रकार का ओटीपी इत्यादि शेयर करें ।इसके साथ ही साइबर थाना प्रभारी ने बताया कि आजकल जैसें -2 तकनीकी बढ रही है वैसे ही साइबर अपराधी तकनीकी का फायदा उठाकर भोले –भाले लोगो को बेवकूफ बनाकर उनके साथ पैसो की ठगी करते है । इसलिए  साइबर अपराधो से बचनें हेतु खुद को जागरुक रखें और किसी अन्जान व्यकित के साथ अपनी पर्सनल जानकारी जैसे, एटीएम कार्ड नम्बर, क्रेडिट कार्ड, ओटीपी, बैंक सबंधी जानकारी सांझा ना करें इसके अलावा ऑनलाइन लोन देने वाली ऐप और सोशल मीडिया पर रुपयों की मांग करने वालों से, गूगल से कस्टमर केयर नंबर सर्च इत्यादि साइबर क्रिमनल से सावधान रहें ।  किसी भी प्रकार की ऑनलाईन धोखाधडी होनें पर तुरन्त 1930 पर कॉल करें या सबंधित थाना में साइबर हेल्प डेस्क से मदद लें । इसके अलावा साइबर क्राइम पोर्टल cybercrime.gov.in पर अपनी शिकायत रजिस्टर्ड कराए ।

            साइबर थाना प्रभारी योगविन्दर सिंह ने जानकारी देते हुवे बताया कि पंचकूला के सभी स्कूलों में पुलिस द्वारा साइबर अपराधों से बचने हेतु जागरूक किया जाएगा और बचों से संबंधित साइबर बुलिंग जैसे अपराधों से कैसे बचा जा सकता है और किस प्रकार के लोग ऑनलाइन कैसे आपको अपने जाल में फंसाते है हेतु जानकर दी गयी । इसके साथ ही कहा कि साइबर पुलिस समय-समय पर लोगों को साइबर क्राइम से बचाने और जागरूक करने के लिए गाइडलाइन भी जारी कर रही है ताकि साइबर अपराधों पर वो अंकुश लगाने में कामयाब हासिल कर सके । और साइबर क्राइम पर पूरी तरह से कामयाबी हासिल करने के लिए आमजन के सहयोग की जरूरत है साइबर अपराधों के प्रति खुद को जागरूक रखे और अपने साथियों को भी साइबर अपराधों से जागरूक करें इसके के साथ ही अगर कोई अनजान व्यक्ति आपको किसी प्रकार की कोई भले की बात कर रहा है या कोई जॉब या कोई लॉटरी, या किसी पैसे संबधित कोई बात करता है तो वह साइबर क्रिमिनल हो सकता है अगर कोई किसी प्रकार की आपके साथ कोई बात होती है तो तुरंत 1930 राष्ट्रीय  साइबर हेल्पलाइन लाइन पर कॉल करें ।

गौड़ीय मठ के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु महाराज ने रावण दहन किया  

डेमोक्रेटिक फ्रंट संवाददाता, चंडीगढ़ – 6 अक्टूबर :

            विजयदशमी के शुभ अवसर पर श्री चैतन्य गौड़ीय मठ संस्थान के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष आचार्य त्रिदंडी स्वामी श्री भक्ति विचार विष्णु जी महाराज जी ने सेक्टर 48 स्थित दशहरा ग्राउंड में लंकापति नरेश रावण, उसके भाई कुंभकरण एवं पुत्र मेघनाथ के पुतलों का विधि विधान एवं नियम पूर्वक दहन किया।

            कमेटी के प्रेस सचिव जयप्रकाश गुप्ता ने बताया कि युवा विकास रामलीला कमेटी मौलीजागरां के कलाकारों ने भगवान रामलीला की  झांकियां पेश की। संध्याकाल में जोरदार तरीके से रंगबिरंगी आतिशबाजी का जश्न प्रस्तुत किया, जिसको भारी भीड़ समूह ने जोरदार तालियों की गड़गड़ाहट से अभिनंदन किया  गया।

            श्री तिरुपति बालाजी सेवा संस्थान द्वारा आयोजित लंका दहन महोत्सव कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए पूज्यपाद विष्णु महाराज जी ने अपने संदेश में कहा कि लंकापति नरेश रावण, भगवान रामचंद्र से योग्यता में गुणों में, उम्र में कई गुना आगे था लेकिन भगवान राम मर्यादा के अनुरूप चलते थे उनका जीवन आदर्श पूर्ण था लेकिन रावण इसके विपरीत बुद्धि से जीवनयापन कर रहा था।

            रावण के पास सत्ता की शक्ति, लंबा जीवन का अनुभव, चारों वेदों का पूर्ण ज्ञाता था , लेकिन फिर भी विजय भगवान रामचंद्र की हुई ,जहां सत्य, चरित्र एवं आदर्श है, वहां विजय निश्चित है, हमारी आज की नई पीढ़ी को यह संस्कार अर्जित करने की आवश्यकता है।

            महाराज श्री ने दशहरा कमेटी के सदस्यों को अवार्ड देकर सम्मानित किया। इसमें प्रमुख रूप से स्थानीय पार्षद राजेंद्र शर्मा, चंडीगढ़ भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं दशहरा कमेटी के संरक्षक भीमसेन अग्रवाल, महिला मोर्चा महासचिव प्रदेश रूबी गुप्ता, हरियाणा सरकार फाइनेंशियल एडवाइजरी कमेटी के मेंबर नवीन गुप्ता, व्यापार मंडल के अध्यक्ष चरणजीव सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता अवि भसीन,दशहरा कमेटी के अध्यक्ष  सकतर सिंह राजपूत, जनरल सेक्रेटरी गौरव सरवाल, चेयरमैन हनीत कुमार, उपाध्यक्ष टिंकू कुमार, सुरन सिंह राणा सीनियर एडवोकेट, प्रह्लाद कुमार, सेवा भारती चंडीगढ़ के महासचिव नरेंद्र कुमार पांडे आदि विशेष रूप से उपस्थित रहें और महाराज श्री ने इनको सम्मानित किया।

40 करोड़ रुपए की लागत से राजपुरा के जल सप्लाई और सिवरेज सिस्टम का सुधार करेंगे : डॉ. इन्दरबीर सिंह निज्जर

  • कस्बे के 25 हज़ार लोगों को मिलेगा जल सप्लाई और सिवरेज सिस्टम का लाभ

 राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब सरकार ने राजपुरा कस्बे के लिए जल सप्लाई और सिवरेज की सुविधा मुहैया करवाने 40 करोड़ की लागत वाला प्रोजैक्ट शुरू किया है।


            स्थानीय निकाय मंत्री डॉ. इन्दरबीर सिंह निज्जर ने इस प्रोजैक्ट के काम का जायज़ा लेने के बाद विभाग के अधिकारियों को इस काम को तेज़ी से मुकम्मल करने के निर्देश दिए हैं।


            इस सम्बन्धी और जानकारी देते हुये स्थानीय निकाय मंत्री ने बताया कि नगर कौंसिल, राजपुरा की सीमा में जल सप्लाई की सुविधा मुहैया करवाने के लिए वाटर वर्कस की नयी मोटरें, नलास रोड और एकता कालोनी में 02 बुस्टिंग ट्युवबैलज़ स्थापित किये जाने हैं। इसी तरह पानी की सप्लाई का सामर्थ्य बढ़ाने के लिए गंडा खेड़ी से वाटर वर्कस तक डी आई पाईप लाईनें बिछाने का काम भी इस प्रोजैक्ट के अधीन शामिल है।


            कैबिनेट मंत्री ने आगे बताया कि राजपुरा कस्बे में 49 किलोमीटर एरिये में सिवरेज लाईनों और 35 किलोमीटर एरिया में जल सप्लाई लाईनें बिछायी जाएंगी। उन्होंने बताया कि राजपुरा के करीब 25000 लोगों को जल सप्लाई और सिवरेज सिस्टम का लाभ मिलेगा।


            मंत्री ने बताया कि मुख्यमंत्री पंजाब, स. भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार राज्य के लोगों को भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन मुहैया करवाने के लिए वचनबद्ध है। इसलिए उनकी तरफ से अधिकारियों को निर्देश दिए गये हैं कि काम में पारदर्शिता लानी यकीन बनाई जाये।


            श्री वी. के. शर्मा, सी. ई. ओ., पंजाब जल सप्लाई और सिवरेज बोर्ड ने बताया कि जल सप्लाई का 55 प्रतिशत और सिवरेज का 80 प्रतिशत काम मुकम्मल कर लिया गया है। उन्होंने विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि यह काम निर्धारित समय के अंदर हर हाल में मुकम्मल किया जाये।

चंडीगढ़ की 12 वर्षीय लेखिका जोयना सहगल की किताब ‘द शैडो इन द चैज़म’ का हुआ विमोचन

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़: 

            सिटी ब्यूटीफुल की बारह साल की नवोदित लेखिका जोयना सहगल की पहली पुस्तक ‘द शैडो इन द चैज़म’ का अनावरण पूर्व-आईएएस, मोटिवेशनल स्पीकर व लेखक श्री विवेक अत्रे ने किया। नाटक के रूप में लिखी गई यह पुस्तक एक जादुई दुनिया की है जो आपकी कल्पना को प्रज्वलित करती है। यह आपको एक घर के पिछवाड़े में एक मंत्रमुग्ध कर देने वाले तालाब से चुड़ैलों और जादूगरों की एक रहस्यमय दुनियां में ले जाती है। कहानी का रोमांच और जादू आपको दो साधारण 15 वर्षीय लड़कियों के साथ यात्रा पर ले जाता है।

            जोयना न केवल ऐकडेमिक फ्रंट पर एक होनहार छात्रा रही है, बल्कि उसके पास कई अन्य उपलब्धियां भी हैं जैसे उन्हें 2021-2022 में सिल्वर जोन ओलंपियाड, नई दिल्ली द्वारा आयोजित अंग्रेजी, एप्टिट्यूड एंड साइंस में तीन स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें ट्रिनिटी कॉलेज, लंदन द्वारा कम्युनिकेशन स्किल्स, इनिशियल कम्युनिकेशन स्किल्स में ग्रेडेड परीक्षा में प्रवेश स्तर के पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

            जोयना, जो कि बहुत ही सकारात्मक ऊर्जा से भरी हुई है, ने कार्मेल कॉन्वेंट स्कूल चंडीगढ़ द्वारा आयोजित एक इंटर-स्कूल हिंदी कविता पाठ प्रतियोगिता ‘मिलें साहित्यकारो से’ में पहला स्थान हासिल किया। इसके अलावा, उन्हें अंग्रेजी और हिंदी कविता, स्टोरी टेलिंग, घोषणापत्र और भाषणों में कई पुरस्कार मिले हैं। उन्होंने स्कूल स्तर पर आयोजित ब्रेन बी चैलेंज, पोस्टर मेकिंग और बेस्ट आउट ऑफ वेस्ट प्रतियोगिता में भी भाग लिया है। उन्हें टेनिस, बास्केटबॉल और फुटबॉल जैसे कई खेलों में भी काफी दिलचस्पी है।

            पहली बार लेखिका के रूप में अपनी यात्रा के बारे में बात करते हुए, जोयना ने बताया कि वह जे.के राउलिंग की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं और उन्हें बहुत कम उम्र में पढ़ने की आदत डाल दी गई थी। उन्होंने सांझा किया कि इस पुस्तक को लिखने और फिर संजोकर रखना एक चुनौतीपूर्ण प्रक्रिया थी लेकिन यह मेरे लिए फायदेमंद साबित हुई। सेंट जेवियर्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल, चंडीगढ़ की छात्रा, जोयना ने कहा कि उनके माता-पिता और शिक्षकों ने उन्हें बहुत सहयोग दिया जिसके कारण वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर पाई। वह भविष्य में लिखना जारी रखेगीं और अपने साथी छात्रों को भी इस कार्य के लिए प्रोत्साहित करेगी।

            यह पुस्तक द ब्राउजर द्वारा प्रकाशित की गई है और अमेज़न इंडिया एंड इंटरनेशनल पर खरीदने के लिए उपलब्ध है।

पंचकूला को बनायेंगे एक आदर्श शहर-विधानसभा अध्यक्ष

  • युवाओं का देश व समाज के नवनिर्माण में होता है अहम योगदान
  • गुप्ता ने सेवा पखवाड़ा के तहत स्वच्छता, नशा मुक्ति एवं यातायात नियंत्रण पर आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में की शिरकत
  • जिला के 425 स्कूलों में लगभग 28 हजार विद्याार्थियों ने देखा यूट्यूब के माध्यम से कार्यक्रम का सीधा प्रसारण

कोरल ‘पुरनूर’, डेमोक्रेटिक फ्रंट, पंचकूला  –  6 अक्तूबर  :

            हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि उन्होंने पंचकूला को एक आदर्श शहर बनाने की कल्पना की है और इसके लिये उन्होंने सात सरोकार दिये है। उन्होंने युवाओं से आह्वान करते हुये कहा कि वे पंचकूला को स्वच्छ और सुंदर बनाने में अपना योगदान दें, नशे से दूर रहे और ट्रैफिक नियमों का पालन करें।

            गुप्ता आज सेक्टर-5 स्थित इंद्रधनुष आॅडिटोरियम में जिला प्रशासन की ओर से आजादी के अमृत महोत्सव और सेवा पखवाड़ा के तहत स्वच्छता, नशा मुक्ति एवं यातायात नियंत्रण पर आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि युवाओं का देश व समाज के नवनिर्माण में अहम योगदान होता है।

            इस अवसर पर भारतीय थल सेवा के पूर्व अध्यक्ष जनरल वीपी मलिक, पुलिस आयुक्त डाॅ हनीफ कुरैशी, उपायुक्त महावीर कौशिक और पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र पाल सिंह और नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल भी उपस्थित थे।

            इससे पूर्व ज्ञानचंद गुप्ता और श्री वीपी मलिक ने इंद्रधनुष आॅडिटोरियम में स्कूली छात्रों द्वारा स्वच्छता, नशा मुक्ति एवं यातायात नियंत्रण पर आधारित फोटो प्रर्दशनी तथा रंगोली और  स्वास्थ्य विभाग द्वारा बच्चों की काउंसलिंग के लिये लगाये स्पेशल डेस्क का अवलोकन किया। इसके अलावा उन्होंने नशा मुक्ति प्रतिज्ञा पट्टिका पर हस्ताक्षर भी किये। कार्यक्रम का सीधा प्रसारण यूट्यूब के माध्यम से जिला के 425 स्कूलों में लगभग 28 हजार विद्याार्थियों द्वारा देखा गया।

            गुप्ता ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य युवाओं व बच्चों को स्वच्छता, नशा मुक्ति एवं यातायात नियंत्रण जैसे अह्म सामाजिक विषयों के बारे में जागरूक करना हैं। उन्होंने कहा कि आज युवा तेजी से नशे की चपेट में आ रहा हैं। एक सर्वें के अनुसार 14 से 18 वर्ष की आयु के 35 प्रतिशत बच्चें नशे की चपेट में आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि पड़ोसी देशों द्वारा एक सोची समझी साजिश के तहत देश की युवा पीढ़ी के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। उन्होंने विद्यार्थियों और शिक्षकों से अपील की कि वे ध्यान दें कि उनके आस पास कहीं नशा तो पनप नहीं रहा। उन्होंने अभिभावकों से भी आग्रह किया कि वे अपने बच्चों को नशे से दूर रखने के लिये उन्हें पर्याप्त समय दें और उन पर ध्यान दें।

            विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश की बागडोर संभालते ही देश के लोगों से स्वच्छता का आह्वान किया था। उन्होंने कहा कि देश और प्रदेश का स्वच्छ और सुंदर बनाने के लिये सरकार के प्रयासों के साथ साथ जन भागीदारी भी आवश्यक है। उन्होंने कहा कि इस कार्य में हमारे बच्चे और युवा एक अहम रोल अदा कर सकते है। वे ना केवल अपने स्कूल और घर को स्वच्छ रखेंगे बल्कि अपने गांव, शहर में अन्य लोगों को भी स्वच्छता के प्रति प्रेरित करेंगे।

            यातायात नियमों की अहमियता पर बल देते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि पंचकूला में यातायात नियमों की पालना के लिये पुलिस द्वारा एक जागरूकता अभियान चलाया गया, जिसके माध्यम से लोगों को यातायात नियमों के बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि उन्होंने पंचकूला के लिये सात सरोकार दिये है, जिसमें ये तीन सरोकार भी शामिल है। उन्होंने कहा कि पंचकूला को स्लम फ्री बनाने के लिये नगर निगम द्वारा एक प्रस्ताव पारित किया गया हैं और इस पर निगम द्वारा कार्य भी शुरू कर दिया गया हैं। इसके अलावा पंचकूला को स्वच्छ और सुंदर बनाने के उद्देश्य अवैध अतिक्रमण को भी हटाया जा रहा हैं। उन्होंने कहा कि रेहड़ी-फड़ी वालों के लिये एक व्यवस्थित तरीके से कार्य करने के लिये वेंडिंग जोन स्थापित किये गये हैं।

            कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये थल सेना के पूर्व अध्यक्ष श्री वीपी मलिक ने स्वच्छता, नशा मुक्ति एवं यातायात नियंत्रण जैसे अहम विषय पर कार्यक्रम आयोजित करवाने के लिये विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि नशा युवाओं पर बुरा असर डाल रहा है, जिससे देश को भी नुकसान पंहुच रहा है। उन्होंने कहा कि उन्होंने सेना में रहते हुये देशभक्ति, कत्र्तव्य पालन और अनुशासन की भावना से देश की सेवा की है। उन्होंने युवाओं से भी अपील की कि वे भी इन तीन नैतिक कर्तव्यों का पालन करें। ऐसा करके वे जीवन में किसी भी मुकाम को हासिल कर सकते है। उन्होंने कहा कि यातयात नियमों का पालन करके हम सड़क दुर्घटनाओं को रोक सकते है। उन्होंने कहा कि पंचकूला को और स्वच्छ व सुंदर बनाने के लिये पंचकूलावासी मिलजुलकर कार्य करें और पंचकूला की स्वच्छता रैकिंग को और उपर लेकर आये।

            इससे पूर्व स्वच्छता, नशा उन्मूलन व यातायात नियंत्रण पर नाटकों का मंचन किया गया, जिसे दर्शकों ने खूब सराहा। इन नाटकों में कलाकारों ने अपने अभिनय के माध्यम से तीन विषयों पर जागरूक किया।

            इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने 9 सितंबर से 20 सितंबर तक एसीपी और विश्व प्रसिद्ध पर्वतारोही ममता सौदा के नेतृत्व वाले 10 सदस्यीय दल द्वारा साईकिल से हिमालय की दराओं को पार करते हुये 17 हजार 982 फुट की उचाई पर स्थित लद्दाख के खरदुंगला पंहुच सात सरोकार का संदेश देने के लिये दल के सभी सदस्यों को प्रशिस्त पत्र देकर सम्मानित किया। उन्होंने स्कूलों में आयोजित पेंटिंग, स्लोगन राईटिंग व रंगोली प्रतियोगिता के विजेताओं को भी प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त विरेन्द्र लाठर ने स्वच्छता, अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक ने नशामुक्ति और एसीपी ममता सौदा ने यातायात नियमों का पालन करने के लिए उपस्थित लोगों को शपथ भी दिलवाई।

            इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक, नगराधीश गौरव चैहान, नगर निगम आयुक्त वीरेंद्र लाठर, उप निगम आयुक्त दीपक सूरा, सीईओ जिला परिषद गगनदीप सिंह, एसीपी राजकुमार, डिप्टी डीईईओ अंजू ग्रोवर, डीईईओ सतपाल कौशिक, कुलभूषण शर्मा, डीपी संध्या मलिक, डाॅ स्नेह, ट्रैफिक मैनेजर ब्योम शर्मा, जिला महामंत्री परमजीत कौर, पार्षद सुरेश वर्मा, जय कौशिक, नरेंद्र लुबाना, मंडलाध्यक्ष गौतम राणा सहित जिला प्रशासन के अधिकारी व स्कूली बच्चे उपस्थित थे।