पुलिस फाइलें, पंचकूला – 22 अप्रैल

पुलिस कमीश्नरेट पचंकूला – 22 अप्रैल 2021 :

पचंकूला पुलिस नें सार्वजनिक स्थान मोरनी रोड पर हगांमा करके आमजन की शान्ति भंग करनें वालें दो आरोपियो को किया गिरफ्तार ।

                पुलिस प्रवक्ता नें जानकारी देते हुए बताया कि पचंकूला पुलिस नें अपराधो की रोकथाम हेतु गस्त पडताल करते हुए अपराधो की रोकथाम हेतु नकेल कसी जा रही है जिसके तहत पुलिस थाना चण्डीमन्दिर पचंकूला की टीम नें कल दिनाक 21 अप्रैल को सार्वजनिक स्थान पर हगांमा करके आमजन की शान्ति को भंग करनें के जुर्म में दो आरोपियो को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार किये गये आरोपियों की पहचान  नितेश कुमार पुत्र नीटु कुमार वासी सुभाष नगर पिन्जौर तथा रहिश पुत्र सफिक वासी मन्सा देवी पचंकूला के रुप में हुई । गिरफ्तार किये गये आरोपियो के खिलाफ धारा 160 भा0द0स0 के तहत पुलिस थाना चण्डीमन्दिर पंचकूला में दर्ज किया गया ।

जानकारी के मुताबिक पुलिस थाना चण्डीमन्दिर पुलिस की टीम अपराधो की रोकथाम हेतु टी-पुआण्ट मोरनी रोड पर मौजुद थी । तभी नजदीक अग्रेजी शराब मोरनी रोड पचंकूला के पास देखा तो वहा पर दो व्यकित सरेआम शराब पीकर लडाई-झगडा हाथापाई कर रहें थें । जिस से आमजन की शान्ति भंग हो रही थी । जो पुलिस की पार्टी नें मौका पर जाकर दोनो आरोपियो को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार किये आरोपियो के खिलाफ धारा 160 भा0द0स0 के तहत पुलिस थाना चण्डीमन्दिर में मामला दर्ज करके आगामी कार्यवाई करते हुए उपरोक्त आरोपियो को गिरफ्तार किया गया ।

पुलिस कमीश्नरेट पचंकूला – 22 अप्रैल 2021 :

अपने फेसबुक अकाउंट को क्लोनिंग से कैसे बचाएं- डी.सी.पी. पचंकूला

               पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि श्री मोहित हांडा (IPS) पुलिस उपायुक्त पचंकूला के दिशा निर्देशो पर साइबर अपराध धोखाधडी से बचनें के लिए और सर्तक होनें की जरुरत है जैसे आजकल फेसबुक के फ्राड बढ रहें है

अपने Facebook अकाउंट को ऐसे रखें प्राइवेट और करें सिक्यॉर

1.      सबसे पहले तो आप अपने फेसबुक अकाउंट पर लॉग-इन करें और देखें कि आपने किन-किन ऐप्स पर फेसबुक के ज़रिए लॉग-इन किया हुआ है । इसके बाद उन सभी ऐप्स को फेसबुक से अनलिंक कर दें ।

इसके लिए Facebook पर Settings में जाएं और फिर Apps and websites आइकन पर क्लिक करें । यहां आपको वे ऐप्स और वेबसाइट्स नज़र आएंगी, जिन्हें आपने अपने फेसबुक अकाउंट के ज़रिए लॉग-इन किया है । उन ऐप्स को लिस्ट से रिमूव कर दें ।

2.       फेसबुक पर कई ऐसे ऐप्स भी मौजूद होते हैं, जो कई तरह के क्विज कराते हैं। ऐसे क्विज में हिस्सा लेने से बचें क्योंकि ऐसा करते वक्त हो सकता है कि आप अनजाने में ही अपनी निजी जानकारी और अन्य डेटा शेयर कर दें ।

3.      आमतौर पर फेसबुक यूजर्स की सभी पोस्ट को सार्वजनिक रखता है। ऐसे में जब भी आप अपने फेसबुक अकाउंट पर कुछ भी पोस्ट करें तो ध्यान रखें कि आप अपने ऑडियंस को स्पेसिफाइ कर लें यानी तय कर लें कि आप फेसबुक पर किन लोगों के साथ अपना डेटा या फोटो शेयर करना चाहते हैं। बेहतर होगा कि अपनी कोई पोस्ट या फोटो शेयर करने के लिए आप ‘Only friends’ पर क्लिक करें ।

4.      अपने फेसबुक अकाउंट की Settings में जाकर लॉग-इन अलर्ट सेट कर लें, ताकि जब भी किसी अनजान सोर्स से आपके अकाउंट पर लॉग-इन हो तो आपको नोटिफिकेशन मिल जाए और आप सचेत हो जाएं। लॉग-इन अलर्ट सेट करने के लिए Security and Login Settings में जाएं। इसके बाद Settings में Get alerts पर क्लिक करें ।

जानिए कैसे ठगी करते है साईबर क्रिमनल :-

आज कल फेसबुक के जरिये ऑनलाइन फ्रॉड के हजारों मामले सामने आये हैं. लेकिन समझने की जरूरत है कि आखिर ये ऑनलाइन फ्रॉड होता कैसे है. पैसों की ठगी या ऑनलाइन फ्रॉड सिर्फ फेसबुक तक सीमित नहीं है. व्हाट्सऐप और ओलेक्स के जरिये भी ऑनलाइन फ्रॉड के मामले सामने आये हैं ।

फेसबुक मैसेंजर के पर्सनल चैट में अगर आपका कोई करीबी दोस्त या रिश्तेदार आपको मैसेज करे कि उसे तत्काल कुछ पैसों की जरूरत है, वो आज कल में आपको लौटा देगा तो आपका रिसपॉन्स क्या होगा ? अगर उसने बहुत ज्यादा पैसे नहीं मांगे हैं तो बहुत संभावना है कि आप उसे तुरंत वो पैसे ट्रांसफर कर दें. लेकिन ट्रांसफर करने के बाद जब आप अपने दोस्त से कॉल करके पैसे मांगे तो आपको पता चले कि आप ऑनलाइन ठगी का शिकार हो गये हैं ।

ऐसी कुछ घटनायें पिछले 6 महीने में बहुत तेजी से बढ़ी हैं. ऑनलाइन ठगों ने पहले तो अकाउंट हैक करने की कोशिश की और फिर उसकी फ्रेंड लिस्ट में जाकर दोस्तों से पैसे मांगे. ये मामले इतने तेजी से बढ़े कि अब लोग खुद भी थोड़ा जागरुक होने लगे. लेकिन ऑनलाइन फ्रॉड करने वालों ने अब एक और नया तरीका निकाला है. अब वो किसी बड़े सेलिब्रिटी, बड़े राजनेता, बड़े सरकारी अधिकारी या पुलिस अधिकारी की फर्जी आईडी बनाकर, उनकी तस्वीरें और पोस्ट इस्तेमाल करके फेसबुक पर किसी जरूरी काम या सार्वजनिक काम के नाम पर पैसे मांगते हैं. लोग ऑफिशियल अकाउंट समझकर पैसे ट्रांसफर भी कर देते हैं :-

आनलाईन धोखाधडी से बचनें के लिए कुछ जरुरी सुझाव :-

·        OLX या अन्य Online Shopping App पर सामान खरीदते व बेचते समय Request Money Link का इस्तेमाल न करे

·        Google पर सर्च किये गये कस्टमर केयर नम्बर का इस्तेमाल न करे, धोखा हो सकता हैं ।

·        Olx.in साईट से कुछ भी खरीदते समय किसी अन्जान फौजी की ड्रैस में भेजी गई फोटो की पहचान पत्र पर विश्वास ना करें ना  ही कोई        कस्टम फीस आनलाईन ट्रांसफर करे । किसी भी प्रकार की फीस अन्जान व्यकित के गुगल अकाऊंट व पे अकाऊण्ट में ट्रांसफर ना करें । नही तो    आपके साथ साईबर धोखाधडी का शिकार हो सकतें हों ।

·        Facebook/Messenger/WhatsApp आदि सोशल अकाउण्ट के माध्यम से पैसो की मांग पर भरोसा ना करे, फोन करके या मिलकर कन्फर्म अवश्य करे ।

·        फोन काल/SMS या अन्य किसी माध्यम से OTP(Verification Code), UPI MPIN,ATM PIN & CVV किसी के साथ शेयर न करे ।

·        KYC के लिये SMS पर ध्यान ना दे और ना ही SMS में दिये गये मोबाईल नम्बर पर काल करे ।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *