भाजपा ने जनता को केवल झूठ परोसा है,रोजगार देने के नाम पर युवाओं से किया धोखा : शैलजा बजाज

मुद्दों की बात करें, भाजपा वाले क्यूँ विकास की बात नहीं करते, वह क्यू सेना, बीएसएफ़ और सीआरपीएफ़ की आड़ लेते हैं। हमारे पास मनीफेस्टो है जो लोगों के मन की आवाज़ हैं न की किसी एक के मन की आवाज़,” शैलजा बजाज

आज पंचकुला के 5 सितारा होटल कूव में शेलजा बजाज ने अपने पंचकुला विधान सभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं से बैठक की और पत्रकारों के रूबरू भी हुईं। मुश्किल सवालों को आसानी से टालते हुए हर बात पर भाजपा को खासकर प्रधानमंत्री मोदी पर वह निशाना साधतीं रहीं।

मेनिफेस्टो में AFSPA पर प्रश्न के उत्तर में उन्होने कोई जवाब नहीं दिया अपितु भाजपा पर अरुनञ्चल से AFSPA हटाने की बात दोहराई। सनद रहे की कॉंग्रेस के घोषणापत्र में AFSPA वहाँ के हालात ठीक होने पर हटा लिया गया था।

सिद्धू के द्वारा मुसलमानों को कांग्रेस को वोट देने की बात वह सिरे से टाल गयी कहा की वह अपने चुनाव प्रचार और अभियान में बहुत सल्ग्न हैं इसी लिए उन्हे दूसरों के बारे में नहीं पता की किसने क्या कहा, उन्होने कहा कि जिसने जो कहा आप उसकी बात उस व्यक्ति ही से पूछें, यदि मैंने कुछ गलत कहा है तो मैं उत्तरदायी हूँ, पर साथ ही वह यह कहना नहीं चूकीं की यह तो भाजपा है जो धर्म की राजनीति खेलती है। ज्ञात रहे की सिद्धू ने बिहार में हाल ही में एक जन सभा में मुसलमानों से अपील की थी की वह एकजुट हो कर मोदी के विरोध में कांग्रेस को वोट दें।

पंचकुला में बंद पड़ी HMT फ़ैक्टरि के बारे में उनसे जब पूछा गया तो उन्होने कहा कि कोरत्से जीतने के बाद भी HMT के कर्मचारियों को नज़रअंदाज़ किया जा रहा है, जो उनकी नज़र में है सरकार बनाने के साह ही उनकी समस्याओं का समाधान किया जाएगा और साथ ही सरकार में रिक्त पड़े पदों को जो कि 21 लाख क करीब हैं को भरा जाएगा। रोजगार पर उन्होने कहा कि बेरोजगार युवाओं और नव उद्द्यमिओन के लिए वह बेहतर विकल्प ले कर आएंगे।

प्रदेश और अपने सांसदिया क्षेत्र के बारे में पूछे जाने पर शैलजा ने कहा की अंबल और वह एक दूसरे के लिए आए नहीं हैं वहीं भीतरी गुटबाजी पर उन्होने पत्रकारों ही से पूछ लिया की वह बताएं की मंच पर उन्हे कौन नहीं दिखा।

अपने उत्तरों से सभी को संतुष्ट करतीं और मुश्किल सवालों पर बचती हु शेलजा ने राहुल के मोदी वाले बयान को बड़ी ही कुशलता से रेन्द्र मो’दी पर ही उल्टा मोड दिया की मोदी तो हमेशा victim card खेलते हैं।और साथ ही उन्होने कहा “वर्ष 2014 में मोदी लहर थी लेकिन अब लहर खत्म है जनता बहुत सियानी है सब समझती है “

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *