कांग्रेस को ‘चड्डी’ क्यों भेज रहे आरएसएस कार्यकर्ता?

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने रविवार को मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा है कि कांग्रेस आरएसएस (RSS) के खिलाफ बदनाम करने का अभियान चला रही है, लेकिन जनता सब कुछ जानती है। आरएसएस एक देशभक्त, राष्ट्रवादी संगठन है जो समाज सेवा में लगा हुआ है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने कई राज्यों में सराहनीय काम किया है। कांग्रेस ने इस रुख के कारण कई राज्यों में सत्ता और अपना आधार खो दिया है। कर्नाटक में इस समय ‘चड्डी’ को लेकर राजनीतिक घमासान मचा हुआ है। खबर है कि राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) ने कर्नाटक कांग्रेस को चड्डी (अंडर वियर) भेजी हैं। दरअसल कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा था कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विरोध के संकेत के रूप में ‘चड्डी’ जलाई जाएगी और अब इसके जवाब में आरएसएस ने कांग्रेस कार्यालय में ‘चड्डी’ भेजना शुरू कर दिया है।

डेमोक्रेटिक फ्रंट, बेंगलुरु: 

‘खाकी पैंट’ जलाने के मुद्दे ने राज्य में बड़े पैमाने पर बहस छेड़ दी है। दो राष्ट्रीय दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप की श्रृंखला शुरू हो गई है। यह सब तब शुरू हुआ जब एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने पाठ संशोधन को लेकर शिक्षा मंत्री बीसी नागेश के तिप्तूर आवास के पास प्रदर्शन किया। छात्र कांग्रेस नेताओं द्वारा सांकेतिक रूप से खाकी पैंट जलाकर आरएसएस के प्रति विरोध जताने पर अब राज्य स्तर पर बहस हो रही है। भाजपा और कांग्रेस अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी आमने-सामने हो गए हैं। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं और भाजपा नेताओं के बीच मारपीट की भी घटनाएं सामने आई हैं।

पिछले हफ्ते, कांग्रेस की छात्र शाखा भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (NSUI) के कुछ सदस्यों ने राज्य के शिक्षा मंत्री बीसी नागेश के घर के बाहर खाकी शॉर्ट्स की एक जोड़ी जलाई थी। यह राज्य में स्कूली पाठ्यपुस्तकों के कथित ‘भगवाकरण’ के विरोध में किया गया था। इसके बाद, रविवार को, कर्नाटक में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने कहा, “NSUI सदस्यों ने पुलिस के सामने चड्डी जलाई। तो क्या हुआ? हम आरएसएस के विरोध में हर जगह चड्डी जलाएंगे।”

इसका जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, ‘सिद्धारमैया और कांग्रेस पार्टी की चड्डी पहले से ही ढीली है। उन्होंने चड्डी फाड़ दी है। इसलिए वे चड्डी जलाने जा रहे हैं। उनकी चड्डी यूपी में खो गई। सिद्धारमैया ने चामुंडेश्वरी में अपनी चड्डी और लुंगी खो दी। पलटवार करने के लिए, वह संघ की चड्डी जलाने की कोशिश कर रहे हैं।” अब कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया के बयान के विरोध में दक्षिणपंथी कार्यकर्ताओं ने चड्डी इकट्ठा कर उसे बॉक्स में डालकर कांग्रेस दफ्तर भेज रहे हैं।

बीजेपी नेता चालवाडी नारायणस्वामी ने कहा, “अगर सिद्धारमैया चड्डी जलाना चाहते हैं, तो उन्हें अपने घर के अंदर ही जलने दें। मैंने एससी मोर्चा के सभी जिलाध्यक्षों से कहा है कि सिद्धारमैया को अपनी चड्डी भेजकर उनकी मदद करें। सबसे पहले, मैं सिद्धारमैया से प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से अनुमति लेने के लिए कहूंगा हूं क्योंकि चड्डी जलाने से वायु प्रदूषण होता है। मैंने कभी नहीं सोचा था कि सिद्धारमैया इस स्तर तक गिर जाएंगे।” अब, मांड्या जिले में आरएसएस कार्यकर्ताओं ने सिद्धारमैया की टिप्पणी के विरोध में कांग्रेस कार्यालय को भेजने के लिए चड्डी इकट्ठी की हैं। 

रेलवे टीटीई सरिता मोर ने वर्ल्ड रैंकिंग सीरीज में जीता स्वर्ण पदक

करणीदानसिंह राजपूत , डेमोक्रेटिक फ्रंट, श्रीगंगानगर :

श्रीमती सरिता मोर ने 2022 सत्र का पहला स्वर्ण पदक प्राप्त किया

महिला कुश्ती पहलवान श्रीमती सरिता मोर ने कजाकिस्तान के अल्माटी में जारी यूडब्ल्यूडब्ल्यू रैंकिंग सीरीज की प्रतियोगिता बोलाट तुरलिखानोव कप के 59 किलोग्राम का खिताब अपने नाम किया है। मैच में सिर्फ दो अंक गंवाने वाली सरिता ने 2022 सत्र का पहला स्वर्ण पदक प्राप्त किया।

  •  तीन मुकाबलों के लिए मैट पर उतरी सरिता मोर ने तीनों मुकाबले जीते।
  • पहला मुकाबला सरिता ने कजाकिस्तान की डायना क्यूमोवा से 11-0  से जीता।
  • सेमीफाइनल सरिता ने ऐजान इस्मागुलोवा से 12-2 से जीता।
  • फाइनल में सरिता ने  अजरबेजान की अंडर-23 झाला अलियेवा पर तकनीकी श्रेष्ठता से 10-0 से जीत दर्ज की।
  • भारतीय पहलवान ने अपने सभी प्रतिभागियों को आसानी से पराजित किया। यह भी उल्लेखनीय है कि सभी पहलवानों को उन्होंने 10-0 के अंतर से चित्त किया।
  • इससे पहले सरिता मोर विश्व और एशियाई चौंपियनशिप में भी कांस्य पदक जीत चुकी है।

💐 वर्तमान में सरिता मोर श्रीगंगानगर में रेलवे की टीटीई के पद पर कार्यरत हैं। ०0०

रूसा के तत्वावधान में वॉल पेंटिंग और म्यूरल मेकिंग वर्कशॉप का भी आयोजन

चण्डीगढ संवाददाता, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चण्डीगढ 06 जून :

पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज, सेक्टर -46 के पर्यावरण अध्ययन विभाग द्वारा विश्व पर्यावरण सप्ताह मनाया गया। इस दौरान पूरे सप्ताह कर्मचारियों और विद्यार्थियों को “फिट बॉडी और फिट प्लैनेट” का संदेश देते हुए साइकिल से कॉलेज आने के लिए प्रेरित किया गया। सेल्फी विद प्लांट ड्राइव का भी आयोजन किया गया, जिसमें विद्यार्थियों और कर्मचारियों ने एक पौधा लगाते हुए सेल्फी भेजी। पर्यावरण की रक्षा और संरक्षण के लिए अपने कर्तव्य के प्रति छात्रों को प्रेरित और संवेदनशील बनाने के लिए, पर्यावरण संरक्षण वैकल्पिक सेमेस्टर-2 के छात्रों द्वारा नुक्कड़ नाटक और “नो मोर एक्सटिंट” नामक एक स्किट प्रस्तुत किया गया।

रूसा के तत्वावधान में वॉल पेंटिंग और म्यूरल मेकिंग वर्कशॉप का भी आयोजन किया जा रहा है जिसमें “केवल एक ग्रह” की थीम को दर्शाएगा। कार्यशाला का आयोजन पर्यावरण अध्ययन विभाग द्वारा ललित कला विभाग के सहयोग से और रूसा द्वारा प्रायोजित किया जा रहा है। कला का काम न केवल परिसर की सुंदरता को बढ़ाएगा बल्कि पर्यावरण संरक्षण के संदेश को फैलाने में भी मदद मिलेगी।

कॉलेज की प्राचार्य डॉ आभा सुदर्शन ने छात्रों को संबोधित करते हुए अपने आसपास के वातावरण को बेहतर बनाने के लिए जमीनी स्तर पर काम करने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि कैसे व्यक्तिगत स्तर पर की गई छोटी-छोटी कार्रवाइयाँ प्रकृति को उसके प्राचीन रूप में संरक्षित करने में एक लंबा रास्ता तय कर सकती हैं।

कार्यक्रम का आयोजन श्रीमती अरविंदर कौर, रूसा समन्वयक, डॉ. रितु सरसोहा (एचओडी) और डॉ. अमनप्रीत कौर, पर्यावरण अध्ययन विभाग और डॉ. मंदीप गिल, ललित कला विभाग द्वारा किया गया।

सेक्टर 20 के राजकीय स्कूल की छात्रा की मदद को आगे आई संस्था आचार्यकुल

चण्डीगढ संवाददाता, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चण्डीगढ 06 जून :

संस्था आचार्यकुल, चण्डीगढ़ भारत रत्न संत विनोबा भावे के आदर्शों पर पिछले 35 सालों से काम करती आ रही है जिसके तहत गरीब बच्चों को पढ़ने, कम्प्यूटर सिखाने और उनकी शादियों आदि में मदद करना एवं समय-समय पर और भी जरूरत के मुताबिक मदद की जाती है। अब संस्था ने उन बच्चों को भी अपनाना शुरू किया है जो पढ़ाई और खेलकूद मे भी अच्छे हैं पर किसी कारण आगे नही जा पाते। इसी कड़ी में सैक्टर 20 स्थित गवर्नमेंट गर्ल्स  माडल सीनियर सैकंडरी स्कूल की 12वीं कक्षा की छात्रा का सारा पढ़ाई का और योगा प्रशिक्षण का खर्च आचार्य कुल संस्था जब तक उठाएगी जब तक तक वो अपने अपनी आजीविका चलने में सक्षम नहीं हो जाती। आज आचार्य कुल के अध्यक्ष केके शारद व सचिव तेजिंदर सिंह ने छात्रा अंकिता को पुस्तकें व योगा किट भेंट कीं। इस अवसर पर स्कूल की प्रिंसीपल बीना रानी, सुनिता चावला, गुरमीत कौर, पूजा मित्तल और शस्त्री राजेंद्र भी मौजूद रहे। शारदा ने और भी इस तरह के बच्चों की मदद करने का भरोसा दिया।  

विश्व पर्यावरण दिवस : एनए कल्चरल सोसाईटी ने स्मार्ट एयर प्यूरीफायर टॉवर पर पौधारोपण किया व पौधों का लंगर लगाया

चण्डीगढ संवाददाता, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चण्डीगढ 06 जून :

ज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर गैर सरकारी संस्था एनए कल्चरल सोसाईटी द्वारा सेक्टर 26  स्थित स्मार्ट एयर प्यूरीफायर टॉवर चौक पर पौधों का लंगर लगा कर आते-जाते वाहन चालकों व राहगीरों को सैकड़ों की तादाद में पौधे व बीज बांटे। इसके अलावा टॉवर स्थल पर विभिन्न किस्म के पौधों का पौधारोपण भी किया गया। इस अवसर पर एनए कल्चरल सोसाईटी की अध्यक्ष निखार, पायल, शैली तनेजा, अनीता मिड्ढा व स्मार्ट एयर प्यूरीफायर टॉवर की निर्माता कंपनी पॉयस एयर (प्रा.) लि. के निदेशक नितिन अहलूवालिया भी यहाँ मौजूद रहे।

उल्लेखनीय है कि शहर के सबसे व्यस्त सेक्टर 26 के ट्रांसपोर्ट चौक पर स्थित, यह एयर प्यूरीफायर टॉवर 25 मीटर ऊंचा है तथा ये प्रतिदिन आसपास के वातावरण की 3.88 करोड़ क्यूबिक फीट हवा को साफ करने में सक्षम है। इस टॉवर का निर्माण चण्डीगढ़ पॉल्यूशन कण्ट्रोल कमेटी (सीपीसीसी) के सहयोग से पॉयस एयर (प्रा.) लि. ने किया है।

भाजपा ने नगर परिषद चुनावों को लेकर पिंजौर में चुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया

पंचकुला संवाददाता, डेमोक्रेटिक फ्रंट, कालका 06 जून :

भारतीय जनता पार्टी द्वारा नगर परिषद चुनावों को लेकर पिंजौर में अपने कार्यालय का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर पर भाजपा जिला प्रभारी व नगर परिषद चुनाव के प्रभारी डॉ संजय शर्मा मौजूद रहे। इस मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए डॉक्टर संजय शर्मा ने कहा कि टिकट किसी एक व्यक्ति को ही मिलनी होती है पार्टी ने जिस भी व्यक्ति को टिकट दी है। उसको जिताने के लिए हर कोई मेहनत करें। कहा कि पार्टी मां होती है मां कभी किसी का बुरा नहीं चाहती पार्टी के पास देने के लिए और भी बहुत कुछ है।

जिन्होंने टिकट ना मिलने से नाराज होकर नामांकन पत्र भरे हैं उनसे अपील करते हुए संजय शर्मा ने कहा कि वह अपना नामांकन पत्र वापस ले। वहीं लतिका शर्मा, दीपक शर्मा, अजय शर्मा समेत अन्य वक्ताओं ने सभी उम्मीदवारों को जीत दिलवाने के लिए जीत तोड़ मेहनत करने की सभी कार्यकर्ताओं से अपील की।

इस मौके पर जिला अध्यक्ष अजय शर्मा, कालका की पूर्व विधायक व महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष लतिका शर्मा, नगर परिषद चुनाव में भाजपा के चेयरमैन पद के उम्मीदवार कृष्ण लाल लांबा, जिला महामंत्री वीरेंद्र राणा व परमजीत कौर, पूर्व जिला अध्यक्ष व करनाल के प्रभारी दीपक शर्मा, संजय अहूजा, जिला मीडिया प्रभारी नवीन गर्ग, भाजपा की वरिष्ठ नेत्री रूबी भगत सिंह, भाजपा के वरिष्ठ नेता संतराम शर्मा, भाजपा मंडल अध्यक्ष कालका भवन जीत सिंह, मंडल अध्यक्ष पिंजौर नराता राम, पिंजौर मंडल महामंत्री हरिश मोंगा समेत भाजपा के 31 वार्ड के पार्षद पद के उम्मीदवार उपस्थित रहे।

1866 medals at stake in Khelo India Youth Games

  • Haryana eyeing maximum medals
  • Haryana at the top of the medal tally with 10 gold medals so far
  • Reaches finals in volleyball
Union minister of youth affairs & sports Anurag Singh Thakur being honored during the launch of logo, anthem, jersey and mascot of Khelo India youth games at Inderdhanush auditorium, Panchkula on Saturday. TRIBUNE PHOTO: NITIN MITTAL

Koral ‘Purnoor’, Demokretic Front, Panchkula, June 6 :

In the ongoing Khelo India Youth Games in Panchkula, 1866 medals are at stake in 25 sports competitions including 5 indigenous sports. Every state’s player is eyeing some medal or the other. Every sportsperson is feeling proud while participating at the Tau Devi Lal Sports Complex, in the sports infrastructure that has been created as per the modern international norms.

On the fourth day of the Games, Haryana has reached number 1 in the medal tally with 31 medals including 10 gold. Haryana has 8 silver and 13 bronze medals. Maharashtra is at the second position in the tally with 21 medals including 9 gold. A total of 1866 medals includes 545 gold and 545 silver medals each and 776 bronze medals.

Match started with chant of Bajrang Bali ki Jai

In the first semi-final match of boys’ volleyball, both the teams of Haryana and Rajasthan were enthusiastic as they chanted ‘Bajrang Bali ki Jai’. Both teams had to put in a lot of effort to make it to the finals. This volleyball match, which lasted more than 120 minutes, was perhaps the longest of the Khelo India Youth Games-2021.

In both Haryana and Rajasthan teams, the average height of the players was more than 6 feet, except for the zebra-man. The goal of the coaches of both the teams was that somehow the team reaches the final. In the end, Haryana won in 4 sets of the match. Haryana won the first set by 30-28 points, second Rajasthan 25-23, third Haryana 25-18 and fourth 25-23. In the matches played thus far, Haryana has reached the final with 1063.9 points.
Players from both Haryana and Rajasthan have represented India in the recent World Volleyball Championship held in Iran.

Haryana wins gold medal in Gatka

  • Haryana also wins silver medals in single individual women’s and men’s categories in Gatka

Koral ‘Purnoor’, Demokretic Front, Panchkula, June 6 :

In the ongoing Khelo India Youth Games in Panchkula, Haryana won gold medal in Gatka today and also won silver medals in single individual women and men in Gatka itself.

Haryana won the gold medal in the under-18 single stick team event of Gatka. This team consisted of Inderjit Singh, Krish and Jashanpreet Singh.

Similarly, in the individual men’s category of Gatka, Waris Preet Singh won the silver medal. Arjneet Kaur won silver medal in singel stick individual women’s category.

राजकीय उच्च विद्यालय कजहेड़ी सेक्टर 52 चंडीगढ़ और एनजीओ  ‘फीड द सोल’ ने समर कैंप आयोजित किया

चंडीगढ़ संवाददाता, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़ :

      राजकीय उच्च विद्यालय कजहेड़ी सेक्टर 52 चंडीगढ़ प्रधानाध्यापिका श्रीमती गुरमीत गोल्डी के प्रयासों से 15 दिनों के लिए एक समर कैंप का आयोजन 23 मई 2022 से किया गया। इस समर कैंप को फीड द सोल नामक एनजीओ की सहायता से लगाया गया जिसमें श्रीमती सोनिया वाधवा, सरविंदर और कुमारी  सलोनी ने बच्चों को कई प्रकार के क्रियाकलापों में शामिल किया।

      इन क्रियाकलापों में फ्रिज मैग्नेट बनवाना, टेराकोटा पोट्स, वैदिक मंत्रों का उच्चारण व उनका अर्थ समझाना ,मानसिक विकास से संबंधित योगिक क्रियाएं, एनर्जी हीलिंग, ड्राइंग और पेंटिंग व योगा आदि क्रियाकलाप करवाए गए। इस समर कैंप में एक्टिविटीज को करवाने का मुख्य उद्देश्य बच्चों का पूर्ण रूप से विकास करना था जिसके माध्यम से बच्चे अपने अंदर छुपी विभिन्न प्रकार की क्षमताओं को समझ कर उन्हें निखार पाए। इस समर कैंप में बच्चों ने तरह-तरह पाट्स, पोस्टर, ड्राइंग एंड पेंटिंग बनाकर अपने मन के भावों को उकेरा। कैंप का उद्देश्य था कि सभी बच्चे अपनी क्षमताओं को बाहर निकाले और अपने आपको इन कलाओं के माध्यम से व्यक्त कर पाएं जो कि पूरी तरह से प्राप्त किया गया। इस कैंप के दौरान इंग्लिश स्पीकिंग की क्लासेस कुमारी समिंदर के द्वारा ली गई ताकि बच्चे अपनी पर्सनैलिटी डेवलपमेंट पर भी कार्य कर सकें।

      कैंप के दौरान फीड द सोल एनजीओ के द्वारा बच्चों को रिफ्रेशमेंट भी दी गई। कैंप के दौरान रविवार के दिन स्कूल में छबील लगाकर भी बच्चों का मनोरंजन किया गया। इस तरह 15 दिन के समर कैंप में बच्चों ने तरह-तरह के क्रियाकलापों को सीखते हुए बहुत ही मनोरंजक तरीके से अपने पर्सनैलिटी डेवलपमेंट और अपनी क्षमताओं को उभारने में सफलता हासिल करी।

      प्रधानाध्यापिका श्रीमती गुरमीत कौर गोल्डी और एनजीओ फीड द सोल की मिसेस सोनिया वाधवा के प्रयासों के द्वारा यह समर कैंप पूर्ण रूप में सफल रहा।

विधायक रंधावा ने शुरू करवाई मूंगी की खरीद 

  • मार्कफेड ने खरीदी 18 क्विंटल मुंगी की फसल

देव शर्मा, डेमोक्रेटिक फ्रंट, चंडीगढ़, लालरू :

पंजाब सरकार द्वारा धान की सीधी बुवाई और पानी की बचत को बढ़ावा देने के लिए स्थानीय दाना मंडी में आज मुंगी की फसल की खरीद शुरू की गई।  मौके पर मौजूद विधानसभा क्षेत्र के विधायक कुलजीत सिंह रंधावा ने कहा कि पंजाब में भूजल स्तर दिन-ब-दिन गिरता जा रहा है और पंजाब सरकार द्वारा पंजाब के पानी को बचाने के लिए कई विशेष कदम उठाए गए हैं।

  उन्होंने कहा कि एक तरफ पंजाब सरकार किसानों को धान की सीधी बुवाई के लिए प्रोत्साहित कर रही है, वहीं दूसरी तरफ कम पानी वाली फसलों खासकर मुंगी की सरकारी खरीद सुनिश्चित की जा रही है।श्री रंधावा ने मौके पर मौजूद किसानों को पंजाब में बढ़ते जल संकट को देखते हुए सतर्क रहने और यथासंभव सीधे धान की बुवाई करने को कहा।  उन्होंने कहा कि इन फसलों से न केवल भूमि की उर्वरक शक्ति बढ़ेगी बल्कि किसानों को इन पर कम खर्च कर उच्च आय भी प्राप्त होगी।खरीद के बारे में जानकारी देते हुए मंडीकरण बोरड के मैनेजर गुरविंदर सिंह ने कहा कि पंजाब में मुंगी खरीद के लिए 40 केन्द्र खोले गए है और मोहाली मे एक केंद्र लालरू मे  स्थापित किए गया है। उन्होंने बताया कि आज लालरू मे 18 कुइटल मुंगी की खरीद की गई है।

इस मौके बलाक  परधान गुरिंदर सिंह, जीवन राना, संदीप राना, लकी साधांपुर, बलविंदर आलमगीर, सुधीर राणा, मनोज राणा, बिट्टू कुमार और जोरावर सिंह भी मौजूद रहे।