आपातकाल में पंचकूला पुलिस से नए नंबर से होगा संपर्क

  • पुलिस-जनता में विश्वास बढ़ाने के लिए बनेंगी समन्वय कमेटियां
  • विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त करें, हर सेक्टर में बनेंगे बीट बॉक्स

पंचकूला़, 29 सितंबर:

आपातकाल में पंचकूला पुलिस से संपर्क करने के लिए की जाने वाली फोन कॉल चंडीगढ़ या मोहाली लगने की समस्या से छुटकारा मिलने जा रहा है। विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने मंगलवार को पंचकूला कानून एवं व्यवस्था कमेटी की बैठक में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को इस बाबत निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस भारत संचार निगम लिमिटेड के अधिकारियों तथा विशेषज्ञों से मिलकर इस समस्या का निराकरण करें। बैठक में उपस्थित पंचकूला पुलिस आयुक्त सौरभ सिंह ने आश्वासन दिया कि शहरवासियों को इस समस्या से जल्द निजात मिलेगी। ज्ञान चंद गुप्ता ने शहर में ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त करने, ड्रग नेटवर्क को धराशायी करने तथा सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वाले लोगों पर कड़ी कार्रवाई करने को भी कहा है। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस और जनता के बीच आपसी विश्वास बढ़ाने के लिए पुलिस जनता समन्वय समिति गठित करने के भी निर्देश दिए।

पंचकूला जिले में कानून व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए मंगलवार को विधान सभा सचिवालय में कानून एवं व्यवस्था समिति की बैठक बुलाई गई। समिति के अध्यक्ष स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में पुलिस आयुक्त सौरभ सिंह, पुलिस उपायुक्त मोहित हांडा, अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सतीश कुमार, राजकुमार और नुपूर बिश्नोई, समिति के संयोजक डीपी सिंघल और डीपी सोनी, इसके सदस्य एसके शर्मा, सेवानिवृत लेफ्टिनेंट जनरल केजे सिंह, वीके कपूर और कपिल चड्ढा मौजूद रहे। बैठक में पूर्व सैनिकों के संगठन वेटर्नंस इंडिया के महासचिव अनुराग अग्रवाल और संयुक्त सचिव अनुराग लठवाल भी विशेष आमंत्रित रहे। उन्होंने बैठक में पूर्व सैनिकों के मान-सम्मान का विषय उठाते हुए यातायात पुलिस का सहयोग करने की पेशकश की।

बैठक में ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि जनता और पुलिस के बीच विश्वास बहाली के लिए जिला तथा थाना क्षेत्र के स्तर पर समन्वय समितियों का गठन किया जाना चाहिए। इस कमेटियों को समय-समय पर बैठक कर जनता की समस्याओं को समझना चाहिए। इन समितियों में नागरिकों की सहभागिता होने से पुलिस प्रशासन तक वास्तविक जानकारी पहुंच सकेगी।

विधान सभा अध्यक्ष ने कहा शहरवासियों द्वारा आपातकाल में पुलिस से संपर्क करने के लिए 100 नंबर पर फोन करने पर कॉल चंडीगढ़ या मोहाली लग जाती है। इससे मुसीबत में फंसे लोगों की दिक्कत और बढ़ जाती है। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा कि भारतीय संचार निगम लिमिटेड के अधिकारियों तथा विशेषज्ञों से मिलकर इस समस्या का निदान करें। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्रालय की हिदायतों के अनुसार नियम तैयार करने को कहा। इसके साथ ही शहरवासियों की सुरक्षा और यातायात प्रबंधन को लेकर भी बैठक में विस्तृत चर्चा हुई। गुप्ता ने कहा कि पुलिस का कार्य लोगों के मन डर बैठाना नहीं अपितु उन्होंने यातायात नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित करना है। इसके लिए पुलिस अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा।

बिना नंबर तथा जुगाड़ से बने वाहनों की रोकथाम के लिए पुलिस अफसरों को विशेष कार्रवाई को कहा गया है। गुप्ता ने कहा कि जुगाड़ वाले वाहनों से हादसों का डर रहता है तो बिना नंबर वाले वाहन चालकों से आपराधिक वारदातों को अंजाम देने का डर रहता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि किसी को भी रात को सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने की अनुमति न दी जाए तथा ऐसा करने वालों पर कठोरता से शिकंजा कसा जाए। उन्होंने कहा कि ड्रग सेवन तथा इसके कारोबार को रोकने के लिए पुलिस को विशेष अभियान चलाना चाहिए। पंचकूला शहर की लोगों में आदर्श छवि है इसलिए यहां किसी भी प्रकार की गैरकानूनी गतिविधियां नहीं की जा सकती। इसकी रोकथाम के लिए हर सेक्टर में बीट बॉक्स स्थापित करने को भी कहा गया है।

बैठक में वेटर्नंस इंडिया के महासचिव अनुराग अग्रवाल और संयुक्त सचिव अनुराग लठवाल ने पूर्व सैनिकों के मान-सम्मान का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि फरीयाद लेकर थानों में जाने वाले पूर्व सैनिकों के साथ संतोषजनक व्यवहार नहीं किया जाता। इस ज्ञान चंद गुप्ता ने सख्ती दिखाई और कहा कि सैनिकों का जीवन देश के लिए काम आता है। इसलिए समाज का कर्तव्य बनता है कि उन्हें सेवानिवृत्ति के बाद भी पूरा मान-सम्मान दें। उन्होंने कहा कि पुलिस थानों में अपनी समस्या लेकर आने वाले सैनिकों और पूर्व सैनिकों की बात सम्मानपूर्वक सुनी जानी चाहिए। इस पर पुलिस अधिकारियों ने सकारात्मक आश्वासन दिया।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *