6 अप्रैल से 14 अप्रैल तक आयोजित होगा माता मनसा देवी चैत्र नवरात्र मेला – उपायुक्त पंचकूला

, 13 मार्च-

पंचकूला में चैत्र मास के दौरान प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले माता मनसा देवी मेले के सफल आयोजन के लिये आज श्री माता मनसा देवी श्र्राइंन बोर्ड कार्यालय में एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। इस बैठक की अध्यक्षता पंचकूला उपायुक्त डाॅ0 बलकार सिंह ने की और बैठक में मुख्य रूप से एस0डी0एम0 पंकज सेतिया, कालका एस0डी0एम0 श्रीमती मनीता मलिक, नगराधीश गगन दीप सिंह, श्री माता मनसा देवी श्राईन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस0पी0 अरोड़ा, ए0सी0पी0 ओम प्रकाश सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। यह मेला 6 से 14 अप्रैल तक आयोजित किया जायेगा और पूरे मेले में पाॅलीथिन के प्रयोग पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे चैत्र नवरात्र मनसा देवी मेले के सफल आयोजन के लिये सभी आवश्यक प्रबंध समय से पूरा कर लें। मेले के दौरान कानून व्यवस्था बनाये रखने, यातायात प्रबंधन तथा भीड़ को नियंत्रित रखने के लिये पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात करने के निर्देश दिये गये। इसके अलावा मेला परिसर में पर्याप्त संख्या में नाके इत्यादि लगाने पर भी चर्चा की गई। माता मनसा देवी मेले के साथ-साथ कालका में आयोजित होने वाले काली माता मंदिर मेला के लिये भी सुरक्षा यातायात व भीड़ प्रबंधन विषय पर चर्चा की गई।

मेला परिसर में सफाई व्यवस्था बनाने पर विशेष बल दिया गया और नगर निगम पंचकूला के अधिकारियों को इस कार्य की जिम्मेदारी सौंपी गई। यह निर्देश दिये गये कि मेले के दौरान प्लास्टिक बैग पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। मेले के दौरान अधिकारी नियमित रूप से दुकानों का निरीक्षण करेंगे और प्लास्टिक बैग का प्रयोग पाये जाने पर नियमानुसार जुर्माना भी किया जायेगा। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को माता मनसा देवी परिसर और काली माता मंदिर कालका में एंबुलेंस, प्राथमिक चिकित्सा, खाद्य पदार्थों का निरीक्षण इत्यादि की जिम्मेवारी सौंपी गई।

मेले में श्रद्धालुओं के सुविधाजनक आवागमन के लिये परिवहन विभाग को अतिरिक्त बसे लगाने तथा सिटी के अधिकारियों को भी मेले के दौरान अतिरिक्त परिवहन सुविधा उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये गये। उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधिकारियों को मेला अवधि के दौरान निर्बाधित बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने, वन्य जीव प्राणी विभाग के अधिकारियों को मेले के दौरान नील गाय, बंदर व इस क्षेत्र में आने वाले अन्य जंगली जीवों से श्रद्धालुओं की सुविधा के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण बागवानी शाखा के अधिकारियों को फूलों की साज सज्जा, अग्नि शमन विभाग के अधिकारियों को फायर सर्विस, मेला परिसर व मंदिर के लिये आने जाने वाले मार्गों की आवश्यक मरम्मत, स्वच्छ पेयजल आपूर्ति, यात्रियों को सूचना देने के लिये प्रसारण केंद्र स्थापित करने, मेला क्षेत्र में पार्किंग की सुविधा उपलब्ध करवाने सहित अन्य जिम्मेवारियां सौंपी गई।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *