तबलिगी जमात के 8 मलेशियाई आईजीआई से गिरफ्तार

निजामुद्दीन मरकज के दिल्ली जमात के सर्वेसर्वा मौलाना मोहम्मद साद का कोरोना वायरस लॉकडाउन को पलीता लगाने का आह्वान नित नए रंग लेकर आ रहा है. क्वेरंटाइन सेंटरों में तबलीगी जमात के सदस्यों का डॉक्टरों और नर्सों से ‘नंगा नाच’ मानो कम नहीं था. रविवार को इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एय़रपोर्ट से चोरी-छिपे तरीके से मलेशिया भागने की फिराक में जुटे मलेशिया के 8 नागरिकों को हिरासत में लिया गया है. आईजीआई एयरपोर्ट में हिरासत में लिए गए सभी लोग निजामुद्दीन मरकज के तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे.

नई दिल्ली:  

निजामुद्दीन के तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए मलेशिया के 8 नागरिकों को इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (दिल्ली एयरपोर्ट) पर पकड़ा गया है. बताया जा रहा है कि ये सभी मलेशिया मालिंदो एयर रिलीफ फ्लाइट में चढ़ने की कोशिश कर रहे थे. ये फ्लाइट राहत सामग्री लेकर आई थी. हालांकि, आईजीआई इमिग्रेशन के अधिकारियों ने इन लोगों को ट्रेस कर लिया और फ्लाइट में चढ़ने से पहले ही पकड़ लिया. उन्हें अब पुलिस को सौंप दिया जाएगा.

जमात के सदस्यों के संक्रमित होने से तेजी से बढ़ी संख्या

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कहर से दुनिया के अधिकांश देश बेहाल हैं. भारत में संक्रमितों की संख्या 3000 पार कर गई है और ये संख्या तेजी से बढ़ रही है. यहां यहां कतई नहीं भूलना चाहिए कि निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी जमात के कार्यक्रम का मामला सामने आने के बाद से कोरोना मरीजों की संख्या में एकदम से इजाफा हो गया है. ऐसे में तबलीगी जमात से जुड़े विदेशियों को भी एयरपोर्ट पर कस्टडी में ले लिया जा रहा है. बताया जा रहा है कि ये सभी मलेशिया से राहत सामग्री लेकर आए फ्लाइट में चढ़ने की कोशिश कर रहे थे. इमिग्रेशन अधिकारियों ने उन्हें ट्रेस कर लिया.

मलेशिया भागने की फिराक में थे

ये सभी लोग हाल ही में हुए तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे. IGI इमिग्रेशन विभाग ने मलेशिया के लिए मालिंदो एयर रिलीफ फ्लाइट में सवार होने की कोशिश करते हुए इन लोगों को पकड़ा. उन्हें पुलिस अधिकारियों को सौंप दिया जाएगा. बता दें कि निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के कार्यक्रम में पिछले महीने हजारों लोग शामिल हुए थे. इनमें भारत के अलावा 16 अन्य देशों के नागरिक भी शामिल हुए थे. इनमें बड़ी संख्या में लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, भारत में अब तक एक हजार से अधिक जमाती कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. देश में आए कुल मामलों में करीब 30 फीसदी इनकी हिस्सेदारी है.

617 लोगों में कोरोना के लक्षण

निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के मुख्यालय में जमात के 2300 से अधिक कार्यकर्ता रूके हुए थे और उन्हें पिछले तीन दिनों में वहां से निकाला गया. इनमें से 617 लोगों में कोविड-19 के लक्षण सामने आने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि शेष को अलग रखा गया है. गृह मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि 21 मार्च को देश के विभिन्न स्थानों पर तबलीगी जमात की शाखाओं में करीब 824 विदेशी रुके हुए थे.

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *