निकिता के परिजनो को मिले एक करोड का मुआवजा -विहिप

मेवात क्षेत्र मे हिन्दु बहन बेटिया कब तक जिहादी मानसिकता की शिकार होती रहेंगी ? हालांकि हरियाणा सरकार ने फास्ट ट्रेक कोर्ट, 30 दिन मे दोषियो के खिलाफ चालान पेशकर प्रतिदिन सुनवाई कराकर त्वरित न्याय दिलाने की बात कही है जिसपर विहिप नजर रखेगी कि न्याय मे देरी न हो, लेकिन पिडिता के परिजनो को एक करोड की मुआवजा राशि की तुरंत घोषणा की मांग सरकार से की साथ ही लव जिहाद रोकने एवं जबरन और छल से धर्मान्तरण के विरुद्ध कठोर कानून बनाये जाने की वकालत की जिससे मेवात क्षेत्र मे बढ रही ऐसी घटनाओ पर अंकुश लग सके।

मेवात/चंडीगढ़:

विश्व हिन्दु परिषद ने हरियाणा के बल्लभगढ मे लवजिहाद से लडते हुये अपनी जान गवांने वाली वीरांगना निकिता तोमर के परिजनो को सरकार से तुरंत एक करोड रुपये की राशि का मुआवजा, त्वरित न्याय, एवं लव जिहाद व धर्मांतरण रोकने हेतु कठोर कानून बनाने की मांग की है।

विश्व हिन्दु परिषद के अन्तर्राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने निकिता तोमर के परिवार जनो से मुलाकात कर उन्हे सांत्वना दी तथा कहा कि एक होनहार प्रतिभाशाली आसमान को छूने की उमंग रखने वाली बच्ची इस्लामिक जिहादियो के हाथों मार दी गयी ।

विश्व हिन्दु परिषद के कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने पत्रकारो से बात करते हुये कहा कि इस्लामी फासिस्ट जिहादियो की कार्यवाहियो से विश्वभर मे अभिव्यक्ति की आजादी,मानव गरिमा और जीवन संकट मे आ रहा है जिसका हम सबको मिलकर मुकाबला करना होगा उन्होने मेवात क्षेत्र मे लगातार बढ रही लवजिहाद, धर्मानतरण, हिन्दुओ के उत्पीड़न पर चिंता जताते हुये कहा कि आखिर मेवात क्षेत्र मे हिन्दु बहन बेटिया कब तक जिहादी मानसिकता की शिकार होती रहेंगी ? हालांकि हरियाणा सरकार ने फास्ट ट्रेक कोर्ट, 30 दिन मे दोषियो के खिलाफ चालान पेशकर प्रतिदिन सुनवाई कराकर त्वरित न्याय दिलाने की बात कही है जिसपर विहिप नजर रखेगी कि न्याय मे देरी न हो, लेकिन पिडिता के परिजनो को एक करोड की मुआवजा राशि की तुरंत घोषणा की मांग सरकार से की साथ ही लव जिहाद रोकने एवं जबरन और छल से धर्मान्तरण के विरुद्ध कठोर कानून बनाये जाने की वकालत की जिससे मेवात क्षेत्र मे बढ रही ऐसी घटनाओ पर अंकुश लग सके।

उन्होने मुख्यमंत्री द्वारा कुछ माह पूर्व नुंह मे की गयी घोषणा की याद दिलाते हुये कहा कि उन घोषणाओ को अमल‌मे लाने का वक्त आ गया है
जिससे मेवात क्षेत्र मे रह रहे हिन्दु परिवारो मे विश्वास कायम हो सके।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *