राजस्थान जार के राकेश कुमार शर्मा अध्यक्ष, संजय सैनी महासचिव निर्वाचित

जयपुर। जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (जार) के द्विार्षिक प्रदेशस्तरीय चुनाव आज बुधवार को जयपुर में सम्पन्न हुए। चुनाव अधिकारी योगेश सैन ने बताया कि चुनाव में सभी पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हुआ। कार्यकारिणी के सभी पदों पर एक-एक ही नामांकन दाखिल हुए, जिसके आधार पर सभी को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया।

राजस्थान जार के प्रदेश अध्यक्ष पद पर राकेश कुमार शर्मा, प्रदेश महासचिव पद पर खासखबर डॉट काम के संजय सैनी, प्रदेश कोषाध्यक्ष रामबाबू सिंघल निर्वाचित हुए है। इसी तरह प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर अजमेर से विजय मौर्य, भरतपुर से दीपक लवानिया, बीकानेर से श्याम सुंदर शर्मा, जयपुर से गौरव शर्मा, जोधपुर से ललित परिहार, कोटा से कुश कुमार मिश्रा, उदयपुर से सुभाष शर्मा निर्विरोध निर्वाचित हुए है। वहीं प्रदेश सचिव पद पर अजमेर से संतोष खाचरियावास, भरतपुर से वेदप्रकाश, बीकानेर से दिलीप भाटी, जयपुर से भाग सिंह, जोधपुर से कमल वैष्णव, कोटा से रिछपाल पारीक, उदयपुर से कौशल मूंदडा निर्वाचित हुए है। कार्यकारिणी सदस्य में गोपाल शर्मा, मृत्युंजय त्रिवेदी, राजेन्द्र राज, दीपक गोस्वामी, अजय नागर, विनोद पाठक, राकेश वर्मा, जितेन्द्र शर्मा, देवेन्द्र गर्ग, भवानी सिंह, संजीव माथुर, गिर्राज शर्मा, दामोदर रैगर, राम सिंह, महेश शर्मा निर्वाचित हुए है।

दूसरी नवरात्री: देवी ब्रह्मचारिणी

नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी के स्वरूप की पूजा की जाती है। नवरात्रि में दुर्गा पूजा के अवसर पर बहुत ही विधि-विधान से माता दुर्गा के नौ रूपों की पूजा-उपासना की जाती है। भगवान शंकर को पति रूप में प्राप्त करने के लिए घोर तपस्या की थी। इस कठिन तपस्या के कारण इस देवी को तपश्चारिणी अर्थात्‌ ब्रह्मचारिणी नाम से अभिहित किया। उन्हें त्याग और तपस्या की देवी माना जाता है। मां ब्रह्मचारिणी के धवल वस्त्र हैं। उनके दाएं हाथ में अष्टदल की जपमाला और बाएं हाथ में कमंडल सुशोभित है।_

_शास्त्रों की मान्यता है कि भगवती ने भगवान शिव को पति रूप में प्राप्त करने के लिए एक हजार वर्षों तक फलों का सेवन कर तपस्या की थी। इसके पश्चात तीन हजार वर्षों तक पेड़ों की पत्तियां खाकर तपस्या की। इतनी कठोर तपस्या के बाद इन्हें ब्रह्मचारिणी स्वरूप प्राप्त हुआ। भक्त इस दिन अपने मन को भगवती मां के श्री चरणों मे एकाग्रचित करके स्वाधिष्ठान चक्र में स्थित करते हैं और मां की कृपा प्राप्त करते हैं।_
_ब्रह्म का अर्थ है, तपस्या, तप का आचरण करने वाली भगवती, जिस कारण उन्हें ब्रह्मचारिणी कहा गया है। इस मंत्र का करें जाप या देवी सर्वभूतेषु मां बह्मचारिणी रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। अर्थ -हे मां। सर्वत्र विराजमान और ब्रह्मचारिणी के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है।_
*_ध्यान मंत्र -_*
_दधाना करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डलू।_
_देवी प्रसीदतु मयि ब्रह्मचारिण्यनुत्तमा॥_
आज आप पूजा में मटमैले रंग के वस्त्रों का प्रयोग करना चाहिए। नवदुर्गा में दूसरा स्वरुप मां ब्रह्मचारिणी का है इनको ज्ञान, तपस्या और वैराग्य की देवी माना जाता है। छात्रों और तपस्वियों के लिए इनकी पूजा बहुत ही शुभ फलदायी है, जिनका चन्द्रमा कमजोर हो तो उनके लिए मां ब्रह्मचारिणी की उपासना करना अनुकूल होता है

आरएसएस प्रमुख की सुरक्षा में कैप्टन सरकार की भरी चूक जालंधर के सीटी शिक्षण संस्थान में AK 47 के साथ पकड़े गए पांच संदिग्ध

updated at 4:22 pm


सीटी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट के डाइरेक्टर माणबीर सिंह ने माना की उनके इंस्टीट्यूट के हॉस्टल से एके47 के साथ 3 मुस्लिम युवक पकड़े गए हैं  ओर उनके ही हास्टल के 2 छात्र भी आतंकी गतिविधियों में गिरफ्तार गए हैं  यह 3 मुस्लिम युवक उनके इंस्टीट्यूट के हास्टल में कैसे प्रवेश पा गए ओर हॉस्टल की सुरक्षा व्यवस्था पर प्रश्ञ्च्न्ह लग रहे हैं।

क्या इन युवको का जालंधर में इसी इंस्टीट्यूट में पाया जाना वह भी तब जब संघ प्रमुख भागवत जैसी अति विशिष्ट व्यक्तित्व पहली बार जालंधर आए हों, किसी खास साजिश की ओर इशारा करता है। 

कैप्टन सरकार क्या सिर्फ जुमले बोल कर रह जाएगी या फिर कुछ ठोस कदम भी उठाएगी।

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के पंजाब प्रवास के दौरान इन युवकों का पकड़े जाना वह भी गवर्नर शासित जम्मू ओर कश्मीर की पुलिस द्वारा कैप्टन सरकार की मंशाओं ओर नियत पर प्रश्न चिन्ह लगती है।


फोटो ओर ख़बर नरेश शर्मा भारद्वाज, जालंधर:
शहर के एक बड़े शिक्षण संस्थान में बुधवार को काउंटर इंटेलिजेंस, सी.आर्इ.एफ. स्टाफ और जे.एंड.के. की पुलिस ने रेड कर 5 लड़कों को खतरनाक हथियारों सहित गिरफ्तार किया है। ये शिक्षण संस्थान जालंधर शहर से बाहर शाहपुर इलाके का बताया जा रहा है।

संघ प्रमुख की सुरक्षा में जालंधर सील  
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत जालंधर में 3 दिवसीय कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहुंचे हुए है, जिसके चलते पुलिस द्वारा शहर को सील किया गया है।  फिर भी जालंधर में विस्फोटक सामग्री सहित पकड़े गए संदिग्ध जालंधर पुलिस की लापरवाही को दर्शाते है। उक्त संदिग्धों को अमृतसर की काउंटर इंटेलिजेंस टीम, सी.आर्इ.एफ. स्टाफ और जे.एंड.के. की पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर रेड करके  हिरासत में लिया है।

गिरफ्तार छात्रों में 4 मुसलमान और 1 पंजाबी नौजवान शामिल है। सूत्रों अनुसार हिरासत में लिए गए छात्रों के किसी गैंग या किसी आतंकी गतिविधि से जुड़ें होने की आशंका है। छात्रों से AK 47 भी पकड़े जाने की बात सामने आर्इ है लेकिन फिलहाल इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है। पुलिस अब सभी छात्रों को हिरासत में लेकर जांच में जुट गर्इ है। वहीं इस खबर के बाद छात्रों में दहशत का माहौल है।

विडियो: सीटी इंस्टीट्यूट में अब इतनी अधिक सख्ती कर दी गयी है कि पत्रकारों को भी बाहर ही खड़े हो कर संतोष करना पड़ रहा है।  पत्रकार इसी रोष में है कि आतंकवादियों को सुरक्षशित स्वर्ग बनाने वाले इंस्टीट्यूट में उन्हे (पत्रकारों) से कोई मिल कर कुछ भी बताने को तैयार नहीं।

सिटी में पुलिस की बड़ी रेड हुई है. सिटी में जेएंडके पुलिस की तरफ से रेड किए जाने की सूचना है. बताया जा रहा है कि काउंटर इंटेलिजेंस के साथ ज्वाइंट आपरेशन में पुलिस को सूचना था कि जालंधर सिटी में एक गैंग आपरेट हो रहा है. सूचना के आधार पर सिटी के इंस्टीच्यूट में रेड की गई है. बताया जा रहा है कि अब पुलिस पर दबाव है कि इनका लिंक इंस्टीच्यूट से न दिखाया जाए. हालांकि अपुष्ट सूचना है कि उनसे खतरनाक हथियार भी मिले है और राउंडअप युवकों में कश्मीरी भी है.
जालंधर के सिटी इंस्टीच्यूट शाहपुर कैंपस में कुछ संदिग्ध शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके में ब्लास्ट करने की साजिश रच रहे थे। संभवता ये ब्लास्ट दीवाली के आस-पास होनी थी। लेकिन पुलिस ने उनके मंसबूों पर पानी फेर दिया। अमृतसर की काउंटर इंटेलिजेंस, सी.आर्इ.एफ. स्टाफ और जे.एंड.के. की पुलिस ने रेड कर 4 लड़कों को खतरनाक हथियारों सहित गिरफ्तार किया है जबकि 1 व्यक्ति को बस्ती मिट्ठू से हिरासत में लिया गया है। इनके पास करीब 1 किलो आर.डी.एक्स. जैसी विस्फोटक सामग्री भी बरामद की गर्इ है।
पुलिस टीम में शामिल ए.एस.आई. मोहन सिंह के मुताबिक गिरफ्तार किए गए तीनों छात्र मुस्लिम हैं और इनके पास से इटेलियन मेड पिस्टल, 2 मैगजीन, एक AK 47 बरामद की गई है। छात्र दीवाली के करीब बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में थे। आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के लिए 3 थानों की पुलिस सी.आर्इ.ए. थाने पहुंच चुकी है।

पढ़ें क्या बोले डायरैक्टर मनबीर सिंह:
सीटी इंस्टीच्यूट के डॉयरेक्टर मनबीर सिंह ने कहा है कि देर रात पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने मिलने के लिए कहा, जिसके बाद उन्होंने आतंकी साजिश की आशंका जताते हुए होस्टल का दरवाजा खुलवाने की बात कही। मामला देश की सुरक्षा से जुड़ें होने के कारण सीटी इंस्टीच्यूट की मैनेजमेंट ने पुलिस का पूरा सहयोग किया। उन्होंने बताया कि चैकिंग के दौरान पुलिस ने 2 छात्रों के आतंकी गतिविधियों में शामिल होने की बात कही थी लेकिन होस्टल के एक कमरे से 3 मुस्लिम युवकों को गिरफ्तार किया गया।