मनोहर पर्रिकर नहीं रहे

नई दिल्ली: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार को अपने निजी आवास में निधन हो गया. वह 63 वर्ष के थे. मनोहर पर्रिकर के परिवार में दो पुत्र और उनका परिवार है. राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री का निधन रविवार शाम छह बजकर चालीस मिनट पर हुआ. पिछले एक साल से बीमार चल रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता का स्वास्थ्य दो दिन पहले बहुत बिगड़ गया था.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट किया है, ‘गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन की सूचना पाकर शोकाकुल हूं.’ उन्होंने कहा कि पर्रिकर बेहद साहस और सम्मान के साथ अपनी बीमारी से लड़े. उन्होंने लिखा है कि सार्वजनिक जीवन में वह ईमानदारी और समर्पण के मिसाल हैं और गोवा और भारत की जनता के लिए उनके काम को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा.

Extremely sorry to hear of the passing of Shri Manohar Parrikar, Chief Minister of Goa, after an illness borne with fortitude and dignity. An epitome of integrity and dedication in public life, his service to the people of Goa and of India will not be forgotten #PresidentKovind20.3K7:59 PM – Mar 17, 2019Twitter Ads info and privacy12.1K people are talking about this

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि मनोहर पर्रिकर का जाना बहुत पीड़ादायक है. देश ने आज एक सच्चा देशभक्त खो दिया जिसने निस्वार्थ भाव से अपना जीवन देश और विचारधारा को समर्पित कर दिया. पर्रिकर जी की अपने लोगों और कर्तव्यों के प्रति प्रतिबद्धता अनुकरणीय थी.

Manohar Parrikar ji’s demise is extremely painful. In him, the nation has lost a true patriot who selflessely dedicated his entire life to the country and ideology. Parrikar ji’s commitment towards his people and duties was exemplary.8,1188:25 PM – Mar 17, 2019Twitter Ads info and privacy2,692 people are talking about this

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने ट्विटर पर लिखा, नि:शब्द हूं. सुशील और सादगीपूर्ण राजनीति का चेहरा आज खो गया. मनोहर भाई सही मायने में हर कार्यकर्ता के हृदय पर राज करने वाले नेता थे.

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा,’राजनीति में शुरुआती दिनों से वे मेरे साथी और अच्छे मित्र थे. गोवा के विकास के लिए लिए आख़िरी साँस तक संघर्ष करने वाले भारत माँ के इस महान सपूत को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि.ॐ’

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘गोवा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर के निधन का समाचार सुनकर स्तब्ध हूं. आज मां भारती ने अपना एक सच्चा सपूत खो दिया है. ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान देने और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं.

यह भी पढ़ें: सत्ता पिपासु कांग्रेस के लिए फ्रांसिस की मृत्यु – एक वरदान

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, गोआ के सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन की खबर सुनकर गहरा दुख हुआ है. पिछले एक साल से उन्होंने एक तकलीफदेह बीमारी से बहादुरी के साथ मुकाबला किया. उनका सम्मान सभी पार्टियों में था. गोआ ने अपना प्रिय बेटा खो दिया. 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *