वाराणसी में मोदी कि गर्जना: CAA, 370 के अपने फैसलों पर हम कायम हैं और कायम रहेंगे

नागरिकता कानून पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश हित में ये फैसले जरूरी थे और दुनियाभर के दवाब के बावजूद इन फैसलों पर हम कायम हैं और कायम रहेंगे. अभी हाल ही में अकाल तखत ने भी CAA के खिलाफ मुसलमानों का साथ देने का फैसला किया है आवर आकाल तख्त के प्रमुख ने तो यहाँ तक कह दिया था कि देश में सिख असुरक्षित हैं.

नयी दिल्ली(ब्यूरो): 

अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी दौरे पर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून पर बड़ा बयान दिया है. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार का फैसला अडिग है. भारत वर्षों से धारा 370 को रद्द करने और सीएए को लागू करने जैसे फैसलों का इंतजार कर रहा था. पीएम मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 का फैसला हो या फिर CAA, दोनों देशहित में जरूरी थे. हम अपने फैसले के साथ खड़े हैं और रहेंगे.

‘श्री सिद्धांत सिखवानी ग्रन्थ’ का विमोचन

पीएम मोदी ने काशी वासियों को 12 सौ करोड़ की विकास परियोजनाओं की सौगात दी. रविवार को काशी प्रवास के दौरान पीएम मोदी सबसे पहले जंगमबाड़ी मठ में आयोजित समारोह में शामिल हुए और ‘श्री सिद्धांत सिखवानी ग्रन्थ’ का विमोचन तथा मोबाइल एप लॉन्च किया. यहां मंच पर प्रधानमंत्री के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सीएम वीएस येदुरप्पा, जगद्गुरु शिवाचार्य डॉ चंद्रशेखर भी मौजूद रहे.

यहां पीएम मोदी ने कहा कि देश सरकार से नहीं बनता बल्कि एक-एक नागरिक के संस्कार से बनता है और नागरिक के संस्कार को उसकी कर्तव्य भावना श्रेष्ठ बनाती है. एक नागरिक के रूप में हमारा आचरण ही भारत के भविष्य को तय करेगा, नए भारत की दिशा तय करेगा.

राम मंदिर निर्माण को लेकर गठित ट्रस्ट पर पीएम मोदी ने कहा कि कुछ दिन पहले ही सरकार ने ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र’ के गठन की घोषणा की है. यह ट्रस्ट अयोध्या में भगवान राम की जन्मस्थली पर, भव्य और दिव्य मंदिर के निर्माण का काम देखेगा और सारे फैसले लेगा.

पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का लोकार्पण

प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी-चंदौली की सीमा पर स्थित पड़ाव में एकात्मवाद के प्रणेता माने जाने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्थल संग्रहालय का भी लोकार्पण किया. यहां स्थापित पंडित जी की 63 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया. पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के ठीक सामने कुंड का निर्माण किया गया है, जिसमें दो फुट जल हमेशा रहेगा, जिसे प्रतिमा की सुंदरता के लिए बनाया गया है. कुंड की खासियत यह है कि कुंड में जैसे ही दो फुट से ज्यादा पानी होगा, पानी फिल्टर होकर एसटीपी के जरिए पुन: फाउंटेन से होकर कुंड में झरने के रूप में गिरेगा. देश में दीनदयाल उपाध्याय की यह सबसे बड़ी प्रतिमा है. इस स्मारक केंद्र में पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन और काल से संबंधित जानकारियां होंगी. उत्तर प्रदेश किसान गन्ना संस्थान में पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्थल का निर्माण कराया गया है.

महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई

प्रधानमंत्री मोदी ने तीन ज्योर्तिलिंगों को जोड़नी वाली महाकाल एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई. इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ”आज जब हम भारत में 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था की बात करते हैं, तो पर्यटन इसका एक अभिन्न हिस्सा है. प्रकृति के अलावा, विरासत पर्यटन में लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए एक मजबूत भूमिका है. साथ ही, वाराणसी के साथ अन्य पवित्र स्थलों को नई तकनीकों का उपयोग करके विकसित किया जा रहा है.

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *