भाजपा के जातीय ध्रूवीकरण के षड्यंत्र को निष्फल और नाकामयाब करने में आगे आयें वोटर : चंद्रमोहन

पचकुलां  20 अक्टूबर:

हरियाणा के पूर्व उपमुख्यमंत्री चंद्रमोहन ने कहा कि बरोदा उपचुनाव के दौरान वहां की जनता भारतीय जनता पार्टी के  जातीय ध्रूवीकरण के षड्यंत्र को निष्फल और नाकामयाब करने के लिए उत्सुक हैं।  भाजपा बड़ोदा के मतदाताओं को जींद उपचुनाव की तर्ज़ पर  विकास के नाम पर धोखा देने का प्रयास कर रही है, लेकिन उसके प्रयास  कभी भी सफल नहीं होंगे।

                     ‌               चन्द्र मोहन ने ‌याद दिलाया कि किस प्रकार जींद के उपचुनाव के दौरान लोगों को विकास के नाम पर लोगों को बरगलाने का कुचक्र चलाया गया और मतदाताओं को भ्रमित करके उनके वोट हासिल किए गए। चुनाव जीतने के पश्चात उन घोषणाओं को ठण्डे बस्ते में डाल कर लोगों का अपमान किया गया। यही कारण है कि जींद के भाजपा के विधायक डॉ मिड्डा ने भाजपा  सरकार के दावों को झूठा करार देते हुए कहने पर विवश होना पड़ा कि जींद में विकास गायब है। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार बरोदा उपचुनाव को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री खट्टर ने हल्के के विकास का जुमला गढ़ने के लिए विवश होना पड़ा। मतदाताओं को हर समय बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता है।

                         ‌               उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के खिलाफ लोगों में और विशेषकर किसानों और श्रमिकों और गरीबों में रोष फैल रहा है। उसकी परिणति भाजपा के उम्मीदवार योगेश्वर दत्त की हजारों वोटों से पराजय के रूप में सामने आएगी। हरियाणा भाजपा में जिस प्रकार से भगदड़ मची हुई है। उससे जनता का ही नहीं अपितु भाजपा नेताओं का विश्वास भी डगमगाया हुआ है। उन्होंने कहा कि योगेश्वर दत्त की पत्नी शीतल शर्मा को भी भाजपा पर विश्वास नहीं रहा। इस लिए उन्हें कहना पड़ा कि  जिस प्रकार से भाजपा में  नेता पार्टी छोड़ रहे हैं तो आप भाजपा को मत देखो अपितु मुझ पर भरोसा और यकीन रखे। इससे स्पष्ट दृष्टिगोचर होता है कि उम्मीदवार की पत्नी को भी  भाजपा  पर विश्वास नहीं है तो आम जनता कैसे विश्वास करेगी।

                          ‌          उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार इन्दु राज नरवाल को जिस प्रकार से बड़ोदा की जनता का असीम प्यार और सहयोग मिल रहा है और कांग्रेस पार्टी के सभी नेता और कार्यकर्ता एक जूट होकर कन्धे से कन्धा मिलाकर चल रहें हैं ‌‌। उससे स्पष्ट है कि कांग्रेस प्रत्याशी की विजय कम से कम 50000 वोटों से होगी और जीत का एक नया इतिहास रचा जायेगा। उन्होंने कहा कि वे भी प्रचार करने के लिए बड़ोदा जायेंगे। उन्होंने सभी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से अपील की है कि भाजपा के धनबल और बाहुबल का मुकाबला करने के लिए एक जूट होकर  बड़ोदा की जनता इस धरती पर एक नया इतिहास रचने का प्रयास करेगी और इस उपचुनाव में हार के पश्चात खट्टर सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी। हरियाणा में जिस प्रकार से निराशा का माहौल है उससे स्पष्ट है कि भाजपा-जजपा गठबंधन  का धराशाई होना सुनिश्चित है। उन्होंने बड़ोदा के मतदाताओं  से अपील की है कि वे भाजपा के झांसे में न  आएं और अपने अपमान का बदला लेने के लिए  भाजपा के उम्मीदवार की जमानत जब्त करवाने का काम करें।         

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *