भिंडरावाला समर्थक हरपाल पाली व मनप्रीत बिंद्रा पर उनकी हत्या की साजिश रचने पर गिरफ्तार करने को लेकर एसपी को दी पुनः शिकायत

  •  वीरेश शांडिल्य की शिकायत पर एसपी जशनदीप सिंह रंधावा ने डीएसपी रमेश को दिए जांच के आदेश, शांडिल्य बोले पाली व बिंद्रा सिखों की धार्मिक भावना भड़का 2018 जैसा हमले करने की फिराक में, सुरक्षा हटवाने की भिंडरावाला समर्थको की मांग उनकी हत्या की और इशारा 

डेमोक्रेटिक फ्रंट, अम्बाला  – 13 अक्टूबर :

एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एव विश्व हिन्दू तख्त के अंतर्राष्ट्रीय प्रमुख वीरेश शांडिल्य ने आज अम्बाला के एसपी से सुबह 11 बजे मुलाकात की और उनको जरनैल सिंह भिंडरावाला समर्थक हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत सिंह मंन्नी बिंद्रा के खिलाफ पांच पेज की शिकायत सौपी। इस मौके पर अम्बाला के एएसपी दीपक कुमार भी मौजूद थे। वीरेश शांडिल्य ने बताया कि हरपाल सिंह पाली व उनके समर्थक व शहर का माहौल खराब करने की साजिश रच रहे हैं और हरपाल सिंह पाली, रणबीर फौजी, सुखदेव सिंह गोबिंदगढ़ सहित अन्य जरनैल सिंह भिंडरावाला समर्थक 2018 से उनकी व उनके परिवार की हत्या की साजिश रच रहे और सिख समाज को भड़काने का काम कर रहे हैं । और जिस जरनैल सिंह भिंडरावाला को भारतीय सेना ने मौत के घाट उतारा और जिस भिंडरावाला ने 90 से अधिक भारतीय जवानों को शहीद किया व पंजाब पुलिस के कई अफसरों को मौत के घाट उतारा उसी जरनैल सिंह भिंडरावाला समर्थको ने उनका 6 जून को हरपाल सिंह पाली के इशारे पर दफ़्तर जलाया और हरपाल सिंह पाली, रणबीर सिंह फौजी, सुखदेव सिंह गोबिंदगढ़ , मनप्रीत सिंह उर्फ मंन्नी बिंद्रा, टीपी सिंह , चरणजीत सिंह टक्कर, हरमीत सिंह, भूपिंदर सिंह , रंजीत सिंह, मंजीत सिंह, जतिंदर पाल सिंह , अमनदीप सिंह, इंदरजीत सिंह, जसविंदर सिंह ,रविंदर सिंह सहित सैंकड़ो भिंडरावाला समर्थको ने भिंडरावाला के पोस्टर उठा तलवारे डंडों से हमला किया और दफ़्तर को आग के हवाले किया जिस पर उपरोक्त तमाम आरोपियों पर अम्बाला शहर थाना में एफ़ आई आर 184/18 जो धारा 147, 149, 427, 435, 506 आईपीसी के तहत दर्ज किया उपरोक्त सभी आरोपियों को सीजेएम अम्बाला की कोर्ट ने 50 हजार की जमानत पर रिहा किया हुआ जबकि एक दफ़्तर जलाने के आरोपी सतवंत सिंह को सीजेएम कवँल कुमार की कोर्ट ने पीओ बनाने के आदेश दिए हुए। यही नही हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत उर्फ मंन्नी बिंद्रा लगातार साजिश रच रहा है ।

एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेश शांडिल्य ने बताया कि हरपाल सिंह पाली सहित सभी भिंडरावाला समर्थक नही चाहते कि मैं खालिस्तान या जरनैल सिंह भिंडरवाला के खिलाफ बोलूं या मुहिम छेडे रखूं यही कारण है कि यह सब लोग लगातार उनके खिलाफ साजिश रच रहे हैं।और उन्होंने 2018 में बयान दिया था कि उनका संगठन भिंडरावाला का पुतला जलाएगा तो हरपाल सिंह पाली ने कट्टरपंथियों व भिंडरावाला समर्थको को भड़का मेरे दफ़्तर को जलाया और दफ्तर जलाने के बाद अम्बाला शहर थाना के पूर्व प्रभारी अजीत सिंह ने भिंडरावाला समर्थको के दबाब में आकर उनके अकेले के खिलाफ एफ़आईआर 181/18 जो 295A, 153A आईपीसी व आईटी एक्ट की धारा में केस दर्ज कर उन्हें पुलिस ने भिंडरावाला समर्थको के दबाब में मेरे को गिरफ्तार किया और मेरे द्वारा दर्ज एफ़ आई आर 181/18 पर भिंडरावाला समर्थको को गिरफ्तार नही किया और उसके बाद उनके सैंकड़ो साथियो ने पूर्व डीजीपी बीएस संधू से मुलाक़ात की जिस पर पूर्व डीजीपी संधू ने उनकी एफ़ आई को कैथल बदला जहां पुलिस ने भिंडरावाला समर्थको के खिलाफ अम्बाला कोर्ट में चालान दिया जो उपरोक्त आरोपी सीजेएम कोर्ट से 50 हजार के जमानत पर रिहा हुए हैं।लेकिन अभी पुलिस ने बहुत आरोपियों को इसमें गिरफ्तार नही किया जिसमें वो 31 अकतुबर को सीजेएम कोर्ट में 319 की एप्लिकेशन देंगे और अन्य आरोपियों को भी कोर्ट में तलब करने की मांग करेंगे क्योंकि उनके पास तमाम सबूत हैं। 

 शांडिल्य ने एसपी रंधावा को 5 पेज की शिकायत दी और कहा कि भिंडरावाला कहां का शहीद है किस सरकार ने उसको शहीद का दर्जा दिया सिर्फ कट्टरपंथी दहशत डाल उन्हें डराना चाहते हैं और देश भर में कट्टरपंथी अपना डंका बजाना चाहते हैं।यही कारण है कि जरनैल सिंह भिंडरावाला समर्थक मंन्नी बिंद्रा व उनके समर्थकों ने उन पर हमला किया और 4 दिसम्बर 22 को मेरी शिकायत पर सदर पुलिस अम्बाला शहर ने मंन्नी बिंद्रा के खिलाफ एफ़ आई आर 331/22 धारा 323,506 में दर्ज हुई ।और उसके बाद हरपाल सिंह पाली ने मुझे मई 2023 में करनैल सिंह गरीब द्वारा मंजी साहब गुरुद्वारा में सिरोपा दिया और उनकी स्पीच करवाई उसके बाद फिर भिंडरावाला समर्थको ने उन्हें व सामानित करने वालो को सोसल मीडिया पर धमकाया जिसकी 13 मई 2023 को एसपी जशनदीप सिंह रंधावा को शिकायत दी गई और 3 अकतुबर 2023 को सीजेएम कवँल कुमार की कोर्ट में हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत बिंद्रा की जमानत रद्द करने की मेरी शिकायत पर सुनवाई हुई जिसके कारण यह दोनों भिंडरावाला मे समर्थक मेरे से बदला लेने व उनका नुकसान करने की फिराक में हैं और हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत सिंह उर्फ मंन्नी बिंद्रा फिर सिखों का नाम लेकर उनकी धार्मिक भावनाएं भड़का कर अपना उल्लू सीधा कर मेरी हत्या या मुझ पर 2018 की तरह मारने की साजिश रच रहा जिसके चलते हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत सिंह ने सोशल मीडिया पर अपने साथियों की मौजूदगी में न केवल मेरे खिलाफ जहर उगला बलिक उन्हें सिख समाज का दुश्मन बनाने के लिए कहा कि वीरेश शांडिल्य को हर सिख खालिस्तानी व हर पगड़ी खालिस्तानी लगती है जबकि पहली पातशाही से लेकर दशम गुरु गोबिंद सिंह को पूजते हैं । देश मे आतंकवाद खालिस्तान व देशद्रोहियों सहित भिंडरावाला की मुहिम के खिलाफ मुखर आवाज अदालत व सड़क तक उठाने वाले वीरेश शांडिल्य ने आज एसपी जशनदीप सिंह रंधावा को कटरपथियो की 2018 से आज तक कि सारी साजिश लिखित में दी और बताया कि हरपाल पाली का जरनैल सिंह भिंडरावाला क्या लगता है जो हरपाल सिंह ने भिंडरावाला के खिलाफ बोलने पर न केवल मेरा दफ़्तर जलवाया बल्कि धार्मिक भावनाएं भड़काने का केस दर्ज करवाया । जरनैल सिंह भिंडरावाला के खिलाफ बोलने से किसी राष्ट्र भक्त या संविधान का सम्मान करने वाले या भारतीय तिरंगे से प्यार करने वाले या देश के कानून का सम्मान करने वाली की धार्मिक भावनाएं नही भड़क सकती। शांडिल्य ने कहा पीएम मोदी, सीएम खट्टर का पुतला फूंकना कोई अपराध नही पंजाब में खालिस्तानी मुहिम चलाने व भरतीय सेना द्वारा मौत के घाट उतारे भिंडरावाला के खिलाफ बोलने पर धार्मिक भावनाएं भड़काने का पुलिस केस दर्ज कर देती है तो फिर भिंडरावाला समर्थको को तो हवा मिलेगी वो तो मेरी हत्या भी कर देंगे या किसी निहंग से उनका सिर कटवा देंगे जब पटियाला में सब इंस्पेक्टर हरजीत का हाथ कट्टरपंथी निहग काट सकता है सोनीपत में निहग आदमी को जिंदा काट सकता है यदि पुलिस इन भिंडरावाला समर्थको को भड़काऊ व हेट स्पीच देने व दंगे करवाने की साजिश रचने पर एफ़ आई आर दर्ज कर गिरफ्तार नही करती तो मुझे मारने से इनको कौन रोक सकता है।शांडिल्य ने एसपी जशनदीप सिंह से कहा कि उन्होंने 5 अकतुबर 2023 को हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत बिंद्रा की ढंगे भड़काने की शिकायत दी जिस पर उन्होंने मॉडल टॉउन चौकी के प्रभारी सुखदेव सिंह को बयान दिए व सबूत के तौर पर पेन ड्राइव दी और उसके बाद बलदेव नगर प्रभारी संदीप ने उस शिकायत को लीगल ओपिनियन के लिए क्यों भेजा जब कि मेरे बयान पर स्पस्ट 153A, 120 बी व आईटी एक्ट की धारा में एफ़ आई आर दर्ज होती थी उन्होंने एसपी को बताया कि 2018 से वो भिंडरावाला समर्थको के निशाने पर हैं ।समाज का माहौल व हिन्दू सिख भाईचारे को अपने निजी हितों के लिए आग लगाने वाले हरपाल सिंह पाली व मनप्रीत बिंद्रा को 6 अकतुबर 2023 को ही एफ़ आई आर दर्ज कर गिरफ्तार करना चाहिए था ।उन्होंने कहा कि वो 27 साल से पाक आतकवाद, बब्बर खालसा के आतंकवादियों, खालिस्तानियों सहित अमृतपाल सिंह के खिलाफ पंजाब जाकर पंजाब में विरोध किया और भिंडरावाला की सोच व साहित्य के खिलाफ बोल रहा हूँ। 

हाई कोर्ट में बेअंत सिंह के हत्यारो को तिहाड़ में भिजवाने वाले वीरेश शांडिल्य हैं आज आतकवादी जगतार सिंह हवारा व परमजीत सिंह व अन्य आतंकवादियो की पेशी पंजाब व चंडीगढ़ की कोर्ट में तिहाड़ जेल से मेरी 2008 की जनहित याचिका के बाद हाई कोर्ट ने वीसी से करने के आदेश दिए इसलिये मैं इन भिंडरावाला समर्थको के निशाने पर हूं। मेरी सुरक्षा वापिस करवा मेरी हत्या आसानी से करना चाहते हैं। उन्होंने एसपी से लिखित मांग की उनकी 5 अकतुबर की शिकायत पर हरपाल सिंह पाली व मंन्नी बिंद्रा के खिलाफ धार्मिक भावनाए भड़काने का केस दर्ज किया जाए। शांडिल्य ने बताया कि एसपी अम्बाला ने डेढ़ घंटा उनकी बात सुनी और तुरंत डीएसपी रमेश को आदेश दिए कि वीरेश शांडिल्य की शिकायत पर तुरंत एक्शन किया जाए और उनकी सुरक्षा पुख्ता की जाए । शांडिल्य ने कहा वह कानून पास हैं और जो कुछ करते हैं कानून के दायरे में करते हैं लेकिन कट्टरपंथी उनकी व उनके परिवार की हत्या करवाना चाहते हैं ताकि कोई भी भिंडरावाला के खिलाफ बोलने की हिम्मत न कर सके। उन्होंने आज की शिकायत राज्य के गृह मंत्री, डीजीपी, डीजीपी सीआइडी, एडीजीपी कानून व्यवस्था , आई जी अम्बाला को भी डाक से भेजी एसपी को 2 टूक कहा उनकी हत्या हुई तो जिमेवार तमाम भिंडरवाला समर्थक व उनके राजनीतिक दुश्मन होंगे। वीरेश शांडिल्य ने आज ही डीएसपी रमेश कुमार को भी हालत बातये ओर कहा कि मामला बहुत गभीर है दफ़्तर जलाने के भिंडरावाला समर्थक आरोपी जो जमानत पर रिहा हैं वो न पुलिस से डर रहे न कोर्ट का सम्मान कर रहे वो तो बस मेरी हत्या चाहते हैं और 2018 से इसी साजिश में लगे हैं मेरे साथ सुरक्षा न होती कब के मुझे मार या मरवा चुके होते।