मोदी-ट्रंप की दोस्ती का के डंका पर कांग्रेस को ‘शंका’ क्यों है? : संबित पात्रा

सबसे बड़ा सवाल यह है मोदी-ट्रंप की दोस्ती का के डंका पर कांग्रेस को ‘शंका’ क्यों है? बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा का कहना है कि भारत का कद पूरे विश्व में बढ़ रहा है तो कांग्रेस पार्टी दुखी क्यों है? ये सवाल आज हम आपसे कांग्रेस पूछना चाहते हैं कि जब भी मौसम में खुशहाली होती है भारत खुश होता है तो कांग्रेस पार्टी दुखी क्यों होती है ये हम पूछना चाहते हैं.

नई दिल्ली: 

24  फरवरी को अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ भारत आ रहे हैं. दो दिनों के इस दौरे में ट्रंप दिल्ली और अहमादाबाद जाएंगे. ट्रंप के आगरा में ताजमहल जाने का भी कार्यक्रम है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के दौरे पर स्वागत में अहमदाबाद में एक समिति के जरिये 100 करोड़ रुपये खर्च पर सवाल उठाए हैं. प्रियंका ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप के आगमन पर 100 करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं. लेकिन ये पैसा एक समिति के जरिए खर्च हो रहा है. बीजेपी ने जोरदार पलटवार किया है. बीजेपी ने पलटवार करते हुए पूछा कि भारत का कद बढ़ रहा है तो कांग्रेस खुश क्यों नहीं है?  

सबसे बड़ा सवाल यह है कि मोदी-ट्रंप की दोस्ती से कांग्रेस दुखी क्यों है? देश के मान पर कांग्रेस की ‘अपमान’ वाली सियासत क्यों? कांग्रेस को दोस्ती की डील में भी ‘घोटाला’ दिखता है? ट्रंप के दौरे पर कांग्रेस-पाकिस्तान की एक सोच? मोदी-ट्रंप की दोस्ती का डंका, कांग्रेस को क्यों ‘शंका’? आतंक पर अमेरिका के संदेश से पाकिस्तान ‘बेचैन’?

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा का कहना है कि भारत का कद पूरे विश्व में बढ़ रहा है तो कांग्रेस पार्टी दुखी क्यों है? ये सवाल आज हम आपसे कांग्रेस पूछना चाहते हैं कि जब भी मौसम में खुशहाली होती है भारत खुश होता है तो कांग्रेस पार्टी दुखी क्यों होती है ये हम पूछना चाहते हैं.

कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने भी ट्रंप के दौरे पर सवाल उठाए हैं. अल्वी ने कहा, “अहमदाबाद में 1 मिनट में 50 लाख रुपए खर्च हो रहे हैं जो मीडिया में भी आ रहा है, सबको मालूम है. आप 50 लाख 1 मिनट का खर्च कर रहे हैं, ट्रंप के आने पर आपको क्या मिलेगा?” 

पात्रा ने कहा, “इतना पैसा कैसे खर्च हो गया इस डांस पर? इतने पैसे कैसे खर्च होंगे? ये कैसे बेतुके सवाल हैं. मुझे तो कभी-कभी शक होता है कि कांग्रेस पार्टी जो स्टेडियम बना है, उस पैसे की कैलकुलेशन करके पूछेगी कि ये पैसा आपने ट्रंप के लिए खर्च किया है.” 

ट्रंप के दौरे पर कांग्रेस-पाकिस्तान की एक सोच जैसी दिखाई देती है. कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा, “‘ये समिति कौन सी है? कब बनी है? इसका रजिस्ट्रेशन कब हुआ? इसके पास इतना पैसा कहां से आया? वास्तविकता ये है कि सब पैसा सरकार का है. भारत की सरकार और गुजरात की सरकार का.” 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *