‘फेक भाभी’ के नक्सली / कांग्रेसी कनेक्शन : एक रिपोर्ट

हाथरस कांड में एक ताजा जानकारी सामने आने से ट्विटर पर हलचल बढ़ गई है। रिपोर्ट्स के अनुसार, पीड़‍िता के घर में एक महिला फर्जी रिश्‍तेदार बनकर रह रही थी। खुद को पीड़‍िता की ‘भाभी’ बताने वाली इस महिला का नक्‍सल कनेक्‍शन मिला है जिसकी जांच पुलिस कर रही है। इतना पता चलते ही ट्विटर पर इस भाभी की चर्चा तेज हो गई। कुछ ही देर में ‘फेक नक्‍सल भाभी’ हैशटैग टॉप ट्रेंड्स में शामिल हो गया। लोग इस नई जानकारी के बाद सवाल उठा रहे हैं कि क्‍या साजिश की जो बात कही जा रही है, वह सही है। कई यूजर्स ने कांग्रेस महासचिव प्र‍ियंका गांधी पर भी निशाना साधा है। कुछ पत्रकार भी निशाने पर हैं।

  • हाथरस कांड में नए खुलासे से आया मोड़, पीड़‍िता के घर में थी ‘फर्जी’ रिश्‍तेदार
  • पीड़‍िता की भाभी बनकर रह रही थी महिला, नक्‍सल कनेक्‍शन के बाद अब कॉंग्रेस कनैक्शन भी सामने आया
  • पुलिस कर रही जांच, आरोप है क‍ि इस महिला ने पीड़‍ित परिवार को बरगलाया
  • 16 सितंबर से ही सक्रिय हो गई थी महिला, SIT को है उसकी जोरों से तलाश

हाथरस / नयी दिल्ली :

हाथरस मामले में कथित ‘फेक भाभी’ के कथित नक्सल और मार्क्सवादी कनेक्शन के बाद सोशल मीडिया पर अब इसके कॉन्ग्रेसी सम्बन्ध चर्चा का विषय हैं। मीडिया रिपोर्ट्स में इस महिला के बारे में दावा किया जा रहा था कि वह पीड़ित परिवारवालों के घर में मृतका की फेक भाभी बन कर रह रही थी।

यह भी माना जा रहा है कि यह महिला मीडिया और पीड़ित परिवार से मिलने आ रहे राजनीतिक दलों से क्या और कैसे कहना है, इस बारे में परिजनों को सीखाने का काम करती थी। हाथरस में पीड़िता के घर में ‘नकली भाभी’ बनकर रहने की आरोपित डॉ राजकुमारी बंसल अब लगातार अपने बयान भी बदल रही हैं और पीड़िता की भाभी या बहन होने से भी इंकार कर रही हैं। वहीं ट्विटर यूज़र्स ने कथित नक्सली महिला का कनेक्शन कॉन्ग्रेस से भी होने का दावा किया है।

दक्षिणपंथी लेखिका शेफाली वैद्य ने अपने ट्विटर एकाउंट से मध्यप्रदेश जबलपुर की रहने वाली कथित नक्सली महिला के नाम से एक ट्विटर एकाउंट खोज निकाला है। उन्होंने दावा किया है कि यह एकाउंट हाथरस पीड़ित परिजनों के साथ पीड़िता के मरने के बाद रह रही कथित नक्सली महिला का ही है।

शेफाली वैद्य ने डॉ. राजकुमारी बंसल नाम से एक ट्विटर एकाउंट का स्क्रीनशॉट शेयर किया है। बता दें कि पीड़िता की भाभी ने भी अपने एक बयान में उनके घर में 2 सप्ताह से रह रही कथित नक्सली महिला का नाम भी राजकुमारी ही बताया है।

पोस्ट किए गए स्क्रीनशॉट में शेफाली ने कई खुलासे भी किए है। इस महिला का नाम डॉक्टर राजकुमारी बंसल बताया जा रहा है जो कि जबलपुर, मध्यप्रदेश की रहने वाली हैं। उन्होंने ट्विटर पर एक ट्वीट भी किया है जिसमें लिखा है – #कास्ट मैटर्स

अपने पोस्ट में शेफाली ने कॉन्ग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए हाथरस घटना के पीछे राहुल गाँधी और प्रियंका द्वारा रची गई साजिश की ओर इशारा किया है। शेयर किए गए स्क्रीनशॉट में ट्विटर यूजर ने बताया कि राजकुमारी बंसल कॉन्ग्रेस समर्थक है, जो कि उनके ट्विटर अकाउंट से भी पता चलता है। राजकुमारी कॉन्ग्रेस के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट को फॉलो करती है, इतना ही नहीं उन्होंने राहुल गाँधी के ट्वीट्स को भी रिट्वीट किया है।

वहीं, एक अन्य ट्विटर यूजर अंकुर सिंह ने भी यही दावा किया है। अंकुर ने एक ट्वीट करते हुए लिखा, “हाथरस में रह रही नकली भाभी मध्यप्रदेश जबलपुर की रहने वाली डॉ. राजकुमारी बंसल है। आपको क्या लगता है कि किसी को एमपी से हाथरस क्यों भेजा गया? क्या उसे पीड़ित परिवार को यह सीखने के लिए भेजा गया था कि उन्हें क्या बोलना है या किसी भी सबूत को कैसे पेश करना है? फेक भाभी राहुल गाँधी और कॉन्ग्रेस को ट्विटर पर फॉलो करती हैं।” वहीं अंकुर ने एक फेसबुक एकाउंट भी शेयर किया है जिसे उन्होंने कथित नक्सली महिला राजकुमारी का होने का दावा किया है।

राजकुमारी बंसल फॉरेंसिक एक्सपर्ट की हैसियत से गई थी हाथरस

कॉन्ग्रेस समर्थक होने का खुलासा होने के बाद राजकुमारी बंसल का एक और वीडियो सामने आया है। राजकुमारी बंसल नाम की इस महिला ने स्वीकार किया है कि वह हाथरस पीड़ित परिवार के बीच गई थी। उन्हें इस वीडियो में यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वह फॉरेंसिक एक्सपर्ट हैं और इस सम्बन्ध में ही ‘कुछ मदद’ करने के लिए ही वो हाथरस गई थी।

पहले कहा था ‘बहन हूँ’, अब बदले बयान

राजुकमारी बंसल अब लगातार बयान भी बदल रही हैं। हाथरस में पीड़ित परिवार के साथ बैठकर एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में राजकुमारी बंसल ने कुछ ही दिन पहले कहा था कि वह उनकी बहन हैं जबकि अब नए बयान में उन्होंने कहा है कि उन्होंने कभी भी खुद को परिवार का सदस्य नहीं बताया।

गौरतलब है कि एक टीवी चैनल  ने अपने एक रिपोर्ट में खुलासा किया था कि एक महिला पीड़ित परिवार में मृतका की ‘भाभी’ बन कर रह रही थी और परिवार की तरफ से बयान भी दे रही थी। इसके बाद से हाथरस मामले का नक्सली कनेक्शन सामने आ रहा है। बताया जा रहा है कि उक्त ‘भाभी’ सितम्बर 16 से 22 तारीख तक परिवार के साथ रही और इस दौरान अपने नक्सली आकाओं से भी संपर्क में थी।

हालाँकि, अन्य सूत्रों का कहना है कि वो काफी समय से पीड़ित परिवार के साथ रह रही थी। कहा जा रहा है कि वो घटना के दो दिन बाद ही पीड़ित परिवार के साथ रहने आ गई थी।

वहीं अब पीड़िता की असली भाभी की एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उन्होंने दावा किया है कि सवालों के घेरे में आई महिला कोई फर्जी नहीं बल्कि उनकी दूर की रिश्तेदार थी। घूँघट में अपना चेहरा ढके और हाथ में एक बच्चा लिए पीड़िता की असली भाभी ने कहा, “उनका (संदिग्ध नक्सली) नाम राजकुमारी है। उनका एक 10 साल का बेटा है। उनका पति और एक परिवार है। ऐसा कुछ नहीं है (जो मीडिया में बताया जा रहा है)।”

पुलिस फाइलें, पंचकुला – 10 अक्टूबर

पंचकूला, 10 अक्तूबर :

पचँकूला पुलिस ने जूआरियो को किया काबू  

मोहित हाण्डा, भा॰पु॰से॰, पुलिस उपायुक्त पंचकुला के द्वारा दिये हुऐ निर्देशानुसार जिला पचंकूला मे सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वाले व हगांमा करने तथा जुआ खेलने वालो के खिलाफ चलाये गये अभियान के तहत कार्यवाही करते हुए पचंकूला पुलिस ने दो जुआरियो को काबू किया गया । काबू किये गये जुआरियो की पहचान वरुण कुमार पुत्र विनोद कुमार वासी खडंक मन्गौंली पचंकूला तथा गुरनाम सिह पुत्र भाग सिह वासी कालका पचंकूला के रुप मे हुई ।

                       पुलिस उपायुक्त पचंकूला के द्वारा दिये गये निर्देशो के तहत कार्यवाही करते हुए थाना कालका व थाना सैक्टर 05 पचंकूला के टीम ने अपने क्षेत्र मे कडी कार्यवाही करते हुए दो उपरोक्त जुआरियो को काबू किया गया । जो आरोपी वरुण कुमार वासी खडक मन्गौली पचकुला के खिलाफ थाना सैक्टर 05 पचंकूला मे कार्यवाही करते हुए 3800/- रुपये सहित काबू किया गया तथा आरोपी गुरनाम सिह वासी कालका को 2250/- रुपये सहित गिरफ्तार किया गया । ताकि पचंकूला मे इस प्रकार के अपराधो पर नियत्रण किया जा सके । पचंकूला पुलिस ने कहा कि सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वालो के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए चलाये गये अभियान के तहत भी कार्यवाही की जा रही ताकि पचंकूला क्षेत्र मे कार मे बैठकर रैस्टोरेट के सामने व ढाबो के सामने शराबी पीने वालो के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है ।

पचंकूला पुलिस ने सार्वजनिक स्थान पर हगांमा करने वालो को किया काबू ।

मोहित हाण्डा, भा॰पु॰से॰, पुलिस उपायुक्त पंचकुला के द्वारा दिये हुऐ निर्देशानुसार जिला पचंकूला मे सार्वजनिक स्थानो पर शराब पीने वाले व हगांमा करने के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने के लिए चलाये गये अभियान के तहत कार्यवाही करते हुए । पचंकूला पुलिस अभियान के दूसरे दिन भी 06 आरोपीयो को सार्वजनिक स्थान पर हंगामा हल्ला गुल करने के आरोप मे गिरफ्तार किया गया । जो गिरफ्तार किये गये आरोपियो की पहचान भगत सिह पुत्र पुर्ण सिह वासी जीरकपुर पंजाब, शिव कुमार पुत्र राधा किशन वासी बलटाना पंजाब, सचिन पुत्र सन्जय वासी चण्डीगढ, विशाल पुत्र सुरेन्द्र सिह वासी सैक्टर 07 पचकूला, विक्रम सिह पुत्र राम सिह वासी भिवानी हाल सैक्टर 25 पचंकूला तथा राजेश नैन पुत्र पाला राम वासी जीन्द हरियाणा हाल सैक्टर 26 पचंकूला के रुप मे हुई ।

                 पुलिस उपायुक्त पचकूला ने सभी थाना प्रबंधक तथा सभी चौकी इन्चार्जो को आदेश दिये गये कि अपने अपने क्षेत्र अपराधो पर नियत्रण लगाने के लिए अपने इलाको मे चैकिंग व गस्त पडताल की जाये ताकि पचंकूला मे किसी भी प्रकार के अपराध पर काबू किया जा सके  तथा पचंकूला मे विशषकर शहरी क्षेत्र मे गाडी मे बैठकर शराबी पीने वालो के खिलाफ कार्यवाही करने के कडे निर्देश दिये गये है । जिसके तहत पचंकूला पुलिस ने दिये गये निर्देशो की पालना करते हुए कल दिनाक 09.10.2020 को सार्वजनिक स्थान पर हल्ला गुल हगामां व सार्वजनिक स्थान पर शातिं व्यस्था को भगं करने के जुर्म मे 06 आरोपियो को गिरफ्तार किया गया । जिनमे से 04 आरोपीयो के खिलाफ थाना सैक्टर 05 पचंकूला मे अभियोग दर्ज करके गिरफ्तार किया गया तथा 02 आरोपीयो के खिलाफ  थाना चण्डीमन्दिर की टीम ने अभियोग दर्ज करके आरोपीयो को मौका से काबू किया गया । पचंकूला क्षेत्र मे कानून व्यस्था बनी रही व पचंकूला क्षेत्र मे अपराधो पर लगाम दिया जा सके ।

पचंकूला पुलिस ने जघन्य अपराधो पर काबू करते हुए 35 स्नैचरो को गिरफ्तार करके भेजा जेल

मोहित हाण्डा, भा॰पु॰से॰, पुलिस उपायुक्त पंचकुला के द्वारा दिये हुऐ निर्देशानुसार जिला पचंकूला मे जघन्य अपराधो पर रोकथाम लगाने हेतु तथा जघन्य अपराधो पर जल्द से जल्द कार्यवाही करते हुए पचंकुला पुलिस ने पुलिस उपायुक्त पचंकूला ने सभी थाना प्रबधक व सभी पुलिस पर्यवक्षण के अधिकारियो को जघन्य अपराधो पर जल्द से जल्द कार्यवाही करते हुए दिये गये आदेशो की पालना करते हुए पुलिस ने माह जनवरी से अब तक स्नेैचिगं करने वाले  35 स्नैचरो को गिरफ्तार करके जेल भेज चुकी है ।

               इस प्रकार के जघंन्य अपराधो पर लगाम देने के लिए पचंकूला पुलिस बडी मुस्तैदी से कार्य कर रही है तथा पचंकूला क्षेत्र मे स्नैचरो को काबू करने के लिए पचंकूला सभी ट्रैफिक नाको पर कैमरे से भी सहायता लगे हुए है ताकि इस प्रकार के अपराध करने वालो को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सकेगा ।

               इस के तहत दिये गये निर्देशो के तहत पचकुला पुलिस देर रात्रि सभी थाना ने अपने अपने क्षेत्रो मे चैकिग के लिए टीम को तैनात किया हुआ है ताकि सार्वजनक स्थान पर गाडीयो मे बैठकर शराब पीने वालो व सार्वजनिक स्थान पर शराब पीने वालो के खिलाफ पचंकूला पुलिस ने कडी सख्ती बर्त रही है पचंकूला क्षेत्र मे होने अपराधो पर नियत्रण किया जा सके ।

‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020: कार्यान्वयन के लिए रोडमैप’ पीयू में हुआ वेबिनार

कोरल ‘पुरनूर’, चंडीगढ़ – 10 अक्तूबर:

आज 10 अक्टूबर 2020 को पंजाब विश्वविद्यालय ने 2020 ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020: कार्यान्वयन के लिए रोडमैप ‘पर एक वेबिनार का आयोजन किया। इस वेबिनार में, सुश्री  अनुसुईया उइके, छत्तीसगढ़ के माननीय राज्यपाल, मुख्य अतिथि थीं। इस अवसर पर सुश्री उइके ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के सफल कार्यान्वयन के लिए वेबिनार श्रृंखला के आयोजन के लिए पंजाब विश्वविद्यालय के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा हालांकि, NEP के बारे में देशव्यापी उत्साह अभी भी जारी है, हमारे लिए यह समझने का समय है कि ऐसे क्या क्या कारक आकार लेने जा रहे है  जो  देश भर में इसके कार्यान्वयन को प्रभावित करने जा रहे हैं। इस एनईपी में कई अच्छे तत्व हैं जैसे : समस्या और लक्ष्य अच्छी तरह से स्पष्ट हैं, यह सबूत-आधारित है और हितधारकों द्वारा व्यापक समर्थन के साथ समर्थित है। “मातृ भाषा पर ध्यान देना इस नीति की शीर्ष विशेषता है, इस तरह से हम आदिवासी युवाओं के बीच उनकी मातृ भाषा के लिए गर्व ला सकते हैं अन्यथा ये मूल भाषाएं बहुत जल्द नष्ट हो जाएंगी “सुश्री उइके ने कहा।

उन्होंने कहा कि इस शैक्षिक नीति की अवधारणा महात्मा गांधी की बुनियादी शिक्षा की अवधारणा पर आधारित है। यह शिक्षा नीति अत्यधिक प्रतिस्पर्धी 21 वीं सदी के लिए तैयार होने के लिए भारत के लिए एक मजबूत आधार का निर्माण करेगी। उन्होंने कहा कि यह भारत को ‘आत्म निर्भर भारत ‘बनाने की एकमात्र नीति है, क्योंकि यह गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और कौशल प्रदान करने पर केंद्रित है।

“किसी भी नीति के कार्यान्वयन में पहली बाधा हितधारकों के साथ संचार की कमी होती है। किसी भी नीति को पहले हितधारकों द्वारा प्रभावी संचार के माध्यम से अच्छी तरह से समझा जाना चाहिए। सौभाग्य से, शिक्षा मंत्रालय के इस श्रेय के रूप में कि एनईपी की घोषणा से पहले ड्राफ्ट एनईपी पर हितधारकों के साथ बड़े पैमाने पर विचार-विमर्श किया गया था ” राज्यपाल ने कहा।

नेशनल रिसर्च फाउंडेशन की स्थापना की अवधारणा; जीडीपी का 6% खर्च इस नीति  की विशेषताएं हैं।

सही प्राथमिकताएं निर्धारित करना किसी भी नीति के सफल कार्यान्वयन का एक और महत्वपूर्ण कदम है। एनईपी के कार्यान्वयन में दो प्रमुख खिलाड़ी हैं – केंद्र में शिक्षा मंत्रालय और हितधारक, जिसमें राज्य सरकारें, स्कूल और शैक्षणिक संस्थान शामिल हैं। इस प्रकार इन सभी हितधारकों पर भी इसके सफल क्रियान्वन की जिम्मेवारी निहित है। “आधुनिक शिक्षा प्रणाली में स्थानीय साहित्य के विकास पर जोर दिया जाना चाहिए। अच्छी और गुणवत्ता वाली सामग्री विकसित करना समय की आवश्यकता है और यह इस नीति के कार्यान्वयन की कुंजी रहने वाली है। ” एनईपी के कार्यान्वयन के बारे में बात करते हुए राज्यपाल ने कहा

राज्यपाल ने कहा कि चूंकि एनईपी प्रकृति में दीर्घकालिक है, इसलिए हमें पहली प्राथमिकता के रूप में समर्थन तंत्र बनाने की जरूरत है। समर्थन तंत्र का विचार पहले से ही भारत के उच्च शिक्षा आयोग (HECI) की स्थापना के माध्यम से नियमन, मान्यता, वित्त पोषण और शैक्षणिक मानक-सेटिंग के लिए अलग-अलग कार्यों के साथ चार ऊर्ध्वाधर बनाये गए है। राज्यपाल की राय थी कि इस पैटर्न में हमारे पास एक आयोग होना चाहिए, जिसमें सभी हितधारकों का  प्रतिनिधित्व होना चाहिए।

इससे पहले, प्रोफेसर राजकुमार, पंजाब विश्वविद्यालय के कुलपति, ने अपने संबोधन में कोरोना महामारी के समय में पंजाब विश्वविद्यालय द्वारा की गई विभिन्न गतिविधियों का संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया था। उन्होंने बताया कि 4 अप्रैल 2020 से लेकर आज तक पंजाब विश्वविद्यालय ने ऑनलाइन मंच पर लगभग 370 वेबिनार / कार्यशालाएं आयोजित की हैं।

इस अवसर पर प्रो वी.आर. सिन्हा ने वेबिनार के परिचयात्मक नोट को प्रस्तुत किया और अतिथियों का परिचय दिया। अंत में प्रो हरीश ने औपचारिक वोट ऑफ थैंक्स प्रस्तुत किया।

देशद्रोह के आरोपी स्टेन ‘स्वामी’ के समर्थन में उतरे जेएमएम और कॉंग्रेस पार्टी

‘स्वामी’ छद्म नाम से भारत में ईसाई धर्म का प्रचार कर रहे पादरी स्टेन ‘स्वामी’ भीमा कोरेगांव हिंसा और प्रधान मंत्री मोदी की हत्या के षड्यंत्र के आरोप में एनआईए की राडार पर थे। उन्हे नामकुम स्टेशन परिसर से गिरफ्तार किया गया। उनकी गिरफ्तारी के बाद ही से झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन और कॉंग्रेस पार्टी समेत कई कई कैथोलिक संस्थाएँ गिरफ्तारी का विरोध कर रहीं हैं।

नयी दिल्ली(ब्यूरो):

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन अब भीमा-कोरेगाँव हिंसा मामले में आरोपित पादरी स्टेन स्वामी के समर्थन में उतर आए हैं। स्टेन स्वामी को NIA ने हिरासत में लिया है। हेमंत सोरेन ने पूछा, “गरीब, वंचितों और आदिवासियों की आवाज़ उठाने’ वाले 83 वर्षीय वृद्ध ‘स्टेन स्वामी’ को गिरफ्तार कर केंद्र की भाजपा सरकार क्या संदेश देना चाहती है?” साथ ही कहा है, “अपने विरोध की हर आवाज को दबाने की ये कैसी जिद?

कई कांग्रेस नेता भी स्टेन स्वामी के बचाव में आ गए हैं। झारखंड कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सह राज्य के वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उराँव ने कहा कि फादर स्टेन स्वामी को ‘अर्बन नक्सलवाद’ के नाम पर गिरफ्तार किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने मोदी सरकार पर देश के विभिन्न हिस्से में रहने वाले बुद्धिजीवियों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। उन्होंने दावा किया कि स्टेन स्वामी 25 वर्षों से राँची में जनजातीय वर्ग के उत्थान में जुटे हैं।

डॉक्टर उराँव ने कहा कि स्टेन स्वामी को फँसाने की साजिश रची गई है। एक दैनिक समाचार पत्र की खबर के अनुसार, प्रदेश कॉन्ग्रेस के प्रवक्ता आलोक कुमार दुबे ने कहा कि केंद्र सरकार विभिन्न जाँच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। राज्य में पार्टी के एक अन्य प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने आरोप लगाया कि संवैधानिक संस्थाओं की गरिमा को कम किया जा रहा है, जिसका परिणाम आने वाले दिनों में देश की जनता को भुगतना पड़ेगा।

राजेश गुप्ता छोटू और आदित्य विक्रम जायसवाल सहित झारखण्ड के कई कॉन्ग्रेस नेताओं ने स्टेन स्वामी का समर्थन किया है। इससे पहले भी कॉन्ग्रेस पार्टी के लोग खुल कर भीमा-कोरेगाँव के आरोपितों का समर्थन करते आए हैं। वामपंथी पार्टियाँ और नेतागण पहले से ही कहते आ रहे हैं कि सरकार भीमा-कोरेगाँव मामले में ‘एक्टिविस्ट्स को फँसा’ रही है। हालाँकि, इनमें से कई के खिलाफ चार्जशीट दायर हो चुकी है।

कई कैथोलिक संस्थाएँ और तथाकथित एक्टिविस्ट्स पहले से ही विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं और स्टेन स्वामी की गिरफ़्तारी को NIA की ‘एकतरफा कार्रवाई’ बता रहे हैं। इन सभी ने झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन से इस मामले में हस्तक्षेप करने की भी माँग की है। 2000 ‘बुद्धिजीवियों’ ने इसे मोदी सरकार का ‘विच हंट’ करार दिया है। वहीं झारखंड पुलिस ने मीडिया से कहा कि वो सारे सवाल NIA से पूछे, पुलिस से नहीं।

ज्ञात हो कि फादर स्टेन स्वामी पर दो साल पहले महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगाँव में हुई हिंसा व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने में संलिप्तता का आरोप है। बताया जा रहा है कि स्टेन स्वामी पर भीमा-कोरेगाँव मामले में एनआईए ने आतंकवाद निरोधक क़ानून (यूएपीए) की धाराएँ भी लगाई गई हैं। एनआईए की एक टीम ने नामकुम स्टेशन परिसर में फादर स्टेन स्वामी को गिरफ्तार किया था।

Police Files, Chandigarh – 10 October

Korel ‘Purnoor’, Chandigarh – 10.10.2020:

One arrested under NDPS Act

Chandigarh Police arrested Sunil Kumar R/o # 343, Ph-1, BDC, Sector-26, Chandigarh (age 32 years) and recovered 820 gm Ganja from his possession near TPT light point, Chandigarh on 09.10.2020. A case FIR No. 165, U/S 20 NDPS Act has been registered in PS-26, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

One arrested with fake number plate

Chandigarh Police arrested Punit Kumar @ Raja R/o # 697/A, Mahadev Colony, Surajpur, Panchkula, Haryana (age about 31 years) while he was using fake Registration No. CH01-AN-8248 on stolen Honda City car near Railway Bridge, Light Point, Colony No. 4, Chandigarh on 09.10.2020. In this regard, a case FIR No. 184, U/S 473, 411 IPC has been registered in PS-Ind. Area, Chandigarh. Investigation of the case is in progress. 

One arrested for theft

Sarju Parsad R/o # 1208, NIC, MM, Chandigarh reported that unknown person stole away Exide battery from his Auto No. CH01-TA-1095 while parked near house on the night intervening 08/09-10-2020. Later alleged person namely Sanjay @ Hatti R/o # 1355 NIC MM, Chandigarh age 24 years has been arrested in this case. A case FIR No. 191, U/S 379 added 411 IPC has been registered in PS-IT Park, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

One arrested for possessing illegal liquor

Chandigarh Police arrested Lucky R/o # 1618, Ph-2, Ram Darbar, Chandigarh age 19 years and recovered 20 quarters of country liquor from his possession near Plot No. 11/A, Ph-2, Ind. Area, Chandigarh on 09.10.2020. A case FIR No. 195, U/S 61-1-14 Excise Act has been registered in PS-31, Chandigarh. Later he was released on bail. Investigation of the case is in progress.

Illegal liquor recovered

A case FIR No. 186, U/S 61-1-14 Excise Act has been registered in PS-Mauli Jagran, Chandigarh against unknown person who ran away after leaving his Innova car No. PB07-AL-4749 near Wine Shop, Booth Market, Mauli Jagran Complex, Chandigarh on 09.10.2020 and 8 boxes (12 bottles each) of country made liquor were recovered from said car. Investigation of the case is in progress.

Action against gambling/satta 

Chandigarh Police arrested Raman Singh R/o # 457/2, Sector-41A, Chandigarh (age 36 years) while he was playing satta at backside Market, Sector-41D, Chandigarh on 09.10.2020 and cash Rs. 450/- was recovered from his possession. A case FIR No. 310, U/S 13A-3-67 Gambling Act has been registered in PS-39, Chandigarh. Later he was released on bail. Investigation of the case is in progress.

Chandigarh Police arrested Rakesh Kumar R/o # 385, Gali No. 3, Phase-1, Mohali, Punjab  (age 32 years) while he was playing satta at backside of showroom, Market, Sector-40C, Chandigarh on 09.10.2020 and cash Rs. 1230/- was recovered from his possession. A case FIR No. 311, U/S 13A-3-67 Gambling Act has been registered in PS-39, Chandigarh. Later he was released on bail. Investigation of the case is in progress.

Two arrested for Cheating

   A case FIR No. 194, U/S 420, 406, 120B IPC has been registered in PS-31, Chandigarh on the complaint of Ram Sagar Paswan R/o Ward No. 11, Ghar Souraul, P.S. Khanpur, Distt. Samastipur, Bihar against unknown person who cheated away cash Rs 4000/- & Mobile Phone of complainant and Rs 4500/- & Mobile Phone of complainant’s Nephew Ram Babu Paswan near Bus Stand, Ram Darbar, Chandigarh for providing bus tickets to Bihar on 08.10.2020. Later two persons namely Mohd. Jamshid R/o Village-Kharka, Ward No. 03, PO-Ranishankar, PS-Runishadpur, Distt- Sitamadhi Bihar (age 25 years) and Maheshwar Paswan R/o Village-Koilaman, Ward No. 1, PO-Jaju Kattara, PS-Kattara, Distt-Mujaffar Nagar, Bihar (age 50 years) have been arrested in this case. Investigation of the case is in progress.

Accident

A case FIR No. 164, U/S 279, 337 IPC has been registered in PS-26, Chandigarh on the complaint of Harmohinder Singh R/o # 266B, New Police Line, Sector-26, Chandigarh against the driver of Swift Dezire car No. PB65-X-0024 namely Ravikant R/o # 2574, Sector-22C, Chandigarh who hit complainant’s Activa Scooter No. PB65-AF-4748 near H.No. 201, Light Point KB DAV School, Sector-7, Chandigarh on 08.10.2020. Complainant got injured and admitted in PGI, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

A case FIR No. 309, U/S 279, 337 IPC has been registered in PS-39, Chandigarh on the statement of ASI Jaswant Singh, posted in PCR, Chandigarh against unknown person. Two vehicles i.e. Alto car No. PB11-CS-3515 and Apache M/Cycle No. HR-2020-(T)-7939 were found in accident condition near # 3081, Sector 40D, Chandigarh on 09.10.2020. Both victims namely Akash R/o # 5845, Village Maloya, Chandigarh and Prince H.No. 2277, Sector-40, Chandigarh got injured and admitted in GMSH-16, Chandigarh in unfit condition. Investigation of the case is in progress.

Snatching

A lady resident of Sector-35C, Chandigarh alleged that two unknown persons on motorcycle snatched away complainant’s gold chain near her house on 09.10.2020. A case FIR No. 190, U/S 379A, 34 IPC has been registered in PS-36, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

Assault/Quarrel

          A case FIR No. 146, U/S 341, 323, 506, 34 IPC has been registered in PS-Maloya, Chandigarh on the complaint of Sahil R/o # 970, Ph-1, Ram Darbar, Chandigarh who alleged that Painter, Rohit, Anish and two others assaulted complainant at Park, Kachi Colony, DMC, Chandigarh on 05.10.2020. Complainant got injured and admitted in GMSH-16, Chandigarh. Investigation of the case is in progress.

बीवीपी और एचपीएम द्वार काली बाड़ी और सनातन धर्म मंदिर सेक्टर 48 में रूद्राक्ष ए पौधों का विधिवत रोपण किया गया

चंडीगढ़(ब्यूरो):

भारत विकास परिषद चंडीगढ़ एवं हिंदू पर्व महासभा के द्वारा संयुक्त रूप से चंडीगढ़ के मंदिरों में रुद्राक्ष के पौधे लगाए जा रहे है, इस श्रृंखला में 9-10-20 को सेक्टर 31 के श्री माता काली बाड़ी मंदिर, सेक्टर 48 श्री सनातन धर्म मंदिर में विद्वानों द्वारा पूर्ण विधि-विधान और मंत्रोचार से रुद्राक्ष के पौधे लगाए गए।

इस अवसर पर भारत विकास परिषद के अजय सिंगला (प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर व सचिव नॉर्थ जोन ) ने बताया कि चंडीगढ़ के मंदिरों में अब तक 15 मंदिरों में रुद्राक्ष के पोधै लगाए जा चुके है यह प्रोजेक्ट आगे चलेगा ।

इस अवसर पर अजय सिंगला (प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर व सचिव नॉर्थ जोन ), एच आर नारंग (स्टेट कॉर्डिनेटर ), पी के शर्मा (उपाध्यक्ष संस्कार चंडीगढ़ प्रांत व अध्यक्ष साउथ ज़ोन), अनिल सूद (सचिव साउथ ज़ोन ), वी के बंसल ( संरक्षक साउथ 1 ), बिशंबर नाथ ( अध्यक्ष साउथ 1), सतीश कुमार (वित्त सचिव साउथ 1 ), एम के वर्मानी ( उपाध्यक्ष साउथ 1 ), डॉक्टर मीना ( उपाध्यक्ष साउथ 8 ), श्रीमती सोनम वर्मा (ऑर्गनाइजिंग सचिव साउथ 8 ), श्रीमती रूबी गुप्ता ( कार्यकारी सदस्य साउथ 8 )

हिंदू पर्व महासभा के बी पी अरोड़ा ( अध्यक्ष ), जे एल गुप्ता जी (उपाध्यक्ष ) , अजय कौशिक (लीगल एडवाइजर ), राजेंद्र गुप्ता (उपाध्यक्ष ), अरुणेश अग्रवाल ( उपाध्यक्ष ), रतन लाल ( सदस्य ), मिश्रा ( सचिव काली बाड़ी मंदिर ) व प्रमुख सदस्य सनातन धर्म मंदिर सेक्टर 48 के विशेष रूप से उपस्थित रहे।

11 अक्टूबर को कारगिल हीरो निकालेंगे बाइक रैली।

पंचकुला ब्यूरो:

An organization of all india ex sevice men द्वारा एक बाइक रैली का आयोजन किया जा रहा है जिसमे कारगिल वॉर के वह हीरो जिनके योगदान की वजह से भारत ने कारगिल युद्ध में फतेह हासिल की वह सब कल दिल्ली से पिंजौर एक बाइक रैली करते हुए आएंगे और उनका स्वागत करने हेतु शहर के तमाम लोग पहुंचेंगे।

यह जानकारी demokraticfront.com को An organization of all india ex servicemen के राष्ट्रीय संयुक्त सचिव वेटरन अनुराग लठवाल ने दी।

सेब मंडी की अनियमितताओं पर एडीजीपी हरियाणा ने मुख्य प्रशासक से रिपोर्ट मांगी

पंचकूला(ब्यूरो):


सेब मंडी में हो रही अनियमितताओं के चलते हरियाणा गुप्तचर विभाग के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आलोक मित्तल ने हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक से इस पर रिपोर्ट मांगी ।

मुख्य प्रशासक को 29 सितंबर 2020 को लिखे पत्र के माध्यम से पुलिस महानिदेशक ने मंडी में तैनात ऑक्शन रिकॉर्डर राजकुमार और मंडी सचिव विशाल गर्ग पर लगे आरोपों की रिपोर्ट भी मांगी ।

महानिदेशक द्वारा प्रेषित पत्र के अनुसार विशाल गर्ग राजकुमार पर आरोप है की मंडी में तिरपाल लगाकर छोटे ढाबा मालिक और चाय बेचने वालों से अवैध रूप से ₹20000 वसूले जाते हैं जबकि सरकारी फीस ₹1000 है, इसके अतिरिक्त 5 दुकानदारों से ₹5000 महीना लिए जाते हैं । बाहर फड़ी लगाकर लगाकर मास्क बेचने वालों, नाई का काम करने वाले 10 लोगों से करीब ₹1000 मंथली वसूली जाती है 10 दुकानदार ऐसे हैं जो कपड़ा, टॉर्च आदि बेचते हैं उनसे दो हजार रुपए हर महीने वसूले जाते है।

यह भी पढ़ें: अनाज मंडी के कर्मचारी स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता के नाम पर कर रहे वसूली : मंजीत

मुख्य प्रशासक को प्रेषित पत्र में यह भी कहा गया है के मंडी के उक्त कर्मचारियों पर पहले भी भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं जैसे कि बरवाला अनाज मंडी ऑक्शन क्वार्टर के पद पर तैनात रहते हुए राजकुमार ने करीब ₹50000 का सफेदा, शीशम और जामुन के पेड़ अवैध रूप से भेज काट कर भेज दिए थे।