त्रिपोली में फंसे हुए भारतीय यदि तुरन्त नहीं निकलते हैं तो बाद में उन्हें वहां से निकलना संभव नहीं हो पाएगा: सुषमा स्वराज

क्या है त्रिपोली संकट
इसराइल ने देर रात दक्षिणी लेबनान में हिज़बुल्ला के ठिकानों पर लगातार हवाई हमले किए हैं जबकि संयुक्त राष्ट्र ने लेबनान में मानवीय त्रासदी जैसी स्थिति पैदा होने की आशंका जताई है.
इसराइली सेना का कहना है कि बेरुत में चरमपंथियों के मुख्यालय को एक बार फिर निशाना बनाया गया है और साथ ही पूर्वी शहर बालबेक में हथियारों के गोदाम और रॉकेट से भरे ट्रकों पर भी हमले किए गए हैं.
इस बीच हिज़बुल्ला ने उत्तरी इसराइल के कुछ हिस्सों पर रॉकेट दागे हैं.
इसराइल ने अपने हमले जारी रखते हुए साफ कर दिया है कि जब तक उसके दोनों सैनिकों को हिज़बुल्ला छोड़ नहीं देता तब तक यह कार्रवाई नहीं रुकेगी.
पिछले छह दिनों में इसराइली हमलों में 200 से अधिक लेबनानी मारे जा चुके हैं. हिज़बुल्ला की जवाबी कार्रवाई में अभ तक 24 इसराइली मारे गए हैं.

नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को कहा कि 500 से अधिक भारतीय लीबिया की राजधानी त्रिपोली में फंसे हुए हैं और उन्होंने सुझाव दिया है कि वे तुरंत शहर छोड़ दें.

त्रिपोली में हिंसा जारी रहने के बीच मंत्री ने कहा कि लीबियाई राजधानी में फंसे हुए भारतीय यदि तुरन्त नहीं निकलते हैं तो बाद में उन्हें वहां से निकलना संभव नहीं हो पाएगा.

त्रिपोली में 200 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं
संयुक्त राष्ट्र समर्थित प्रधानमंत्री फायेज अल-सराज को सत्ता से बेदखल करने के लिए लीबियाई सेना के कमांडर खलीफा हफ्तार के सैनिकों ने एक हमला किया था और पिछले दो सप्ताह में हिंसा में त्रिपोली में 200 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं.

Even after massive evacuation from Libya and the travel ban, there are over 500 Indian nationals in Tripoli. The situation in Tripoli is deteriorating fast. Presently, flights are operational. /1 PL RT4,6686:37 PM – Apr 19, 2019Twitter Ads info and privacy2,592 people are talking about this

स्वराज ने ट्वीट किया, ‘लीबिया से बड़ी संख्या में लोगों के जाने और यात्रा प्रतिबंध के बाद भी, त्रिपोली में 500 से अधिक भारतीय नागरिक हैं. त्रिपोली में हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं. वर्तमान में उड़ानों का संचालन हो रहा है.’

Pls ask your relatives and friends to leave Tripoli immediately. We will not be able to evacuate them later. /2 Pls RT9,3696:38 PM – Apr 19, 2019Twitter Ads info and privacy6,526 people are talking about this

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर कहा, ‘‘कृपया अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को तुरंत त्रिपोली छोड़ने के लिए कहें. हम बाद में उन्हें वहां से नहीं निकल पाएंगे.’’ 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *