राजियासर की छात्र महापंचायत और मेरी भूख का आनंद

करणी दान सिंह राजपूत, डेमोक्रेटिक फ्रंट, सूरतगढ़ 6 दिसंबर :

करणी दान सिंह राजपूत

            राजियासर में आज छात्र महापंचायत में पहुंचने का सुनने का और बोलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। ग्रामीण क्षेत्र में और वह भी छात्र छात्राओं के बीच में जोश के साथ बोलना बड़ा आनंददायक रहा। ऐसे मौके मिले तो उसका लाभ अवश्य मिलता है और ऐसा लाभ लेने में आगे रहे तो उसका श्रेय भी मिलता है।

             छात्र महापंचायत में पहुंचने का लाभ यह हुआ कि मुझे मेरी उम्र के इर्द-गिर्द के अनेक लोग मिले जिनसे यह पुनर्मिलन करीब 20-  22 साल बाद हुआ।

            मैं राजियासर इलाके में ग्रामीण क्षेत्र के समाचारों के लिए और अकाल के समाचारों के लिए अकेले,प्रशासन के साथ और विधायकों के साथ भ्रमण करता रहता था। आज ग्रामीण इलाके में जाने का अवसर मिला

            छात्र पंचायत के बीच में भाषण देने से मुझे ऐसे लगा कि मैं 50 साल पहले के जीवन में बोल रहा हूं। सूरतगढ़ में राजकीय महाविद्यालय खुलवाने के लिए हमने गुरूशरण छाबड़ा ने और हमारे अनेक साथियों ने दिन-रात अथक प्रयत्न किया आंदोलन भी किया।

             आज मुझे वे दिन याद आ गए जब भूख और प्यास हमारे नजदीक नहीं फटकती थी। हम पूरे जोश के साथ सूरतगढ़ में राजकीय महाविद्यालय खुलवाने के लिए संघर्ष कर रहे थे। उस समय रोटी खाई या नहीं खाई इसकी परवाह नहीं होती थी। बस दिल और दिमाग के अंदर एक ही बात थी कि सूरतगढ़ में राजकीय महाविद्यालय खुलवाना है।

             हम लोग कामयाब भी हुए 1972 में मांग शुरू की और 1977 में हमारी मांग पूरी हुई।

             आज छात्र महापंचायत में जब मैं बोल रहा था तो बड़ा आनंद आ रहा था कि मैं एक आह्वान कर रहा हूं और यह आह्वान सफल होगा तो इलाके में जबरदस्त क्रांति सी आ जाएगी।

            मैंने अपने वक्तव्य में एक गीत की कुछ पंक्तियां गाकर वक्तव्य दिया था।जब साक्षरता अभियान में हम लोग काम करते थे,उस समय वह गीत गाया जाता था।साक्षरता अभियान मैं कोई पारिश्रमिक नहीं मिलता था।

            अभियान में एक महत्वपूर्ण गीता ‘ले मशालें चल पड़े हैं लोग मेरे गांव के,अब अंधेरा जीत लेंगे लोग मेरे गांव के।

 मैंने इस गीत की ये पंक्तियां गा करके आव्हान किया कि हम सफल होंगे तो उच्च शिक्षा का केंद्र खोलने से बहुत बड़ा अंधियारा दूर होगा। विकास के नए मार्ग खुल जाएंगे।

            मैंने बार-बार वहां कहा कि आज मेरा सौभाग्य है कि मैं इस मंच से बोल रहा हूं। हमने अनेक आंदोलनों में भाग लिया। पत्रकारिता के साथ-साथ आंदोलन चलाए।

 आज मुझे बड़ी खुशी हो रही थी।

             मैं जब सूरतगढ़ से सुबह घर से रवाना हुआ तो चाय बिस्कुट खाए हुए थे।नरेंद्र घिंटाला के साथ कार में रवाना हुआ।राजियासर पहुंचा वक्तव्य दिए और वक्तव्य में एक बात भी कही कि मुख्यमंत्री जी को मैं पत्र लिखूंगा।  महापंचायत और नायब तहसीलदार को ज्ञापन देने के बाद में जब सूरतगढ़ लौटे तब पहला काम तो मुख्यमंत्री अशोक जी गहलोत को पत्र लिखने का किया। उसके बाद फोटो छांटे और समाचार बनाया। करणी प्रेस इंडिया में लगाया। फेसबुक में लिंक लगाया। सोशल मीडिया के अनेक ग्रुपों में लगाया।

            इन कार्यों में रात के 8:30 बज चुके थे। इन सब कार्यों को करने के बाद में भोजन किया गया साधारण शब्दों में रोटी खाई। सच्चाई यह है कि सारे दिन रोटी की याद भी नहीं आई।

            महापंचायत के बाद में नरेंद्र घिंटाला ने दो-तीन बार मुझे कहा कि भाई साहब आपने भोजन नहीं किया है, यहां राजियासर में बनवा लेते हैं। मैं इनकार कर गया। रात को 8:30 बजे के बाद में भोजन किया रोटी खाई तो उसका आनंद कल्पना से भी परे था।

            रोटी के हर कौर में आनंद और हर कौर के साथ राजियासर की महापंचायत और उसके दृश्य अपने आप आंखों के आगे आ रहे थे।  राजियासर के छात्र लोग सफल हों। यही कामना है। मैं राजियासर के लोगों के साथ खड़ा हूं।उनके समाचार अधिक से अधिक प्रसारित करने को ताकि यह आंदोलन सफल हो जाए।

 मैं हर वक्त समाचार देने के लिए आगे रहूंगा। शुभकामनाएं।

राजियासर में राजकीय महाविद्यालय खोलो, महापंचायत का सिंहनाद : बजट में घोषणा हो

            महापंचायत में सभी राजनीतिक दलों व सामाजिक संगठनों के लोग काफी संख्या में एकत्रित हुए। मंच पर जोशीले भाषण हुए। सभी ने कहा कि समिति जो भी कार्यक्रम करेगी उसमें उपस्थित रहेंगे।वक्ताओं की ओर से यह भी कहा गया कि आगामी चुनाव में भी यह महत्वपूर्ण मुद्दा रहेगा।

  करणीदानसिंह राजपूत, डेमोक्रेटिक फ्रंट, राजियासर/ सूरतगढ़ – 6 दिसम्बर :

            सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्र राजियासर में राजकीय महाविद्यालय खोलने की मांग को लेकर राम मंदिर क्षेत्र में महापंचायत जुड़ी। महापंचायत में राजियासर क्षेत्र के और सूरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र के संघर्षशील लोग जुटे जो विभिन्न राजनीतिक दलों एवं समाजसेवा से जुड़े हैं।

            राजियासर के आसपास के गांवों में पिछले करीब 25 दिनों से लोगों को जगाने का कार्य करते हुए इस महापंचायत में उपस्थित होने की अपील की गई। यह अपील राजियासर में राजकीय महाविद्यालय खुलवाने की मांग कर रही समिति की ओर से की गई। इस समिति के अध्यक्ष सुमित चौधरी और अन्य कार्यकर्ताओं ने दिनरात एक कर महापंचायत बुलाई थी। इलाके के बुजुर्ग काफी संख्या में आए। छात्राओं की संख्या भी काफी थी। महाविद्यालय खोलने की मांग के नारे लगाते हुए छात्रों की तीन टोलियां महापंचायत में पहुंची जिससे माहौल उत्साह से भर उठा।

            महापंचायत में सभी राजनीतिक दलों व सामाजिक संगठनों के लोग काफी संख्या में एकत्रित हुए। मंच पर जोशीले भाषण हुए। सभी ने कहा कि समिति जो भी कार्यक्रम करेगी उसमें उपस्थित रहेंगे।वक्ताओं की ओर से यह भी कहा गया कि आगामी चुनाव में भी यह महत्वपूर्ण मुद्दा रहेगा।

            सभी वक्ताओं का एक ही कथन था कि सन् 2023 के विधानसभा  चुनाव से पहले यह मांग राज्य सरकार तक पहुंचाई जाए और यह मुद्दा बनाया जाए कि सरकार अगले बजट 2023 में मांग की पूर्ति के लिए राजकीय महाविद्यालय राजियासर में खोलने की घोषणा करे और बजट में प्रस्ताव रखें। 

            महापंचायत के बाद एक ज्ञापन राज्य सरकार को भिजवाने के लिए नायब तहसीलदार को सौंपा गया। सभा स्थल से उप तहसील तक लोग और छात्र पैदल नारे लगाते हुए पहुंचे।

महापंचायत को छात्र नेता रहे नरेंद्र घिंटाला, बलराम वर्मा, राकेश बिश्नोई, मोहन पूनिया, गगनदीप सिंह विरिंग,अमित कड़वासरा,अमित कल्याणा,महेंद्र सिंह भादू, पूर्व विधायक गंगाजल मील, पत्रकार भानीराम गोदारा, पत्रकार करणी दान सिंह राजपूत, एडवोकेट सखी मोहम्मद, राजस्थानी भाषा के साहित्यकार पत्रकार मनोज कुमार स्वामी, जिला परिषद सदस्य राजेश भादू, अंकुश गाबा, समिति अध्यक्ष सुमित चौधरी, सुभाष सिहाग,संदीप कासनिया आदि ने संबोधित किया।

            नरेन्द्र घिंटाला ने सबसे पहले संघर्ष की सहायता के लिए 11 हजार रूपये देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि संघर्ष करने के लिए आर्थिक सहायता जरूरी है। इसके बाद में राकेश बिश्नोई और सुभाष सिहाग ने भी अपने वक्तव्यों में 11,11 हजार रूपये देने की घोषणा की। 

             सभा में पंचायत समिति डायरेक्टर पेपसिंह राठौड़,द्वारका प्रसाद  लखोटिया, एडवोकेट हितेंद्र सारस्वत,पूर्व सरपंच बलदेव गोदारा,नत्थूराम गोदारा, राधेश्याम ओझा, पेमाराम सहारण,भागीरथ स्वामी और अनेक बुजुर्ग नेता उपस्थित थे।

पंचायत सचिवों की जायज माँगों का जल्द हल करेंगे – कुलदीप सिंह धालीवाल

माँगों सम्बन्धी विशेष कमेटी का किया गठन


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब सरकार पंचायत सचिवों की जायज माँगों का जल्द हल करेगी और इस सम्बन्धी एक विशेष कमेटी का गठन किया गया है।

            आज यहाँ पंचायत सचिवों की जत्थेबंदियों के सदस्यों के साथ मुलाकात करने के बाद पंजाब के ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने बताया कि जत्थेबंदी के सदस्यों ने उनके ध्यान में लाया है कि पंचायत सचिवों को अपने विभाग के इलावा दूसरे विभागों के काम भी सौंपे जाते हैं, जिस कारण पंचायत विभाग का काम प्रभावित होता है। उन्होंने कहा कि पंचायत सचिवों को, ग्राम सेवकों की तजऱ् पर वेतन देने और एक ही काडर बनाने के लिए सेवा नियमों में संशोधन करने समेत अन्य सभी मुद्दों को अन्य राज्यों की तजऱ् पर विचारा जायेगा।

            धालीवाल ने कहा कि डायरैक्टर ग्रामीण विकास एवं पंचायत गुरप्रीत सिंह खैहरा के नेतृत्व में डिप्टी सचिव स. हरकंवलजीत सिंह, डिप्टी डायरैक्टर स. जोगिन्दरजीत सिंह, डी. डी. पी. ओ. स. हरमनदीप सिंह, लॉ अफ़सर  कंवलजीत सिंह, डी. सी. एफ. ए. स. पलमिन्दर सिंह गिल और पंचायत सचिव स. मंगल सिंह,  भुपिन्दर सिंह,  कुलवंत सिंह,  वरिन्दर कुमार और  गुरप्रीत सिंह आदि विशेष कमेटी का गठन किया गया है जोकि पंचायत सचिवों के सर्विस रूलों से सम्बन्धित माँगों को विचारेगी और उनका हल तलाशेगी।

            वर्णनयोग्य है कि पंचायत सचिव जत्थेबंदी के सदस्यों ने पंचायत मंत्री का धन्यवाद करते हुये अपनी हड़ताल ख़त्म कर दी है और ग्राम सभाओं में पूर्ण सहयोग देने का भरोसा दिया है।

            इस मौके पर जत्थेबंदी के प्रतिनिधि जगमोहण सिंह कंग, जसपाल सिंह बाठ, निशान सिंह, जतिन्दर सिंह आदि भी उपस्थित थे

राज्य में 20 समर्पित ग्रामीण औद्योगिक हब स्थापित किए जाएंगे: मुख्यमंत्री

  • राज्य में औद्योगिक विकास एवं रोजग़ार को अधिक बढ़ावा देने के उद्देश्य से उठाया कदम
  • विभिन्न जिलों की ख़ास वस्तुओं के उत्पादन को यकीनी बनाने के लिए ‘एक जि़ला, एक उत्पाद का विचार किया पेश
  • निवेशकों की सुविधा के लिए राज्य में सिंगल विंडो सिस्टम को और मज़बूत करने का ऐलान


राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            राज्य में ख़ास करके ग्रामीण क्षेत्रों में औद्योगिक विकास को अधिक बढ़ावा देने और नौजवानों के लिए रोजग़ार पैदा करने के उद्देश्य से पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने राज्य भर में 20 समर्पित ग्रामीण औद्योगिक हब स्थापित करने का ऐलान किया है।

            औद्योगिक नीति के मसौदे के बारे विचार जानने के लिए यहाँ पंजाब सिवल सचिवालय में उद्योगपतियों के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि यह कदम दो उद्देश्यों की पूर्ति करेगा क्योंकि यह एक तरफ़ जहाँ औद्योगिक विकास को बढ़ावा देगा, वहीं दूसरी तरफ़ ग्रामीण नौजवानों के लिए रोजग़ार के नये आयाम सृजित करेगा। उन्होंने कहा कि यह हब उद्योगपतियों को अपने यूनिट स्थापित करने में सुविधा देने के लिए अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे के साथ लैस होंगे। भगवंत मान ने इन औद्योगिक हबों में अपने यूनिट स्थापित करने के इच्छुक उद्योगपतियों को पूर्ण सहयोग और तालमेल का भरोसा दिलाया और कहा कि राज्य सरकार पंजाब में औद्योगिक विकास में तेज़ी लाने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है।

            मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने अलग-अलग जिलों की ख़ास वस्तुओं के उत्पादन को यकीनी बनाने के लिए ‘एक जि़ला, एक उत्पाद’ का विचार भी पेश किया। उन्होंने कहा कि इससे औद्योगिक वस्तुओं के उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिलेगी और उद्यमियों को एक जि़ले में से बढिय़ा गुणवत्ता वाले उत्पाद पैदा करने के योग्य बनाया जायेगा। भगवंत मान ने कहा कि राज्य भर के बहुत से जिलों में कई उत्पादों में महारत है और इसकी संभावना को ‘एक जि़ला, एक उत्पाद पर केंद्रित करके आगे बढ़ाया जा सकता है।

            एक अन्य एजंडे पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार निवेशकों की सुविधा के लिए सिंगल विंडो प्रणाली को और मज़बूत करने के लिए सख़्त यत्न कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की अनुप्रयुक्त नीतियों के साथ उद्योगों के लिए शांत माहौल और अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा, राज्य में औद्योगिक विकास के लिए अनुकूल माहौल मुहैया करता है। भगवंत मान ने कहा कि इससे पहले सिंगल विंडो सेवा सिर्फ़ एक धोखा थी, जिसमें कोई सार्थक मकसद नहीं था, जिसने न सिर्फ़ संभावित निवेशकों का हौसला घटाया, बल्कि राज्य के औद्योगिक विकास को ठेस पहुंचायी।

            मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने यह यकीनी बनाया है कि सिंगल विंडो सिस्टम राज्य में निवेश करने के इच्छुक उद्यमियों के लिए मानक सुविधा के तौर पर काम करे। उन्होंने कहा कि इसको और सुचारू बनाया जायेगा जिससे उद्योगपतियों को किसी किस्म की दिक्कत का सामना न करना पड़े। भगवंत मान ने उद्योगपतियों को भरोसा दिलाया कि ज़मीनी प्रयोग में तबदीली ( सी. एल. यू.) से सम्बन्धित लम्बित मसलों को भी जल्दी हल कर लिया जायेगा और आने वाले दिनों में इस विधि को और सरल बनाया जायेगा।


            मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अमन-शांति के माहौल के कारण पंजाब दुनिया भर में निवेश के लिए सबसे पसन्दीदा स्थान है। उन्होंने कहा कि अमन-शांति को हर सूरत में बरकरार रखा जायेगा और किसी को भी किसी भी कीमत पर इस को भंग करने की इजाज़त नहीं दी जायेगी। भगवंत मान ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि रोष-प्रदर्शन हर किसी का लोकतांत्रिक हक है परन्तु इसके बहाने राज्य की आर्थिक तरक्की को रास्ते से हटाने की किसी को भी इजाज़त नहीं दी जायेगी।

            इस दौरान उद्योगपतियों ने मुख्यमंत्री का नेतृत्व वाली राज्य सरकार की निवेशक समर्थकी नीतियों की सराहना की। उन्होंने यह भी कहा कि वह राज्य को विश्व भर में उद्योगों के केंद्र के तौर पर उभरने के लिए खुले दिल से योगदान डालेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री को भरोसा दिलाया कि वे राज्य की सामाजिक-आर्थिक तरक्की में सक्रिय हिस्सेदार बनेंगे।

फ़ाज़िल्का शहर से बस अड्डा बाहर आने से ट्रैफिक़ की समस्या होगी हल

सरहदी क्षेत्र के लोगों को मिलेंगीं बेहतर बस सफर सहूलतें

राकेश शाह, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

            पंजाब के परिवहन मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने फ़ाज़िल्का के नये बस स्टैंड को जल्द से जल्द सुचारू ढंग से चलाने का हल निकालते हुये इसको परिवहन विभाग को तबदील करने के लिए कार्यवाही करने की हिदायत की है।

            लम्बे समय से ख़स्ता हाल की ओर बढ़ रहे नये बस स्टैंड को चलाने सम्बन्धी पंजाब सिविल सचिवालय में परिवहन और स्थानीय निकाय विभागों सहित ज़िला प्रशासन के उच्च अधिकारियों के साथ अहम मीटिंग के दौरान कैबिनेट मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान की सरकार लोगों के पैसे को इस तरह बर्बाद नहीं होने देगी।

            मीटिंग के दौरान फ़ैसला लिया गया कि स्थानीय निकाय विभाग द्वारा नये बस स्टैंड और परिवहन विभाग द्वारा पुराने बस स्टैंड के स्वामित्व एक-दूसरे को तबदील किये जायेगे। मंत्री ने अधिकारियों को हिदायत की कि वह जल्द से जल्द जगह तबदील करने के संबंधी कार्यवाही करें और अधिक कीमत दूसरे विभाग को तुरंत ट्रांसफर करके इस मामले का निपटारा किया जाये।

            परिवहन मंत्री ने कहा कि बसों के नये बस अड्डे में तबदील होने से शहर में ट्रैफिक़ की समस्या हल हो जायेगी और शहर निवासी बेहतर सफर सहूलतों का फ़ायदा ले सकेंगे।

            कैबिनेट मंत्री लालजीत सिंह भुल्लर ने बताया कि परिवहन विभाग को बस स्टैंड तबदील करने के बाद अगले चरण के दौरान वहां ज़रूरी सहूलतें जैसे बसों के लिए वर्कशॉप और डीज़ल पंप लगाने की योजना भी बनायी जायेगी।

रेल मंडल ने डा. भीमराव अम्बेडकर जी का 67वां महापरिनिर्वाण दिवस मनाया

रघुनंदन पराशर, डेमोक्रेटिक फ्रंट, जैतो    06 दिसंबर :

            उत्तर रेलवे के फिरोजपुर रेल मंडल कार्यालय के प्रांगण में भारत रत्न डॉ.भीमराव अम्बेडकर जी का 67वाँ महापरिनिर्वाण दिवस मनाया गया। 6 दिसम्बर, 1956 को बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर जी का निधन हुआ था,जिसे महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में प्रत्येक वर्ष मनाया जाता है।

            इस अवसर पर मंडल रेल प्रबंधक डॉ. सीमा शर्मा, अपर मंडल रेल प्रबंधक श्री भूपेंद्र प्रताप सिंह तथा श्री बलबीर सिंह के साथ अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

            मंडल रेल प्रबंधक ने इस अवसर पर कहा कि बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर स्वतंत्र भारत के संविधान निर्माता, दलितों के मसीहा तथा समाज सुधारक थे। भारतीय संविधान के निर्माण में इनका महत्वपूर्ण योगदान रहा जिसके अंतर्गत भारत के सभी लोगों को सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक और धार्मिक समान अधिकार प्राप्त हुए। इसीलिए उन्हें भारतीय संविधान का पिता तथा आधुनिक भारत का निर्माता भी कहा जाता है।

आदमपुर उपचुनाव में किए वादों को पूरा करे सरकार : दीपेन्द्र हुड्डा

राज्यसभा सांसद ने कार्यकर्ताओं का 21 दिसंबर को हरियाणा में आ रही भारत जोड़ो यात्रा में पहुंचने का किया आह्वान

पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :

                        कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष उदयभान व राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा मंगलवार को मंडी आदमपुर की गोपीराम धर्मशाला में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं को आगामी 21 दिसंबर को राहुल गांधी के नेतृत्व में हरियाणा आ रही भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने का न्यौता दिया। उन्होंने कहा कि महंगाई व बेरोजगारी से त्रस्त हरियाणा की जनता भारत जोड़ो यात्रा की बेसब्री से इंतजार कर रही है।

              दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा की मौजूदा गठबंधन सरकार आदमपुर उपचुनाव के समय जनता से किये वायदों को जल्द पूरा करे। प्रदेश में चौतरफा हो रहे भ्रष्टाचार से लूट मची हुई है। बिना पैसे दिये आम जनता का कहीं कोई काम नहीं होता। प्रदेश के युवाओं के हिस्से की नौकरियां खुलेआम बेची जा रही हैं। सांसद दीपेन्द्र ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में भारत जोड़ो यात्रा को मिल रहे जनसमर्थन ने भाजपा की नींद उड़ा दी है।  इससे पहले दीपेन्द्र हुड्डा आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग को लेकर सर्वजातीय पंचायत के अनिश्चितकालीन धरने पर पहुंचे और उनकी मांगों का समर्थन किया।  

                        इस अवसर पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री जय प्रकाश, पूर्व मंत्री प्रो. संपत सिंह, पूर्व विधायक राम निवास घोडेला, पूर्व विधायक प्रह्लाद सिंह गिलखेड़ा, पूर्व विधायक नरेश सेलवाल, पूर्व विधायक कुलबीर बेनीवाल, पूर्व विधायक प्रो. राम भगत शर्मा, पूर्व विधायक लहरी सिंह, कर्णसिंह रानोलिया, पूर्व कमिश्नर चंद्रप्रकाश, धर्मबीर गोयत, प्रदीप बेनीवाल, सतीश मित्तल, भूपेंदर कासनिया, जय सिंह पांधी, छात्रपाल सोनी, जस्सी पेटवाड़, सुखबीर डूडी, सतेन्द्र सहारण, बाबूलाल शर्मा, तेजबीर पुनिया, संजय ज्याणी, रामप्रसाद गढवाल, सोमबीर, अमरजीत, भागीरथ नंबरदार, जगदीश नंबरदार, जगदीश सरपंच, मनोज पाल बिश्नोई, चंद्रभान, रविकिरण मलिक, अंकुश बेनीवाल, चन्द्रकला, निर्मलजीत, जोरावर, कुणाल ग्रोवर आदि नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

डॉ. आंबेडकर ने शिक्षित बनो, संघर्ष करो, संगठित रहो का दिया था नारा : भूपेन्द्र गंगवा

बरवाला में संविधान निर्माता बाबा साहेब का परिनिर्वाण दिवस मनाया

पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :

                        बरवाला में बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस श्रद्धा के साथ मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगन्नाथ ने कहा कि बाबा साहेब को भारत के ऐतिहासिक सविधान के निर्माण के लिए सदैव याद किया जाता रहेगा। उन्होंने समाज के सभी वर्गों के उत्थान के लिए सविधान में व्यवस्था की।

                        वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व चेयरमैन भूपेंद्र गंगवा ने कहा कि सविधान के रचयिता डॉ. भीमराव अंबेडकर को युगों युगों तक याद किया जाता रहेगा। श्री गंगवा ने कहा कि डॉ भीमराव अम्बेडकर ने समाज के नागरिकों को शिक्षित बनो, संगठित रहो तथा संघर्ष करने का आह्वान किया था।  

            इन्हीं मूल मंत्रों का पालन करते हुए हम सभी को बाबा साहेब के अधूरे मिशन को पूरा करना हैं। श्री गंगवा ने कहा कि डॉ. बाबा साहेब आंबेडकर अपने संघर्ष, परिश्रम व अध्ययनशीलता के आधार पर ऊंचाइयों को छुआ है। भूपेन्द्र गंगवा ने कहा कि बाबा साहब ने शिक्षित बनों, संगठित रहो तथा संघर्ष करो का नारा दिया था। शिक्षित बनने का अर्थ है कि हमारे ज्ञान के द्वार खुलते हैं और संगठित रहो का मतलब शक्ति प्राप्त करना हैं। उन्होंने उस समय समाज में फैली कुरीतियों के निराकरण के लिए लोगों को जागरूक भी किया था।

            इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता अश्वनी शर्मा, रोहताश ग्रोवर, मुरारी लाल बंसल, सुभाष देवीगढ़ पुनिया, पवन कुमार, प्रदीप कक्कड़, लेख राम, सोहनलाल, सुभाष चंद्र, टेकराम, प्रकाश चंद्र, अशोक कुमार, मीनू सिमर, रोहताश साधुराम, कविता देवी, विक्रम सिंह, पिंकी, सुमन, भीराराम, मनीष कुमार आदि मौजूद थे।

लंबित ट्यूबैल कनैक्शन के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता दें अधिकारी : बिजली मंत्री

बिजली मंत्री रणजीत सिंह ने अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :

                        रणजीत सिंह ने कृषि नलकूप उपभोक्ताओं के लंबित कनैक्शन प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र देने के लिए निगम के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। वे मंगलवार को ब्लू बर्ड स्थित सभागार में निगम के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में दिल्ली जोन के मुख्य अभियंता नवीन वर्मा, हिसार जोन के रजनीश गर्ग सहित विभिन्न जिलों के अधीक्षण अभियंता भी उपस्थित थे। अधिकारी लंबित ट्यूबैल कनैक्शन के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देना सुनिश्चित करें ताकि किसान कम लागत में अधिक पैदावार ले सकें।

            निर्माणाधीन 33केवी सब-स्टेशन की प्रगति की समीक्षा करते हुए उन्होंने बैठक में निगम के अधिकारियों को लंबित कार्य शीघ्र पूरा करने की भी हिदायत दी है। उन्होंने बैठक में ओवर लोडिड फिडर बाई फ्रैक्शन, निगम के स्टोरों में सामान की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को सामान की गुणवत्ता के साथ उपलब्धता बारे निर्देश दिए। वर्क एग्जीक्यूट करने वाली एजेंसी के प्रतिनिधियों एवं निगम स्टोर सामान सप्लायर को भी बैठक में संबंधित कार्य को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

ये अधिकारी रहे मौजूद

                        इस अवसर पर हिसार के अधीक्षण अभियंता एसएस राय, फतेहाबाद के केडी बंसल, भिवानी के रणबीर सिंह, पलवल के जोगेंद्र हुड्डा, सिरसा के आरके सभ्रवाल, फरीदाबाद के नरेश, मुख्यालय से एफआर नकवी, सीएस जाखड़, कार्यकारी अभियंता बिजेंदर लांबा, एसडीओ भूप सिंह सहित निगम के अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

स्थापना दिवस समारोह को लेकर जेजेपी की शहरी इकाई ने बनाई रूपरेखा

पवन सैनी, डेमोक्रेटिक फ्रंट, हिसार – 06 दिसंबर :
                        आगामी 9 दिसम्बर को भिवानी में मनाए जाने वाले स्थापना दिवस समारोह को लेकर जेजेपी ने हिसार विधानसभा क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ बैठकर रूपरेखा तैयार की। पार्टी जिला प्रभारी मास्टर ताराचंद व जिलाध्यक्ष रमेश गोदारा ने इसे लेकर पार्टी पदाधिकारियों से विस्तृत चर्चा की।

            चर्चा के दौरान जिला प्रभारी मास्टर तारा चन्द व जिलाध्यक्ष रमेश गोदारा ने कहा कि हिसार के सातों हलकों में स्थापना दिवस समारोह को लेकर उत्साह है और हिसार से काफी संख्या में लोग भिवानी पहुंचेंगे। रमेश गोदारा ने कहा कि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक पूर्व सांसद डॉ अजय सिंह चौटाला के मार्गदर्शन में जिस सूझबूझ के साथ संगठन के प्रत्येक पदाधिकारी के साथ विचार विमर्श करके पार्टी को आगे बढ़ाया है।

            इस मौके पर हलका अध्यक्ष अमित ग्रोवर, राजमल काजल ,ताराचंद बाजेकां, जितेंद्र भ्याणा,शमशेर ढुल, ओमप्रकाश कुंडू, श्रवण बागड़ी, तरुण गोयल ,पंकज मेहता, गौरव सैनी, सतबीर मुंगेरिया, रवि आहूजा, शंकर गहलोत और रघुवीर बूरा आदि मौजूद रहे।